For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    रक्षाबंधन विशेष : मेरे भईया..मेरे चंदा..मेरे अनमोल रत्न

    By अंकुर शर्मा
    |

    रक्षाबंधन केवल धागों का नहीं बल्कि भावनाओं का त्यौहार है। और भावनाओं को पर्दे पर उतारने में बॉलीवुड को महारथ हासिल है। अपनी आंखे बंद कीजिये और याद करिये वो गाना जो पर्दे पर आपको भाई-बहन की नोंक-झोंक और प्यार की याद दिलाये । कुछ को याद आयेगा.. बहना को भाई की कलाई पर...तो कोई गुनगनायेगा ...फूलों का तारों का... जिसको गाते हुए आपकी आंखे खुशी से चमक उठेगी। चेहरे पर एक कोमल मुस्कान अतित के पन्नों में जाकर कुछ मीठी यादों को आंखो के सामने उजागर कर देगी।

    वक्त बदला है, फिल्मों की शैली बदल गयी है। लेकिन आज भी भाई-बहन के रिश्ते की महक ज्यों-त्यों हैं। पहले की फिल्मों में भाई अगर छोटा है तो वो बहन के और बहन अगर छोटी है तो वो भाई के पैर छुआ करती थी लेकिन आज की फिल्मों में भाई-बहन एक साथ हाथ मिलाकर गले लगते हैं। कल तक फिल्में भईया या दीदी से भरी दिखायी देती थी तो आज फिल्मों में 'ब्रो' और 'सिस' का रिवाज है। लेकिन कल भी ये रिश्ता उतना ही चंचल था जितना की आज है।

    कल भी इस रिश्ते की अपनी गरिमा थी तो आज भी ये रिश्ता दिल के बेहद करीब है। काजल फिल्म का वो गाना...जिसमें अपने भाई की राह देखती अभिनेत्री मीना कुमारी गुनगुनाती है कि मेरे भईया..तेरे बदले में जमाने की कोई चीज ना लो.. आज भी दिल को दस्तक और आंखो में नमी देकर जाता है। तो वहीं डेरी मिल्क के एड में भाई-बहन के झगड़े हर किसी को अपनी कहानी याद दिला देते हैं।

    यूं तो बॉलीवुड में कई जोड़ियों ने धमाल मचाया लेकिन कुछ भाई-बहन ऐसे हैं जिन्होंने अपनी सफलता से ना केवल अपने मां-बाप को गौरवान्वित होने का मौका दिया बल्कि भाई-बहन के रूप में एक मिसाल भी कायम की है। जिसमें सबसे पहले नाम आता है कपूर खानदान का ..जहां ऋषि कपूर के साहबजादे रणबीर कपूर और रणधीर कपूर की बेटियों करिश्मा औऱ करीना ने अपने रिश्तों और खानदान की एक नयी तस्वीर लोगों के सामने प्रस्तुत की है । आज भी बॉलीवुड में कपूर खानदान का डंका बज रहा है।

    वहीं सोहा अली खान और सैफ अली खान ने भी अपने नये तरीके से कामयाबी पायी है तो वहीं जावेद अख्तर के बच्चे फरहान और जोया ने लीक से हटकर युवाओं के सामने एक नायाब सूरत पेश की है। भाई बहन की जोड़ी ने साजिद खान और फरहा खान भी काफी जंचते है। लेकिन भाई-बहन के रूप में सबसे कामयाब अगर कोई है तो वो है जितेन्द्र की बेटी एकता कपूर जिसने टीवी का एक नया रूप पेश किया।

    अपने पापा के काम को ना चुनकर और अपना प्रोडक्शन हाउस खोलकर एकता ना आज एक सफल निर्माता और निर्देशक हैं बल्कि वो एक बहुत प्यारी दीदी भी है जिसे उसका छोटा भाई तुषार कपूर तहे दिल से सलाम करता है। तुषार-एकता को बॉलीवुड के लविंग ब्रदर-सिस्टर की उपाधि से नवाजा जा चुका है। तभी तो एकता का हर सीरयल भाई-बहन की एक खूबसूरत तस्वीर पेश करता है। हमारी टीम भी बॉलीवुड, टीवीजगत समेत देश के हर भाई-बहन को रक्षाबंधन की ढ़ेर सारी बधाईयां देती है।

    English summary
    while tying a Rakhi on her brother’s wrist and Bollywood celebrities too, are set to enjoy the fervor of this special festival of Raksha Bandhan.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X