For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'नोटबंदी से भी बड़ा झटका है लॉकडाउन'- PM मोदी से कमल हासन, कहा- गुस्से में हूं

    |

    कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते भारत सरकार ने 14 दिन का लॉकडाउन लगाया हुआ है। लॉकडाउन में दिहाड़ी मजदूर और वर्कर को तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। देश की इन परिस्थितियों पर अभिनेता कमल हासन ने चिंता व्यक्त की। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से गरीबों के लिए मदद की अपील की। साथ ही जीडीपी समेत कई मुद्दों पर प्रकाश डाला। कमल हासन का ये ओपन लेटर ट्विटर पर खासा वायरल हो रहा है।

    कनिका कपूर की कोरोना की कहानी: पूरा मामला, लंदन से लखनऊ तक, कैसे बनीं सिरदर्द- मचा हड़कंपकनिका कपूर की कोरोना की कहानी: पूरा मामला, लंदन से लखनऊ तक, कैसे बनीं सिरदर्द- मचा हड़कंप

    कमल हासन ने पीएम मोदी को लेटर लिखा और लॉकडाउन से जुड़ी तमाम परेशानियों को उजागर किया। उन्होंने लॉकडाउन के प्रति गुस्सा जाहिर करते हुए गरीबों के हक की बात की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लॉकडाउन के निर्णय से वह असतुंष्ट नजर आए। उन्होंने इसे नोटबंदी से भी जोड़ा।

    बता दें कमल हसन की पॉलिटिकल पार्टी मक्कल निधि माईम भी कोरोना के खिलाफ लोगों की मदद कर रही है। उन्होंने अपने घर को अस्पताल में तब्दील करने के लिए भी कहा था।

    पीएम मोदी को लिखा पत्र

    पीएम मोदी को लिखा पत्र

    कमल हासन ने पत्र में लिखा, लॉकडाउन से देशभर के गरीबों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। गरीब इस समय सबसे ज्यादा परेशान है। मीडिल क्लास फैमिली ने तो पके मकान बना लिए हैं लेकिन गरीबों के साथ ऐसा नहीं है।

    नोटबंदी से तुलना

    नोटबंदी से तुलना

    कमल हासन ने लॉकडाउन की नोटबंदी से तुलना की। उन्होंने कहा, हमने प्रधानमंत्री पर नोटबंदी के बावजूद दोबारा विश्वास जताया, लेकिन मैं गलत था और आप भी गलत थे। एक बार फिर समय ने आपको गलत साबित किया है।

    कमल हासन ने उठाए सवाल

    कमल हासन ने उठाए सवाल

    1.4 बिलियन जनता वाले देश के आप लीडर हैं। हम आपकी आज्ञा का पालन करते हैं। आपकी जबरदस्त मास फॉलोइंग हैं और सब आपकी बात मानते हैं। हम सब इस समय गुस्से में हैं फिर भी सभी को आप पर भरोसा है। मुझे नोटबंदी की तरह लॉकडाउन के भी भीषण परिणामों का डर हैं।

    कमल हासन की चिंता

    कमल हासन की चिंता

    उन्होंने लिखा, गरीबों के रोजगार खतरे में हैं। गरीबों की चिंता है और उनकी देखरेख करने वाला आपके अलावा कोई नहीं हैं। लोगों के पास खाने का सामान नहीं हैं। गरीब इन हालात में पीस रहा है।

    जीडीपी का जिक्र

    जीडीपी का जिक्र

    कमल हासन ने लिखा कि हमें सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए। हम सब आपके साथ हैं जय हिंद।

    English summary
    kamal haasan open letter to PM Modi for coronavirus lockdown
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X