For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    पालघर मॉब लिंचिंग: रवीना टंडन का बड़ा कदम, मारे गए 29 साल के ड्राइवर के लिए करेंगी काम !

    |

    पालघर के गडचिनचले गांव में चोरी के संदेह में तीन लोगों की भीड़ द्वारा हत्‍या कर दी गई। मृतकों की पहचान 35 वर्षीय सुशीलगिरी महाराज, 70 वर्षीय चिकणे महाराज कल्पवृक्षगिरी और 29 वर्षीय निलेश तेलगड़े के रूप में हुई है। निलेश साधुओं का ड्राइवर था।ये तीनों लोग मुंबई से सूरत किसी की अंत्‍येष्टि में शामिल होने जा रहे थे।

    इसे लेकर सोशल मीडिया से लेकर न्यूज चैनल और अखबारों में बवाल मचा हुआ है। बॅालीवुड के कई स्टार्स ने भी इस हत्या पर आवाज उठाते हुए इसे बेहद दुखद बताया है। इस मामले में पुलिस ने 110 लोगों को गिरफ्तार भी किया था।

    वहीं इन सभी के नाम भी जारी किए गए थे। लेकिन अब रवीना टंडन ने पालघर मॅाब लिंचिंग के लिए एक अहम कदम उठाया है। उन्होंने ड्राइवर के परिवार की आर्थिक तौर पर मदद करने के लिए लोगों से एकजुट होने की गुजारिश की है। यहां पढ़ें कि रवीना टंडन ने क्या कहा है।

    महाराष्ट्र के पालघर जिले में हुई मॅाब लिंचिंग

    महाराष्ट्र के पालघर जिले में हुई मॅाब लिंचिंग

    महाराष्ट्र के पालघर जिले में हुई मॅाब लिंचिंग की घटना के देश को हिला दिया। लोगों की भीड़ ने मिलकर तीन लोगों की हत्या कर दी। हर तरफ इस घटना की निंदा हो रही है। लेकिन इस बीच जो काम रवीना टंडन ने किया है वो सराहनीय है। उनके इस कदम की तारीफ हो रही है।

    पालघर घटना में मारे गए ड्राइवर निलेश तेलवाडे

    पालघर घटना में मारे गए ड्राइवर निलेश तेलवाडे

    इस घटना की आलोचना करते हुए रवीना टंडन ने पालघर घटना में मारे गए ड्राइवर निलेश तेलवाडे के परिवार की मदद करने के लिए अपील की है। साथ ही दो मारे गए साधुओं को भी इसमें शामिल किया है। उन्होंने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है।

    रवीना टंडन ने अपने ट्वीट में लिखा

    रवीना टंडन ने अपने ट्वीट में लिखा

    रवीना टंडन ने अपनेट्वीट में लिखा है कि टीवी पर बुजुर्ग साधु की हत्या के दृश्य बहुत परेशान कर देने वाला है। शक के आधार पर उन्हें निर्दयता से पीट-पीटकर मार डाला गया। पुलिस वहां क्या कर रही थी? वो बस चले गए थे?

    पालघर मॅाब लिंचिंग में 29 साल के ड्राइवर

    पालघर मॅाब लिंचिंग में 29 साल के ड्राइवर

    रवीना टंडन नेट्वीट कर कहा है कि हम 29 साल के ड्राइवर , जो हाल ही में हुए पालघर लिंचिंग में साधुओं के साथ मारा गया है के लिए फंड जुटा रहे हैं। उसकी दो छोटी लड़की है। कृपया अपना प्रयास करें और मदद करें। रवीना के इस कदम की काफी वाहवाही की जा रही है।

    कोरोना को लेकर रवीना टंडन का पोस्ट

    कोरोना को लेकर रवीना टंडन का पोस्ट

    हाल ही में रवीना ने कोरोना को लेकर भी एक पोस्ट किया था। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट पर लिखा है कि ट्रेन चलने से पहले केबिन को गीले वाइप्स और सेनिटाइजर से कीटाणुरहित कर रही हूं। जिससे हम कंफर्टेबल हो सकें। सॅारी से सुरक्षित रहना अच्छा है। बहुत आवश्यकता होने पर ही यात्रा करें। अपने आस-पास के लोगों की सावधानी और सुरक्षा को सर्वोपरि रखें।

    सोशल मीडिया का फायदा बतया रवीना टंडन ने

    सोशल मीडिया का फायदा बतया रवीना टंडन ने

    इससे पहले रवीना ने सोशल मीडिया के फायदे भी बताए थे। कहा था कि90 के दशक में सबसे दुखद चीज ये थी कि सब सोशल मीडिया नहीं था। तब अखबार और मैगजीन में जो भी छप कर आता था पाठक उस पर यकीन कर लेते थे। किसी के पास अपनी राय को रखने का कोई माध्यम नहीं होता था।

    English summary
    Palghar mob lynching case Raveena tandon raise fund for victim family, Here read full news
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X