For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    ''200 साल के बाद दर्शकों को केवल सलमान खान की फिल्में ही देखने ना को मिले..''

    |

    हाल ही में एक इवेंट के दौरान दमदार अभिनेता नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि वह नहीं चाहते कि दर्शक जब पीछे मुड़कर देखें तो बॉलीवुड को केवल सलमान खान की फिल्मों के दौर की तरह ही देखें। लोगों को पता होना चाहिए कि साल 2018 में भारत का सिनेमा किस तरह का था। ऐसा न हो कि 200 साल बाद उन्हें केवल सलमान खान की फिल्में ही देखने को मिले। हो सकता है कि नसीरुद्दीन शाह का यह बयान सलमान खान फैंस के गले ना उतरे।

    2020 दिवाली धमाका- वरूण धवन करेंगे जबरदस्त 'हॉलीवुड स्टाइल' एक्शन

    नसीरुद्दीन शाह ने आगे कहा कहा, सिनेमा आगे आने वाली पीढ़ियों के लिए होता है। समाज के लिए सिनेमा को बेहतर बनाने की जिम्मेदारी हमारी है। मेरा मानना है कि सिनेमा समाज को नहीं बदल सकता और न ही कोई क्रांति ला सकता है। सिनेमा शिक्षा का भी माध्यम नहीं है। डॉक्यूमेंटरी शिक्षाप्रद हो सकती हैं लेकिन फीचर फिल्में यह काम नहीं कर सकतीं।

    एक्टर ने अपनी फिल्मों पर बात करते हुए कहा, 'ए वेडनस्डे और फिराक़ जैसी फिल्मों का हिस्सा बनने को मैं अपनी जिम्मेदारी मानता हूं। मेरे सभी गंभीर काम उस दौर का प्रतिनिधित्व करते हैं। सिनेमा हमेशा रहेगा। इन फिल्मों को 200 साल के बाद भी देखा जाएगा। मैंने डेब्यू डाइरेक्टर्स के साथ कई बार काम किया है.. और मुझे इससे कोई गुरेज़ नहीं।'

    बहरहाल, सलमान खान की फिल्मों के अलावा भी 2018 में कई ऐसी फिल्में आई हैं.. जो लीक से हटकर थी लेकिन दर्शकों ने फिल्म को बेहद पसंद किया। वहीं, कई एक्टर्स भी हैं जो कुछ अलग करने की चाह रखते हैं।

    हिचकी

    हिचकी

    रानी मुखर्जी की इस फिल्म को ना सिर्फ भारत में बल्कि दुनियाभर में काफी पसंद किया जा रहा है। फिल्म का कंटेंट इमोशनल होने के साथ काफी दमदार है।

    राज़ी

    राज़ी

    फीमेल लीड के साथ बॉलीवुड की काफी कम फिल्मों ने ही इतनी बेजोड़ सफलता पाई है। आलिया भट्ट की इस फिल्म ने अपने कंटेंट के दम पर 100 करोड़ से ऊपर की कमाई की है।

    पैडमैन

    पैडमैन

    अक्षय कुमार जैसे सुपरस्टार कभी सैनेटरी पैड्स आधारित फिल्म करेंगे.. ऐसा किसने सोचा था। इसे समय का बदलाव ही कहा जाएगा। फिल्म को काफी पसंद किया गया।

    स्त्री

    स्त्री

    कॉमेडी और हॉरर का ऐसा कॉम्बिनेशन बॉलीवुड में शायद पहली बार ही देखा गया। यही नतीजा है की फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर राज किया।

    सुई धागा

    सुई धागा

    वरूण धवन और अनुष्का शर्मा की यह फिल्म मेक इन इंडिया की जागरुकता के लिए थी.. साथ ही काफी मनोरंजक भी।

    बधाई हो

    बधाई हो

    इस लिस्ट में आयुष्मान खुराना की फिल्में तो शामिल होंगी हीं.. हालिया रिलीज बधाई हो एक ऐसे टॉपिक पर बनी थी.. जिसे शायद पहले किसी निर्देशक ने नहीं सोचा होगा। फिल्म रिलीज हुई और सुपरहिट भी।

    अंधाधुन

    अंधाधुन

    2018 की बेस्ट संस्पेंस थ्रिलर फिल्म.. या कह सकते हैं पिछले कुछ सालों की बेस्ट संस्पेंस थ्रिलर।

    English summary
    Naseeruddin Shah said that he would not want the audience to look back at 2018 as a phase of only Salman Khan’s kind of films.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X