For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मरने से पहले कादर खान ने आखिरी बार क्या किया, बताकर रो पड़े बेटे सरफराज़ खान

    |

    कादर खान अब इस दुनिया में नहीं रहे और उनके फैन्स अभी भी इस बात को कुबूल करने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं कादर खान का परिवार भी इस दुख से अभी तक लड़ रहा है। उनकी शोक सभा में उनके बेटे सरफराज़ खान उन्हें याद कर एक बार फिर रो पड़े। सरफराज़ ने कादर खान के आखिरी दिनों के बारे में बताया, जिसे सुनकर किसी का भी दिल भर आएगा।

    सरफराज़ ने बताया कि आखिरी वक्त में मैं अब्बा से चुम्मी मांगता था और अपना गाल उनके पास लेकर जाता था। वो बहुत कोशिश ज़रूर करते थे लेकिन सफल नहीं हो पाते थे। वो जाते जाते मुझे प्यार करने की कोशिश करते रहे पर कर नहीं पाए। गौरतलब है कि कादर खान सुप्रान्यूकलियर पाल्सी से ग्रसित थे जहां, धीरे धीरे, शरीर के अंग, अपना काम करना भूलने लगते हैं।

    सरफराज़ ने बताया कि आखिरी वक्त तक अब्बा ने हमें हमेशा दूसरों को प्यार देना ही सिखाया है। उनका कहना था कि लोगों के बीच का पुल बनना चाहिए। वो हर उस इंसान के पास होते थे जिसे उनकी ज़रूरत होती थी। वो सबको अपने खुद के बच्चों जैसा प्यार और अपनापन देते थे और वैसे ही सलाह मशवरा भी देते थे।

    सरफराज़ ने बताया कि कादर खान कभी किसी पर बोझ नहीं बनना चाहते थे। आखिरी समय आते आते, उनके हाथ कांपने लगे थे। वो चीज़ें करना चाहते थे पर कर नहीं पाते थे। ये बातें बताते हुए, सरफराज़ का गला भर आया।

    कादर खान को कनाडा में सुपुर्द - ए - खाक किया गया। सरफराज़ ने दुख जताया कि बॉलीवुड से किसी ने खेद जताने तक के लिए फोन नहीं किया। यहां जानिए, कादर खान के जीवन की कुछ दिलचस्प बातें -

    काबुल से मुंबई तक

    काबुल से मुंबई तक

    कादर खान के तीन बड़े भाई थे लेकिन तीनों की ही मौत हो गई। उस समय उनका पूरा परिवार काबुल में रहता था। उनकी मां ने पिता से कहा कि काबुल हमें रास नहीं आ रहा है। और मां के ज़बरदस्ती करने पर कादर खान, अपने माता पिता के साथ मुंबई आ गए।

    गरीबी में बीता बचपन

    गरीबी में बीता बचपन

    कादर खान का बचपन काफी गरीबी में बीता। उनके पास पहनने को चप्पल तक नहीं होती थी। जब भी उनकी मां उनके गंदे पैर देखती थीं, समझ जाती थीं कि वो मस्जिद नहीं गए हैं।

    इंजीनियर और फिर प्रोफेसर

    इंजीनियर और फिर प्रोफेसर

    कादर खान ने बीटेक की पढ़ाई की और इंजीनियर बने। इसके बाद वो मुंबई के एम एच साबू सिद्दीक कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग में बच्चों को सिविल इंजीनियरिंग पढ़ाने लगे।

    कॉलेज में एक्टिव

    कॉलेज में एक्टिव

    कादर खान अपने कॉलेज में थियेटर में काफी एक्टिव रहते थे। एक बार किसी ने उनका नाटक देखकर उन्हें 100 रूपये का ईनाम दिया था जिसे उन्होंने काफी समय तक संभाल कर रखा था लेकिन फिर खर्च कर दिया था। एक प्ले में पुरस्कार जीतने के बाद उन्हें लिखने का ऑफर मिला, 1500 रूपये में।

    दिलीप कुमार ने किया साइन

    दिलीप कुमार ने किया साइन

    कादर खान को एक प्ले के दौरान दिलीप कुमार ने देखा और फिर दिलीप कुमार ने कादर खान को अपनी फिल्म बैरागी के लिए साइन किया। यहीं से उनका झुकाव फिल्मों की तरफ हुआ।

    बॉलवुड डेब्यू

    बॉलवुड डेब्यू

    कादर खान ने अपना डेब्यू, राजेश खन्ना की फिल्म दाग से किया था। इस फिल्म में वो एक मामूली से वकील की भूमिका में नज़र आए थे। इसके बाद वो मनमोहन देसाई की फिल्म रोटी में नज़र आए।

    बदल गई किस्मत

    बदल गई किस्मत

    रोटी के लिए कादर खान ने मनमोहन देसाई को कुछ डायलॉग्स लिख के दिए जो उन्हें बहुत पसंद आए। फिर कादर खान को डायलॉग्स लिखने का काम मिलने लगा। अपनी पहली फिल्म के लिए उन्हें 1 लाख रूपया मिला था।

    काम ही काम

    काम ही काम

    कादर खान के पास काम की कमी कभी नहीं रही। उन्होंने 300 से ऊपर फिल्मों में अभिनय किया और 1000 से ऊपर फिल्मों के लिए डायलॉग्स लिखे। इन फिल्मों में अमिताभ बच्चन की 22 फिल्में शामिल हैं।

    गोविंदा - डेविड धवन की तिकड़ी

    गोविंदा - डेविड धवन की तिकड़ी

    एक समय आया जब डेविड धवन, गोविंदा और कादर खान की तिकड़ी ने जमकर बॉक्स ऑफिस पर धूम मचाई। इनमें दूल्हे राजा से लेकर नंबर वन सीरीज़ तक की सारी फिल्में शामिल हैं।

    नहीं मिला कोई सम्मान

    नहीं मिला कोई सम्मान

    हिंदी सिनेमा को इतने योगदान के बावजूद आज तक भारत सरकार ने कादर खान को किसी सम्मान से नहीं नवाज़ा। अपने आखिरी वक्त में कादर खान का हालचाल, बॉलीवुड की किसी हस्ती ने नहीं लिया।

    English summary
    Kader Khan's son, Sarfaraz Khan, remembered his father fondly at his prayer meet and shared some anecdotes from the late actor's life.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X