For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मॉब लिंचिंग का शिकार महाभारत की द्रौपदी, कहा- 18 लोगों ने रोड पर पटक-पटक कर मुझे मारा- दर्दनाक

    |

    पालघर के गडचिनचले गांव में चोरी के संदेह में तीन लोगों की भीड़ द्वारा हत्‍या कर दी गई। पुलिस इस दौरान वहीं पर मौजूद रही। मृतकों की पहचान 35 वर्षीय सुशीलगिरी महाराज, 70 वर्षीय चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और 30 वर्षीय निलेश तेलगड़े के रूप में हुई है, निलेश साधुओं का ड्राइवर था।

    जहां इस पूरे मामले पर सोशल मीडिया पर कड़ी प्रतिक्रिया सामने आ रही है। वहीं महाभारत की द्रौपदी रूपा गांगुली ने अपने एक दर्दनाक किस्से का खुलासा किया है।

    जो कि मॅाब लिंचिंग से जुड़ा हुआ है। बंगाल से बीजेपी की राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली ने बताया कि वह भी मॅाब लिंचिंग का शिकार हुई थीं। अपना दर्द जाहिर करते हुए उन्होंने पालघर की घटना पर दुख जाहिर किया है। यहां पढ़िए रूपा का मॅाब लिंचिंग किस्सा..

    पालघर की मॅाब लिंचिंग पर रूपा गांगुली का दर्द

    पालघर की मॅाब लिंचिंग पर रूपा गांगुली का दर्द

    महाभारत शो की द्रौपदी का किरदार रूपा गांगुली ने निभाया। इन दिनों दूरदर्शन पर इसका प्रसारण हो रहा है। लेकिन पालघर की मॅाब लिंचिंग की घटना को देखते हुए रूपा ने खुद के साथ हुई मॅाब की दर्दनाक घटना को याद किया है और इसका दर्द बयान किया है।

    रूपा गांगुली ने महाभारत के चीर हरण सीन को याद कर कहा

    रूपा गांगुली ने महाभारत के चीर हरण सीन को याद कर कहा

    रूपा गांगुली ने अपने ट्विटर अकाउंट से महाभारत का चीरहरण वाला सीन शेयर करते हुए पालघर की घटना पर लिखा है कि हे कृष्ण, हे कृष्ण, हे कृष्ण । मुझे कुछ दिनों से याद आ रहा है कि 22 मई 2016 को डायमंड हार्बर की घटना हुई थी। करीब 18 लोग पुलिस को साथ लेकर मुझे गाड़ी से उतारकर रास्ते में पटक पटक कर मार रहे थे।

    रूपा ने लिखा बस मैं मरी नहीं..

    रूपा ने लिखा बस मैं मरी नहीं..

    उन्होंने आगे लिखा कि गाड़ी में भी तोड़ फोड़ की गई। दो ब्रेन हेमरेज झेलने पड़े। बस मैं मरी नहीं थी। रैली ड्राइवर हूं निकलकर आ गई। इसके बाद रूपा ने पालघर में हुई मॅाब लिंचिंग की घटना पर दुख जाहिर किया है।

    चीर हरण सीन द्रौपदी

    चीर हरण सीन द्रौपदी

    आपको बता दें कि महाभारत में द्रौपदी का चीरहरण सीन दिखा दिया गया है। लेकिन इसकी शूटिंग करना उनके लिए आसान नहीं था।रूपा गांगुली यानी द्रौपदी को शूट से पहले चीर हरण का सीन अच्छी तरह समझाया गया, लेकिन जब शूट शुरू हुआ और डायलॉग बोलने शुरू किए तो वह रोने लगीं। आधे घंटे बाद जब वह चुप हुईं, तब फिर से शूट शुरू हो सका।

    पालघर मॅाब लिंचिंग दो साधुओं की हत्या

    पालघर मॅाब लिंचिंग दो साधुओं की हत्या

    वहीं पालघर मॅाब लिंचिंग दो साधुओं की हत्या के मामले में अब तक 110 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। इनमें से 9 आरोपी नाबालिग बताए जा रहे हैं। आरोपियों ने साधुओं के साथ एक ड्राइवर और पुलिस कर्मियों पर भी हमला किया था।

    फरहान अख्तर, अनुराग कश्यप, अनुपम खेर ने की निंदा

    फरहान अख्तर, अनुराग कश्यप, अनुपम खेर ने की निंदा

    महाराष्ट्र के पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना पर फरहान अख्तर, अनुराग कश्यप, अनुपम खेर समेत बॉलीवुड सितारों ने अपनी प्रतिक्रिया दी है और इसकी निंदा की है। सोशल मीडिया पर लोग इस दर्दनाक और शर्मनाक घटना पर विरोध भी जताया गया और कड़ी सजा की मांग की गई।

    English summary
    palghar Mob Lynching mahabharat draupadi roopa ganguly recalls her horrible Mob incident, Here read full news
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X