For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    ऑस्कर 2021 - जल्लीकट्टू ने दीपिका पादुकोण की छपाक सहित 27 फिल्मों को पछाड़ा

    |

    ऑस्कर 2021 में Best Foreign Language Film की कैटेगरी के लिए भेजी जाने वाली फिल्म के लिए मलयालम फिल्म जल्लीकट्टू भारत की ओर से आधिकारिक एंट्री के रूप में चुनी गई है। लेकिन इस चुनाव से पहले जल्लीकट्टू ने लगभग 27 फिल्मों को पछाड़ा जिनमें कई बेहतरीन और कुछ औसत सी हिंदी फिल्में शामिल थीं।

    अगर औसत फिल्मों की बात करें तो इस लिस्ट में दीपिका पादुकोण स्टारर मेघना गुलज़ार की फिल्म छपाक और अमिताभ बच्चन - आयुष्मान खुराना स्टारर शूजित सरकार की गुलाबो सिताबो शामिल थी।

    लेकिन अगर हिंदी फिल्मों की बात करें तो इस लिस्ट में ईब आले ओ, चिंटू का बर्थडे और विद्या बालन स्टारर शकुंतला देवी जैसी शानदार फिल्में भी शामिल थीं। लेकिन इन सब फिल्मों को पछाड़ते हुए अब मलयालम फिल्म जल्लीकट्टू आधिकारिक रूप से ऑस्कर 2021 में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी।

    ऑस्कर के नॉमिनेशन

    ऑस्कर के नॉमिनेशन

    अगर बॉलीवुड की वो सूची देखेंगे जो भारत की ऑस्कर एंट्री थी तो कुछ फिल्में आपको चौंका देगी। वहीं दूसरी बात जो चौंकाएगी वो ये है कि कुछ ऐसी बेहतरीन फिल्में हैं जिनका नाम यहां होना चाहिए लेकिन नहीं है।

    2019

    2019

    साल 2019 में भारत की ओर से ऑस्कर की आधिकारिक एंट्री थी ज़ोया अख्तर की फिल्म गली बॉय। इसे लेकर काफी कंट्रोवर्सी भी हुई कि क्या वाकई गली बॉय 2019 की सबसे अच्छी फिल्म थी?

    2017 - न्यूटन

    2017 - न्यूटन

    साल 2017 में नॉमिनेट हुई थी न्यूटन। फिल्म के डायरेक्टर थे अमित मसूरकर और हीरो थे राजकुमार राव। फिल्म ने लोगों का दिल जीता था और क्रिटिक्स की शाबाशी।

    लायर्स डाईस

    लायर्स डाईस

    2014 में नॉमिनेट हुई थी फिल्म लायर्स डाईस। गीतू मोहनदास की इस फिल्म में गीतांजलि थापा और नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी मुख्य भूमिका में थे।

    2012 - बर्फी

    2012 - बर्फी

    2012 में रणबीर कपूर की बर्फी को ऑस्कर के लिए भारत की आधिकारिक एंट्री चुना गया था।

    2010 - पीपली लाइव

    2010 - पीपली लाइव

    पीपली लाइव एक ठीक ठाक फिल्म थी। बस इससे ज़्यादा और कुछ नहीं। लेकिन अनुषा रिज़वी की इस फिल्म को भारत की ओर से ऑस्कर की आधिकारिक एंट्री के लिए चुना गया।

    2008 - तारे ज़मीन पर

    2008 - तारे ज़मीन पर

    नन्हें दर्शील सफारी से सब इंप्रेस हुए थे और उन्हें ऑस्कर का प्रतिनिधि बनाया गया। लेकिन आमिर खान की ये फिल्म विदेश में दिल नहीं जीत पाई।

    2008 - एकलव्य

    2008 - एकलव्य

    फिल्म बॉक्स ऑफिस पर फ्लॉप थी पर ऑस्कर के लिए क्वालिफाई कर दी गई थी। और इसका कारण था ये कि ऑस्कर कमेटी में फिल्म के डायरेक्टर विधु विनोद चोपड़ा शामिल थे।

    2006 - रंग दे बसंती

    2006 - रंग दे बसंती

    आमिर खान की रंग दे बसंती 2006 में ऑस्कर भेजी गई थी। लेकिन हमारे भगत सिंह और चंद्रशेखर आज़ाद विदेशियों को ज़्यादा इंप्रेस नहीं कर पाए।

    2005 - पहेली

    2005 - पहेली

    शाहरूख खान की फिल्म पहेली भारत की आधिकारिक एंट्री थी। क्यों? क्योंकि इस साल ऑस्कर कमेटी के अध्यक्ष थे पहेली के डायरेक्टर अमोल पालेकर!

    2002 - देवदास

    2002 - देवदास

    2002 में संजय लीला भंसाली की फिल्म देवदास ने इस लिस्ट में जगह बनाई थी।

    2001 - लगान

    2001 - लगान

    2001 में लगान भारत की एंट्री थी जो कि टॉप 5 फिल्मों में नॉमिनेट हुई थी। लोगों को उम्मीद थी कि फिल्म ऑस्कर लेकर ही भारत लौटेगी।

    2000 - हे राम

    2000 - हे राम

    2000 में ऑस्कर के लिए भारत की एंट्री थी कमल हासन, शाहरूख खान और रानी मुखर्जी स्टारर हे राम।

    1947 - द अर्थ

    1947 - द अर्थ

    1999 में नॉमिनेट हुई आमिर खान की अर्थ जो कि एक बेहतरीन फिल्म थी। लेकिन फिल्म ज़्यादा दिल नहीं जीत पाई।

    1994 - बैंडिट क्वीन

    1994 - बैंडिट क्वीन

    1994 में ऑस्कर के लिए भारत की ओर से आधिकारिक एंट्री थी शेखर कपूर की फिल्म बैंडिट क्वीन। ये फिल्म फूलन देवी पर बनी बायोपिक थी।

    रूदाली - 1993

    रूदाली - 1993

    इससे पहले 1993 में डिंपल कपाड़िया स्टारर रूदाली, ऑस्कर के लिए चुनी गई थी। फिल्म अच्छी थी लेकिन विदेश की ज्यूरी का दिल नहीं जीत पाई।

    1991 - हिना

    1991 - हिना

    1991 में भारत की ओर से ऑस्कर के लिए आधिकारिक एंट्री थी ऋषि कपूर स्टारर हिना। क्यों, इसका जवाब हमारे पास भी नहीं है।

    1989 - परिंदा

    1989 - परिंदा

    1989 में विधु विनोद चोपड़ा की फिल्म परिंदा ऑस्कर के लिए भेजी गई। फिल्म में नाना पाटेकर, जैकी श्रॉफ और अनिल कपूर, बेहतरीन किरदारों में थे।

    1988 - सलाम बॉम्बे

    1988 - सलाम बॉम्बे

    1988 में मीरा नायर की फिल्म सलाम बॉम्बे को ऑस्कर के लिए भेजा गया और फिल्म नॉमिनेट भी हुई।

    पहली एंट्री

    पहली एंट्री

    भारत की ओर से ऑस्कर भेजी जाने वाली पहली फिल्म थी मदर इंडिया। महबूब खान की इस फिल्म ने आखिरी पांच फिल्मों के नॉमिनेशन में अपनी जगह भी बनाई थी। फिल्म के लिए भानु अथैयार ने कॉस्ट्यूम डिज़ाइनिंग के लिए भारत का पहला ऑस्कर जीता था।

    English summary
    Jallikattu is the official entry to oscars 2020 after beating films like Chhapaak and Shakuntala Devi.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X