For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    आमिर खान, नसीरूद्दीन शाह को देश में डर लगा था तो उन्हें किसी ने ह****** क्यों नहीं कहा - कंगना रनौत

    |

    कंगना रनौत ने हाल ही में मुंबई पुलिस पर प्रश्न उठाते हुए कहा था कि क्या वो मुंबई में सुरक्षित रह पाएंगी। इसके बाद उन पर शिव सेना लीडर संजय राउत ने धावा बोल दिया। लेकिन संजय कंगना पर बोलते बोलते अपनी मर्यादा भूल गए।

    संजय राउत ने कंगना रनौत को हरामखोर कहा। इसके बाद हर तरफ उनकी कड़ी आलोचना हुई और सबने उनसे माफी मांगने को

    भी कहा।

    हालांकि संजय राउत ने साफ किया कि वो माफी तभी मांगेंगे जब कंगना रनौत माफी मांगेंगी। वहीं संजय राउत की बात का समर्थन करते हुए, महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने भी कहा कि कंगना का मुंबई पुलिस के बारे में इस तरह की बातें करना बिल्कुल गलत है।

    संजय राउत ने यहां तक कहा कि कंगना रनौत को मुंबई छोड़ देना चाहिए। जिसपे कंगना गरज कर बोलीं कि मुंबई किसी के बाप का नहीं है। अब कंगना ने संजय राउत के हरामखोर बयान का भी दो टूक जवाब दिया है -

    आप देश की हालत जानते होंगे

    आप देश की हालत जानते होंगे

    संजय राउत जी आपने मुझे कहा कि मैं एक हरामखोर लड़की हूं। आप एक सरकारी मुलाज़िम हैं, मंत्री हैं, आप तो जानते ही होंगे कि इस देश में हर दिन नहीं, हर घंटे, कितनी लड़कियों का बलात्कार हो जाता है, कितनी लड़कियों का शोषण किया जा रहा है, उनका शरीर काट के एसिड डाल के फेंक दिया जा रहा है, उनके काम की जगह पर उन्हें गालियां दी जा रही हैं, उनका अपमान किया जा रहा है।

    भौंडी मानसिकता का प्रदर्शन

    भौंडी मानसिकता का प्रदर्शन

    उनके खुद के पति, उनके कान, नाक, मुंह, जबड़े तोड़ रहे हैं। और आपको पता है इसका ज़िम्मेदार कौन है? इसका ज़िम्मेदार है ये मानसिकता, आपने जिसका भौंडा प्रदर्शन पूरे समाज के सामने, पूरे देश के सामने किया है, वो मानसिकता इसकी ज़िम्मेदार है। इस देश की बेटियां आपको माफ नहीं करेगी संजय जी।

    आमिर खान को क्यों नहीं कहा?

    आमिर खान को क्यों नहीं कहा?

    आपने उन सब महिलाओं का शोषण करने वालों का सशक्तिकरण किया है। इस देश की बेटियां आपको माफ नहीं करेंगी। और जब आमिर खान जी ने कहा था कि मुझे इस देश में डर लगता है, तब उनको किसी ने हरामखोर नहीं कहा। या जब नसीरूद्दीन शाह जी ने कहा था, तब उनको किसी ने हरामखोर नहीं कहा था।

    लाचार कर दिया है

    लाचार कर दिया है

    जो मुंबई पुलिस की मैं तारीफ करते हुए नहीं थकती थी आप देख लीजिए मेरे पुराने कोई भी इंटरव्यू। आज जब वो पालघर में साधुओं की हत्या होते देख रहे हैं और कुछ करते नहीं हैं। या एक लाचार बाप जो सुशांत के पिता हैं जिनकी स्टेटमेंट नहीं लेते हैं। या मेरी स्टेटमेंट नहीं लेते हैं।

    अभिव्यक्ति की आज़ादी है

    अभिव्यक्ति की आज़ादी है

    इस प्रशासन के चलते हुए अगर मैं उसकी निंदा करती हूं ये मेरी अभिव्यक्ति की आज़ादी है। मैं उनकी निंदा करती हूं। संजय जी मैं आपकी निंदा करती हूं, आप महाराष्ट्र नहीं हैं। आप ये नहीं कह सकते कि मैंने महाराष्ट्र की निंदा की है।

    आप मार के दिखाईए

    आप मार के दिखाईए

    और संजय जी मैं 9 सितंबर को आ रही हूं और आपके लोग कह रहे हैं कि आप मेरा जबड़ा तोड़ेंगे, आप लोग मुझे मार डालेंगे। आप लोग मुझे मारिए क्यों, क्योंकि इस देश की जो मिट्टी है वो ऐसे ही खून से सींचकर बनी है।

    जय महाराष्ट्र

    जय महाराष्ट्र

    इस देश की गरिमा और अस्मिता के लिए ना जाने कितने लोगों ने जान दी है और हम भी देंगे संजय जी। हम भी देंगे। क्योंकि हमको भी इस मिट्टी का कर्ज़ चुकाना है। मिलते हैं 9 सितंबर को। जय हिंद, जय महाराष्ट्र।

    English summary
    Kangana Ranaut asks Sanjay Raut why he did not call Aamir Khan Haramkhor when he felt insecure in this country. She claims that women of this country will not forgive him.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X