For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सुपरस्टार्स के बाद, अब स्टारकिड्स पर कंगना रनौत ने मारा ताना, कहा- उबले अंडे की तरह दिखते हैं

    |

    साउथ और हिंदी सिनेमा को लेकर लगातार बातें हो रही है। एक के बाद एक कई कलाकारों ने इस बारे में अपना पक्ष रखा है। अब इस मामले पर कंगना रनौत का बयान भी सामने आया है। हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान जब उनसे साउथ और हिंदी सिनेमा को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने इसका कारण स्टारकिड्स को माना और उन पर तंज कसा।

    Kangana Ranaut उतरी South vs Bollywood की बहस में, Starkids को सुनाई खरी-खोटी | FilmBeat

    कंगना रनौत बॉलीवुड में नेपोटिज्म को लेकर हमेशा मुखर रही हैं। यहां भी उन्होंने स्टारकिड्स पर तंज कसते हुए कहा,दर्शक स्टार किड्स को पसंद नहीं करते हैं। उन्हें फिल्में मिल जाती हैं क्योंकि वो स्टार फैमिली से आते हैं। लेकिन स्टार किड्स अपने फैंस से, दर्शकों से कनेक्ट नहीं कर पाते हैं।

    कंगना रनौत ने अक्षय कुमार, अजय देवगन से लेकर अमिताभ बच्चन पर कसा तंजकंगना रनौत ने अक्षय कुमार, अजय देवगन से लेकर अमिताभ बच्चन पर कसा तंज

    कंगना ने कहा कि जिस तरह जिस तरह साउथ के स्टार अपने दर्शकों से जुड़ाव रखते हैं.. जैसे दर्शक उनके रिलेट कर पाते हैं, वैसा यहां नहीं है। बॉलीवुड स्टार के बच्चे इसमें फेल हो जाते हैं। बॉलीवुड स्टार के बच्चे पढ़ने विदेश जाते हैं, सिर्फ अंग्रेजी बोलते हैं, उनका उच्चारण भी वैसा ही हो जाता है.. हॉलीवुड फिल्में देखते हैं। ऐसे में वो कभी दर्शकों से कनेक्ट ही नहीं हो पाते हैं।

    उबले अंडे जैसे दिखते हैं स्टारकिड्स

    उबले अंडे जैसे दिखते हैं स्टारकिड्स

    कंगना ने आगे कहा, "ये देखने में भी अजीब से लगते हैं.. जैसे उबले हुए अंडे। उनका पूरा लुक भी काफी बदला हुआ होता है, तो लोग कैसे रिलेट करेंगे। मैं किसी को ट्रोल नहीं करना चाहती.. लेकिन यही बात है।"

    पुष्पा से लोग रिलेट कर पा रहे थे

    पुष्पा से लोग रिलेट कर पा रहे थे

    एक्ट्रेस ने उदाहरण देते हुए कहा कि पुष्पा में अल्लू अर्जुन का लुक वैसा था, जैसे मजदूर का होता है, हर गरीब, हर मजदूर उससे जुड़ पा रहा है। उन्होंने कहा कि यही सब वजह है जो साउथ की फिल्मों को ब्लॉकबस्टर बनाती है।

    साउथ सिनेमा संस्कृति से जुड़ा है

    साउथ सिनेमा संस्कृति से जुड़ा है

    कंगना ने कहा, "बताइए आज के समय में हमारा कौन सा हीरो एक मजदूर की तरह लग सकता है? वे नहीं कर सकते। तो, उनकी संस्कृति और उनका जमीनी स्तर उन्हें दर्शकों से जोड़ रहा है। मुझे उम्मीद है कि साउथ सिनेमा हॉलीवुड से प्रेरणा लेना शुरू नहीं करेंगे। अपने देश के लोगों से जुड़े रहना जरूरी है।"

    धाकड़ रिलीज

    धाकड़ रिलीज

    बता दें, कंगना रनौत इन दिनों धाकड़ के प्रमोशन में व्यस्त हैं। रजनीश घई के निर्देशन में बनी ये फिल्म 20 मई को सिनेमाघरों में रिलीज हो रही है। फिल्म में कंगना के साथ अर्जुन रामपाल, दिव्या दत्ता जैसे कलाकार दिखेंगे।

    English summary
    Kangana Ranaut has again targeted star kids, saying that their lack of relatability with the audience is what is causing Hindi films to lose to South cinema.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X