For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'पहले सिर्फ वर्जिन एक्ट्रेस को कास्ट किया जाता था, जिसने कभी kiss भी ना किया हो'- महिमा चौधरी का खुलासा

    |

    सुभाष घई की फिल्म परदेस के साथ साल 1997 में बॉलीवुड में कदम रखने वालीं एक्ट्रेस महिमा चौधरी ने पुराने दिनों को याद करते हुए कई बड़े खुलासे किये हैं। अभिनेत्री ने कहा कि आज कलाकारों के लिए स्थिति बहुत बदल चुकी है, खासकर महिला कलाकारों के लिए.. लेकिन पहले के समय में ऐसा नहीं था।

    हिंदुस्तान टाइम्स से बात करते हुए महिमा चौधरी ने कहा कि इंडस्ट्री अब उस स्तर पर जा रही है, जहां महिला अभिनेत्रियों को अच्छा मौका दिया जा रहा है। उन्हें बेहतर पेमेंट्स और एंडोर्समेंट मिल रही है और वे बहुत पावरफुल पॉजिशन में है। उनके पास पहले से ज्यादा लंबी और अच्छी जिंदगी है।

    नेटफ्लिक्स ने की कार्तिक आर्यन स्टारर 'धमाका' के रिलीज डेट की घोषणानेटफ्लिक्स ने की कार्तिक आर्यन स्टारर 'धमाका' के रिलीज डेट की घोषणा

    एक्ट्रेस ने बताया कि जब उन्होंने इंडस्ट्री में कदम रखा था, तब एक्ट्रेसेज़ की पर्सनल लाइफ को काफी तवज्जो दी जाती थी। उनकी पर्सनल लाइफ का प्रमोशनल लाइफ पर बहुत प्रभाव पड़ता था।

    महिमा चौधरी ने कहा, "जैसे ही आप किसी को डेट करना शुरू करते थे, लोग आपका करियर खत्म हुआ मान लेते थे। क्योंकि तब इंडस्ट्री में सिर्फ वर्जिन हीरोइनों की मांग थी, जिन्होंने किस तक नहीं किया हो। अगर आप शादीशुदा हैं.. तब तो फिर ये सब भूल जाइए। आपका करियर खत्म है। और अगर आपको बच्चा है, तो करियर पूरी तरह खत्म हो जाता था।"

    अभिनेता भी छिपाते थे पर्सनल लाइफ

    अभिनेता भी छिपाते थे पर्सनल लाइफ

    उन्होंने कहा किसिर्फ अभिनेत्रियां ही नहीं बल्कि अभिनेताभी पहले अपनी पसर्नल लाइफ के बारे में बहुत कुछ छिपाते थे।फिल्म की रिलीज होने के बाद या फिर सालों बाद उनकी पसर्नल लाइफ के बारे में पता चलता था।

    आमिर खान, गोविंदा के शादी की किसी को खबर नहीं थी

    आमिर खान, गोविंदा के शादी की किसी को खबर नहीं थी

    एक्ट्रेस ने कहा, "जब क़यामत से क़यामत तक रिलीज़ हुई थी, तब भी हमें नहीं पता था कि आमिर खान शादीशुदा हैं। गोविंदा की शादी को लेकर भी किसी को जानकारी नहीं थी। लोग उनके बच्चों की तस्वीरें नहीं छापते थे क्योंकि अगर उनके बच्चों की तस्वीरें बाहर आ गईं, तो लोगों को उनकी उम्र पता लग जाएगी। ये सारी चीज़ें अब बदल गई हैं।"

    समय बदल गया है

    समय बदल गया है

    उन्होंने आगे कहा,"पहले आपको दो चीज़ों में से चुनाव करना पड़ता था.. करियर या पर्सनल लाइफ। लेकिन आज के समय में ऐसा नहीं है। अब लोग महिलाओं को अलग-अलग रोल्स में स्वीकार करने लगे हैं। पत्नी या मां बनने के बाद भी आप रोमांटिक रोल्स कर सकती हैं।"

    महिमा का बॉलीवुड करियर

    महिमा का बॉलीवुड करियर

    महिमा ने साल 1997 में सुभाष घर की फिल्म 'परदेस' से बॉलीवुड में कदम रखा था। इस फिल्म में वो शाहरुख खान के साथ नजर आई थीं और यह फिल्म सुपरहिट रही थी।

    फिर उन्होंने 'दिल क्या करे', 'लज्जा', 'धड़कन', 'दीवाने', 'दिल है तुम्हारा', 'ओम जय जगदीश' जैसे कई फिल्में की थीं।

    भयंकर एक्सीडेंट के बाद बॉलीवुड से दूरी

    भयंकर एक्सीडेंट के बाद बॉलीवुड से दूरी

    साल 2007 में उनका एक भयंकर कार एक्सीडेंट के साथ सामना हुआ था, जिसके बाद वो फिल्म इंडस्ट्री से दूर होती चली गईं। महिमा चौधरी आखिरी बार 2016 में बंगाली क्राइम थ्रिलर 'डार्क चॉकलेट' में नजर आईं थीं।

    English summary
    Actress Mahima Chaudhry talks about the times when she had stepped into the film industry. She says filmmakers would only want virgin actresses who had not even kissed, but things have changed for better now, especially for women.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X