For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'चार फिल्में सुपरहिट होते ही सलमान खान का स्टारडम ऐसा था कि मैं और सुनील दत्त बैकग्राउंड में चले गए'

    |

    हाल ही में एक इवेंट के दौरान अभिनेता कबीर बेदी ने बताया कि किस तरह 90 के दशक में सलमान खान के स्टारडम ने उनके और सुनील दत्त के काम को प्रभावित किया था। टाइम्स लिटफेस्ट (Times LitFest) में कबीर बेदी ने एक मजेदार किस्सा सुनाया कि कैसे एक फिल्म की कहानी को सलमान खान के आते ही बदल दिया गया था। बता दें, कबीर बेदी, सुनील दत्त और सलमान खान फिल्म कुर्बान में साथ नजर आए थे।

    ऐसा हुआ कि वहां मौजूद एक दर्शक ने कबीर बेदी और सुनील दत्त के जीवन के बीच तुलना करते हुए कहा कि उनके बेटे सिद्धार्थ की मेंटल हेल्थ के साथ बेदी के प्रयासों ने लोगों को सुनील दत्त के बेटे संजय दत्त के साथ संघर्ष के दिनों की याद दिला दी। इसी बात पर कबीर बेदी को सुनील दत्त और सलमान खान से जुड़ा एक किस्सा सुनाया।

    फिल्म 'मैदान' को लेकर अजय देवगन की बड़ी घोषणाफिल्म 'मैदान' को लेकर अजय देवगन की बड़ी घोषणा

    कबीर बेदी ने बताया कि उन्हें और सुनील दत्त को कुर्बान नामक एक फिल्म ऑफर किया गया था, जिसमें दोनों को प्रमुख भूमिकाएँ निभानी थीं.. गांव के दो मुखिया, जो अपनी विचारधाराओं को लेकर एक-दूसरे से टकराते हैं। साथ ही, निर्माता फिल्म में छोटी भूमिका के लिए एक युवा अभिनेता और एक अभिनेत्री चाहते थे ताकि वे फिल्म में कुछ गाने जोड़ सकें।

    सुनील दत्त का फैन था

    सुनील दत्त का फैन था

    कबीर बेदी ने कहा, "मैंने दत्त साहब (सुनील दत्त) को 'मदर इंडिया' में देखा था और सोचा कि ओह माय गॉड, क्या एक्टर है। फिर जब मैं बॉम्बे आया और उनसे मिला तो मैंने कहा कि दत्त साहब आज आपसे मिलने के बाद मेरा बचपन का सपना पूरा हो गया। और तभी अचानक एक प्रोड्यूस ने हमें कुर्बान ऑफर की।"

    मैंने ही सलमान का नाम सुझाया था

    मैंने ही सलमान का नाम सुझाया था

    एक्टर ने आगे कहा, "जब प्रोड्यूसर ने मुझे बताया कि फिल्म में नए यंग एक्टर की तलाश भी है, तो मैंने ही उन्हें सलमान का नाम सुझाया था। मैंने सुना था कि सलीम खान के बेटा सलमान खान ने अभी एक्टिंग शुरू की है और उसकी काफी तारीफें हो रही हैं। इस तरह कुर्बान में सलमान खान को साइन किया गया।"

    फिल्म की कहानी बदल दी गई

    फिल्म की कहानी बदल दी गई

    कबीर बेदी ने याद करते हुए कहा, "उन दिनों की बॉलीवुड फिल्मों को इंस्टालमेंट में शूट किया जाता था। वे हर महीने कुछ दिन शूट करते थे और यह चलता रहता था। एक फिल्म बनाने में लगभग दो साल लगते थे। लिहाजा, जब कुर्बान की शूटिंग चल रही थी, तब तक सलमान की चार फिल्में रिलीज़ हो गई और सुपरहिट हुईं। ऐसे में तुरंत ही हमारी फिल्म के दृश्यों को गांव के दो मुखिया की कहानी से बदलकर प्रेम कहानी में बदल दिया गया, और दत्त साहब और मैं बैकग्राुंड में चले गए।"

    कोई अनबन नहीं

    कोई अनबन नहीं

    हालांकि इस बात को लेकर सलमान खान और कबीर बेदी के बीच कभी कोई अनबन नहीं रहा। बता दें, सलमान खान इस साल जुलाई में कबीर बेदी की किताब लॉन्च करने के दौरान भी साथ रहे।

    कुर्बान

    कुर्बान

    साल 1991 में इस फिल्म में सलमान खान और आएशा जुल्का मुख्य किरदारों में थे। यह आएशा जुल्का की डेब्यू फिल्म थी। फिल्म के निर्देशक थे दीपक बहरी। मैंने प्यार किया, बागी, सनम बेवफा, पत्थर के फूल के बाद.. ये सलमान पांचवीं लगातार हिट फिल्म रही थी।

    English summary
    Recently in an event, actor Kabir Bedi has spoken about the impact that Salman Khan's arrival and stardom in Bollywood had on him and Sunil Dutt.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X