For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    राखी सावंत के ख़िलाफ़ मामला दर्ज

    By Jaya Nigam
    |

    राखी सावंत हमेशा विवादों से घिरी रही हैं

    उत्तर प्रदेश पुलिस ने आइटम गर्ल राखी सावंत के खिलाफ उनके शो 'राखी का इन्साफ'में शामिल होने वाले एक युवक को आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा कायम किया है.

    राज्य पुलिस के प्रवक्ता ब्रज लाल ने पत्रकारों को बताया कि मुकदमा झाँसी शहर के प्रेम नगर थाने में मृत युवक लक्ष्मण अहिरवार की माँ सावित्री अहिरवार की शिकायत पर दर्ज किया गया है.

    मुकदमे में राखी सावंत के अलावा तीन और लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है. इनमें दो स्थानीय पत्रकार भी शामिल हैं जो टेलीविजन शो में शामिल करवाने के लिए मुम्बई लेकर गए थे.

    अपमान

    पुलिस ने मामले में अपमानित करने और आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है जिसमें दोष सिद्ध होने पर दस साल तक की सज़ा हो सकती है.

    वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक झांसी ने पुलिस मुख्यालय को भेजी अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मृत युवक की माँ मुकदमा लिखाने के लिए एक प्रतिनिधिमंडल के साथ उनसे मिली थीं.

    शिकायत में कहा गया है कि लक्ष्मण अहिरवार की शादी इसी साल फरवरी में अनीता के साथ हुई थी. लेकिन अनबन के कारण अनीता मायके चली गई.

    शिकायत के अनुसार तीनों अभियुक्तों ने उसके बेटे से संपर्क कर राखी सावंत के कार्यक्रम में शामिल होकर पारिवारिक समस्या निबटाने को कहा.

    यह कार्यक्रम 13 सितम्बर को मुम्बई के गोरेगांव में रिकार्ड हुआ और एन डी टी वी इमेजिन चैनल पर 23 अक्तूबर को प्रसारित हुआ.

    शिकायत के अनुसार कार्यक्रम में राखी सावंत ने लक्ष्मण के लिए अशोभनीय भाषा का इस्तेमाल किया, उसे गाली दी और नामर्द कहा.

    इस तरह सार्वजनिक तौर पर बेइज्ज़त होने से लक्षमण मानसिक रूप से बीमार हो गया और उसकी जीने में रूचि समाप्त हो गई.

    आरोप है कि मानसिक तनाव के चलते बुधवार को लक्ष्मण की मौत हो गई.

    चैनेल की प्रतिक्रिया

    चैनल ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा है कि लक्ष्मण की मौत ज़्यादा शराब पीने के वजह से हुई थी.

    इमेजिन ने एक विक्षप्ति में कहा है,"जहाँ तक हमें पता है कि लक्ष्मण बहुत नशे में घर वापस आया और घर पहुँचने के बाद उसकी तबीयत ख़राब हो गई.

    उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहाँ उनकी मौत हो गई. इस मामले में स्थानीय पुलिस या अस्पताल ने कोई केस दर्ज नहीं किया है जो कि आत्महत्या

    की स्थिति में ज़रुरी है. हम इस आकस्मिक मौत पर अपना दुख प्रकट करते हैं."

    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X