»   » ''ये फिल्म सलमान खान के लिए वाकई बेहद मुश्किल थी.... क्योंकि....''

''ये फिल्म सलमान खान के लिए वाकई बेहद मुश्किल थी.... क्योंकि....''

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

निर्देशक कबीर खान ने साफ साफ कहा है कि फिल्म 'ट्यूबलाइट' सलमान खान की आज तक की सबसे मुश्किल फिल्म है। लेकिन इस फिल्म के बाद कोई भी सलमान की एक्टिंग टैलेंट पर उंगली नहीं उठा सकता। 

सलमान खान स्टारर फिल्म ट्यूबलाइट देशभर में रिलीज हो चुकी है। कबीर खान के साथ यह सलमान की तीसरी फिल्म है। इससे पहले इस जोड़ी ने एक था टाईगर और बजरंगी भाईजान जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्में दी हैं। 

kabir khan

बहरहाल, जब कबीर खान से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, मैं हर फिल्म के सलमान को आगे बढ़ते देखता हूं। एक था टाईगर के समय सलमान ज्यादा रिलैक्स थे.. फिर बजरंगी भाईजान में भी उन्होंने जब एक बार किरदार को पकड़ लिया तो अंत तक निभा ले गए। लेकिन ट्यूबलाइट सलमान के लिए भी थोड़ी मुश्किल थी। 

सलमान के लिए था मुश्किल

सलमान के लिए था मुश्किल

सलमान बॉलीवुड में अपने मैचो कैरेक्टर के लिए जाने जाते हैं.. 6 पैक एब्स, एक्शन.. लेकिन ट्यूबलाइट में उन्हें इसके बिल्कुल उलट दिखना था।

पहली बार किरदार के लिए की तैयारी

पहली बार किरदार के लिए की तैयारी

कबीर खान ने कहा, मैंने पहली बार सलमान खान को किसी किरदार के लिए तैयारी करते देखना है। वह मुझे बीच रात में कॉल करके बोलते थे- यार कोई reference दो।

सलमान दिन भर मुझसे पूछते रहते थे कि क्या किरदार ये कर सकता है, वो कर सकता है। लेकिन सलमान क्या कर सकते हैं.. यह मुझे शूट के पहले दिन पता चला। क्योंकि फिल्म का पहला शॉट ही हमने क्लाईमैक्स सीन शूट किया।

मिले कई हॉलीवुड रीमेक राइट्स

मिले कई हॉलीवुड रीमेक राइट्स

कबीर खान ने कहा, एक था टाईगर के बाद मुझे कई हॉलीवुड फिल्मों के रीमेक राइट्स मिल रहे थे। लेकिन मुझे लगा कि कोई भी फिल्म इंडिया के दर्शकों के हिसाब से सही नहीं थी।

ए लिटिल बॉय एक दिन अचानक ही हमने देखी.. और फिल्म के प्रोड्यसर से बात की हम फिल्म adapt करना चाहते हैं.. ना कि रीमेक।

जरूरत से ज्यादा तैयारी नहीं करते

जरूरत से ज्यादा तैयारी नहीं करते

सलमान खान और शाहरूख खान.. दोनों में ही एक बात कॉमन है कि दोनों किसी भी सीन के लिए जरूरत से ज्यादा तैयारी नहीं करते हैं। और मुझे दोनों ही यही बात पसंद है क्योंकि मैं खुद भी वैसा ही हूं।

ज्हू ज्हू फिल्म की जान हैं

ज्हू ज्हू फिल्म की जान हैं

बजरंगी भाईजान के वक्त मैंने फैसला किया था कि रिलीज से पहले मैं हर्षाली मल्होत्रा को लोगों के सामने नहीं आने दूंगा.. इससे संस्पेंस बना रहता है। ट्यूबलाइट में ज्हू ज्हू को लेकर वही संस्पेंस बरकरार है।

भारतीय सेना के लिए है ट्यूबलाइट

भारतीय सेना के लिए है ट्यूबलाइट

फिल्म की कहानी 1962 की भारत- चीन युद्ध के इर्द गिर्द घूमती है.. लेकिन मुझे नहीं लगता कि बात वहीं खत्म हो गई थी। यह कहानी आज के समय में भी उतनी ही महत्वपूर्ण है।

English summary
I think Tubelight is doubly difficult for Salman Khan, says director Kabir Khan.
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi