»   » #SAD: मैं जेल में था और मेरे घर पर झूठ बोलना पड़ता था!

#SAD: मैं जेल में था और मेरे घर पर झूठ बोलना पड़ता था!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

संजय दत्त का जेल कांड खत्म हो चुका है और वो बॉलीवुड में अपने कमबैक के लिए तैयार हैं। इस समय वो भूमि का प्रमोशन कर रहे हैं, जो उनकी कमबैक फिल्म है और दर्शकों को उन्हें स्क्रीन पर देखने का काफी मन है। 

संजय दत्त ने फिल्म प्रमोशन के दौरान अपने जेल के दिनों की बात करते हुए बताया कि जब वो जेल में थे तो मान्यता उनके बच्चों को झूठ बोलती थीं कि पापा पहाड़ों पर शूटिंग कर रहे हैं। 

maanayata-used-lie-my-kids-that-i-m-away-shooting-the-mountains-sanjay-dutt

गौरतलब है कि संजय दत्त और मान्यता के जुड़वा बच्चे हैं - शाहरान और इकरा। दोनों ही जब पापा को जेल जाते देख रहे थे तो उनका रो रोकर बुरा हाल था।

गौरतलब है कि 25 फरवरी 2016 को संजय दत्त जेल अपनी सज़ा काट कर जेल से बाहर आ चुके हैं। हम आपको याद दिलाते हैं, जेल से निकलते ही संजय दत्त के 10 बयान -

मीडिया से की गुज़ारिश

मीडिया से की गुज़ारिश

संजय दत्त ने मीडिया से गुज़ारिश करते हुए कहा कि मेरा नाम संजय दत्त है और मैं आतंकवादी नहीं हूं। मैं टाडा कोर्ड से बाइज्ज़त बरी हुआ हूं। मैं आर्म्स एक्ट में आरोपी था और उसकी सजा काट चुका हूं। जब भी मेरे बारे में कुछ बोले तो 1993 के बम धमाकों में मेरा जिक्र नहीं करे।

23 साल से इंतज़ार

23 साल से इंतज़ार

मुझे सबसे ज्‍यादा राहत उस वक्‍त मिली, जब कोर्ट ने कहा कि तुम आतंकी नहीं है। मेरे पिता सारी जिंदगी यह बात सुनना चाहते थे। मैं उन्‍हें मिस किया। 23 साल से मैं बस इस दिन का इंतज़ार कर रहा था।

पत्नी को सौंप दी कमाई

पत्नी को सौंप दी कमाई

मैं जेल में जो 440 रुपए कमाए वो एक अच्छा पति होने के नाते मैंने अपनी पत्नी को दे दिए। मान्यता मेरी ताकत हैं। वो बेटर हाफ नहीं, बेस्ट हाफ हैं।

इसलिए किया सलाम

इसलिए किया सलाम

मुझे भारतीय होने का गर्व है। इसलिए ही र्मैंने बाहर आने के बाद जमीन को चूमा और तिरंगे को सलाम किया। मैं हिंदुस्तान की धरती से प्यार करता हूं। वो तिरंगा मेरी जिंदगी है।

छोटा भाई सलमान

छोटा भाई सलमान

सलमान मेरा छोटा भाई है और हमेशा रहेगा मै उसके लिए हमेशा प्रार्थना करुंगा कि वह इससे बड़ा स्टार बने। जेल के भीतर गोटिया मामा, नरेंद्र भाई जैसे कई दोस्त बने वह मेरे लिए काफी बढ़कर हैं।

नहीं मिले पैसे

नहीं मिले पैसे

अपनी बायोपिक का एक सीन मैं शूट कर चुका हूं। शूटिंग के लिए मुझे साइनिंग अमाउंट नहीं दिया गया। आजाद आदमी की तरह पर मैं अपने बच्चों और परिवार के साथ समय बिताना चाहता हूं और अपने काम को फिर से शुरु करना चाहता हूं।

कल से सोया नहीं हूं

कल से सोया नहीं हूं

मैंने चार दिन से कुछ खाया नहीं है और ना ही कल रात से सोया नहीं हूं। मेरे दिमाग में यही चल रहा था कि अब मैं परिवार के साथ रहूंगा और अब कभी वापस जेल नहीं आउंगा। यही सोचकर सो नहीं सका।

इसलिए कब्र पर गया

इसलिए कब्र पर गया

मेरी मां मुझे बहुत ही कम उम्र में छोड़कर चली गईं। यह मेरी जिम्मेदारी थी कि उन्हें बताऊं कि अब मैं आजाद हूं। इसलिए मैं उनकी कब्र पर गया।

अभी तक पैरोल पर हूं

अभी तक पैरोल पर हूं

मुझे पता है कि मुझे खुद को यह समझाने में वकत लगेगा कि मैं आजाद हो चुका हूं। लगता है कि पैरोल पर ही हूं और आज़ादी की राह वाकई इतनी आसान नहीं होती है।

Sanjay Dutt REACTS on Pradyuman case; Watch Video | FilmiBeat
English summary
Maanayata used to lie to my kids that I'm away shooting in the mountains - Sanjay Dutt.
Please Wait while comments are loading...