For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    पहलाज निहलानी सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पद से बर्खास्त..प्रसून जोशी को मिली जिम्मेदारी

    By Shweta
    |

    CBFC के अध्यक्ष पहलाज निहलानी को उनके पद से बर्खास्त कर दिया गया है और सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन के अध्यक्ष का नया अध्यक्ष गीतकार प्रसून जोशी को बनाया गया है।पहलाज निहलानी ने जब से सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी संभाली थी तब वो लगातार कंट्रोवर्सी के शिकार थे।

    अभिनेत्री विद्या बालन को सेंसर बोर्ड का सदस्य बनाया गया है। निहलानी अपने कार्यकाल में फिल्मों में कट और सर्टिफिकेट को लेकर लगातार फिल्म निर्माताओं के निशाने पर रहे हैं।

    सरकार ने अब बेहद साफ छवि के गीतकार, लेखक और कवि प्रसून जोशी को सेंसर बोर्ड का चीफ बनाया है। आपको बता दें कि पहलाज निहलानी ने अभी महज ढाई साल का कार्यकाल पूरा किया था और इस दौरान सेंसर बोर्ड लगातार निर्माता, निर्देशक, बॉलीवुड स्टार्स और दर्शकों के निशाने पर रही।

    माना जा रहा है कि सेंसर बोर्ड की 24 सदस्यों वाले बोर्ड को भी बदला जा सकता है। आगे की स्लाइड्स पर देखिए किन किन फिल्मों पर सेंसर बोर्ड को समस्या हुई थी।

    इंटरकोर्स शब्द से समस्या

    इंटरकोर्स शब्द से समस्या

    जब हैरी मेट सेजल के मिनी क्लिप के एक डायलोग में इंटरकोर्स शब्द से भी सेंसर बोर्ड को समस्या हुई थी और पहलाज निहलानी ने कहा था कि एक लाख वोट मिलने के बाद ही वो इस शब्द को रहने देंगे। हालांकि इम्तियाज अली ने इसे बदल दिया था।

     लिपस्टिक अंडर माई बुर्का

    लिपस्टिक अंडर माई बुर्का

    अलंकृता श्रीवास्तव की फिल्म लिपस्टिक अंडर माई बुर्का को सेंसर बोर्ड ने पास नहीं किया क्योंकि फिल्म उन्हें असंस्कारी लगी। फिल्म के बारे में उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि फिल्म में महिलाओं को गलत तरीके से पेश किया गया गया। एकता कपूर के डिस्ट्रिब्यूटर बनने के बाद फिल्म रिलीज हो सकी।

    फिल्लौरी

    फिल्लौरी

    फिल्म में एक सीन है जहां फिल्म के हीरो सूरज शर्मा, अनुष्का शर्मा के भूत को देखकर डर जाते हैं। और डर के मारे वो बाथटब में हनुमान चालीसा पढ़ने लगते हैं। लेकिन सेंसर बोर्ड का मानना है कि आप नहाते वक्त हनुमान चालीसा नहीं पढ़ सकते, इसलिए पूरे हनुमान चालीसा वाले सीन को कट करने की मांग की गई है।

    जॉली एलएलबी 2

    जॉली एलएलबी 2

    पूरी की पूरी फिल्म लखनऊ में बनी है लेकिन फिल्म में लखनऊ के ज़िक्र से सेंसर बोर्ड को दिक्कत थी। इसलिए फिल्म में ऐसे कई शब्द बदले गए हैं। होली के गाने में लखनऊ शब्द हटाने की मांग की गई है। वहीं लखनऊ कचहरी में कोई चीज़ टाइम पर हुई है - इस डायलॉग में लखनऊ को लोकल से बदला गया है। ये दिल्ली नहीं लखनऊ है - इस डायलॉग में लखनऊ को अवध से बदला गया था।

    उड़ता पंजाब

    उड़ता पंजाब

    उड़ता पंजाब ड्रग्स पर बनी एक फिल्म है कि कैसे पंजाब में इस कारोबार ने युवाओं की ज़िंदगी बर्बाद कर दी है। लेकिन सेंसर बोर्ड चाहता है कि फिल्म दिखाई जाए...बिना ड्रग्स के...किसी को कुछ समझ आया?

    80 कट

    80 कट

    फिल्म में शाहिद कपूर एक ड्रग एडिक्ट रॉकस्टार का किरदार निभा रहे हैं। और ड्रग डोज़ के बाद नशे में उनकी गालियों से लेकर ड्रग्स के कश खींचने तक की मदहोशी...कुछ भी सेंसर बोर्ड को रास नहीं आ रही। और इसीलिए फिल्म में 80 कट मांगे गए थे। निर्माता निर्देशक मामले को कोर्ट तक ले गए तब फिल्म रिलीज हो पाई।

    रमन राघव 2.0

    रमन राघव 2.0

    इस फिल्म को लेकर सेंसर बोर्ड ने 6 कट की डिमांड की है। इसमें काफी हिंसा है। जबकि फिल्म में नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी का किरदार ही एक बेरहम हत्यारे का है।

    प्रसून जोशी से उम्मीदें

    प्रसून जोशी से उम्मीदें

    इतनी अधिक कंट्रोवर्सी के बाद एक सरकार ने एक साफ छवि के शख्स को चीफ बनाया है जिनसे सभी को काफी उम्मीदें हैं कि वो सीबीएफसी चीफ पद की गरिमा को बनाए रखेंगे।

    English summary
    Pahlaj Nihalani sacked as Censor Board chief lyricist Prasoon Joshi will be new cbfc chief.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X