For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मेरा स्वभाव ऐसा ही है, कुछ गलत होता है तो मैं भिड़ जाती हूं, बर्दाश्त नहीं करती- कंगना रनौत

    |

    कंगना रनौत इस समय फिल्म पंगा के प्रमोशन को लेकर काफी ज्यादा बिजी हैं। इस फिल्म के ट्रेलर को लेकर लगातार चर्चा हो रही है और लोगों ने इसको काफी ज्यादा पसंद किया है। बता दें कि ये फिल्म उस महिला पर आधारित है जो कि शादी के बाद फिर से अपना करियर एक कबड्डी प्लेयर की तरह शुरु करना चाहती है लेकिन उसकी उम्र को लेकर लोग उसपर तानाकशी करते हैं। हालांकि उनका बेटा और पति उसको सपोर्ट करता है।

    दीपिका पादुकोण ने टिक-टॉक पर डाला ऐसा वीडियो- कंगना रनौत बोलीं माफी मांगनी चाहिए!दीपिका पादुकोण ने टिक-टॉक पर डाला ऐसा वीडियो- कंगना रनौत बोलीं माफी मांगनी चाहिए!

    इस फिल्म में कंगना रनौत के अलावा ऋचा चड्ढा, जस्सी गिल और नीना गुप्ता लीड रोल में हैं। फिल्म को अश्विनी अय्यर तिवारी ने निर्देशित किया है जो कि काफी शानदार फिल्म बनाने के लिए मशहूर हैं।

    फिल्म पंगा को लेकर हाल ही एक प्रेस कॉफ्रेंस में कंगना रनौत ने मीडिया से बात करते हुए उनके सवालों के जवाब दिए हैं जो कि काफी शानदार है। डालिए एक नजर..

    क्या आपने स्कूल या कॉलेज में कबड्डी खेली है, अगर नहीं तो इस किरदार के लिए तैयारी कैसे की?

    क्या आपने स्कूल या कॉलेज में कबड्डी खेली है, अगर नहीं तो इस किरदार के लिए तैयारी कैसे की?

    मैने कभी नहीं खेला है लेकिन मुझे कबड्डी काफी पसंद है। वैसे कबड्डी आसान है, ज्यादा आपको सीखना नहीं पड़ता है लेकिन इस फिल्म में मुझे प्रोफेशनल कबड्डी प्लेयर बनना था तो ट्रेनिंग लेनी पड़ी। बस उसकी कुछ तकनीक चीजें सीखीं।

    फिल्म में एक डायलॉ़ग है कि कबड्डी वालों को कौन याद रखता है, तो क्या आपको ऐसा डर रहता है कि कभी आपको भुला दिया जाएगा?

    फिल्म में एक डायलॉ़ग है कि कबड्डी वालों को कौन याद रखता है, तो क्या आपको ऐसा डर रहता है कि कभी आपको भुला दिया जाएगा?

    मेरा ये मानना है.. जरूरी नहीं है कि आपने जो कुछ भी जीने के लिए किया है उसके लिए आपको याद किया जाए। वो कहते हैं ना.. मैं पल दो पल का शायर हूं, पल दो पल मेरी कहानी है। ऐसे ही आप जो हैं उसके लिए आपको लोग याद रखते हैं।

    आप बहुत बेबाक हैं, किसी के सपोर्ट में भी बोल देतीं और अपनी बात रखती हैं। इतना आत्मविश्वास कहां से आता है?

    आप बहुत बेबाक हैं, किसी के सपोर्ट में भी बोल देतीं और अपनी बात रखती हैं। इतना आत्मविश्वास कहां से आता है?

    अपना अपना स्वभाव होता है, मैं थोड़ा अग्रेसिव स्वभाव की हूं। बेबाक भी मै बचपन से ही हूं, मेरा व्यक्तित्व ही ऐसा है। मैने सात साल की उम्र में घर छोड़ दिया था और कुछ गलत होता है मैं उसको टाल नहीं सकती। मैं भिड़ जाती हूं उस बात को लेकर.. तो यही मेरा नेचर है।

    सुनने में आया है कि इस फिल्म के बाद आप जिंदगी का सबसे बड़ा पंगा लेने जा रहीं हैं, आप शादी करने वाली हैं?

    सुनने में आया है कि इस फिल्म के बाद आप जिंदगी का सबसे बड़ा पंगा लेने जा रहीं हैं, आप शादी करने वाली हैं?

    (हंसते हुए) ऐसा कुछ नहीं है, आप ऐसी अफवाहें क्यों फैला रहे हो। मैंने अपनी जिंदगी में काफी संघर्ष देखा है और अभी तो मैं सेटल हुई हूं.. मुझे अभी एंजॉय करने दो। पति और बच्चे काफी ज्यादा एनर्जी लेते हैं.. बहुत मगजमारी लेते हैं.. टाइम भी लेते हैं। तो अभी थोड़ा ब्रेक है।

    डायरेक्टर्स को लेकर आपके पंगों की काफी ज्यादा खबरें पहले आ चुकी हैं तो इस बार पंगा फिल्म सही से निपटी या फिर इसमें भी कुछ पंगा है?

    डायरेक्टर्स को लेकर आपके पंगों की काफी ज्यादा खबरें पहले आ चुकी हैं तो इस बार पंगा फिल्म सही से निपटी या फिर इसमें भी कुछ पंगा है?

    (हंसते हुए) इतना ज्यादा मीडिया ने उसको बढ़ाया था तो उसके लिए मैं आप लोगों को ही जिम्मेदार ठहराती हूं। पंगा कुछ नहीं था, मेरे डायरेक्टर फिल्म को आधी छोड़कर चले गए थे जिसको मैने पूरा किया था। अगर मैने किसी चीज में सहायता की है तो उसके लिए मेरा सम्मान होना चाहिए। मुझे तो लोगों को जिम्मेदार की तरह देखना चाहिए लेकिन मुझे नाकारत्मक छवि मिली।

    इस फिल्म से पहले आपने ऐसी फिल्में नहीं की हैं तो इस फिल्म का सबसे मुश्किल पार्ट क्या था?

    इस फिल्म से पहले आपने ऐसी फिल्में नहीं की हैं तो इस फिल्म का सबसे मुश्किल पार्ट क्या था?

    मेरा मानना है कि इस फिल्म में मैं मां बनी हूं और वो सबसे मुश्किल था। क्योंकि इस उम्र में मैं एक मां का किरदार निभा रही हूं। इस बात का अनुभव लाना और इतने बड़े बच्चे की मां तरह अभिनय करना मुश्किल रहा।

    कबड़्डी आपके लिए किस तरह के फिजिकल चैलेंज लेकर आई थी?

    कबड़्डी आपके लिए किस तरह के फिजिकल चैलेंज लेकर आई थी?

    कबड्डी तो फिजिकली काफी मुश्किल होती है क्योंकि ये एक दंगल की तरह की होती है। कोई भी आप पर अटैक कर देता है, आपको रगड़ देता है। दिक्कत तो थी लेकिन मणिकर्णिका के जितनी नहीं थी क्योंकि वो तो एक वॉर फिल्म थी। उसमें घोड़े, युद्ध और भी कई मुश्किल चीजें थीं।

    English summary
    Actress Kangana ranaut looking awesome during Panga Press Conference. she talks about film Panga, marriage and controversies.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X