For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    अधिक रॉयल्टी पर अड़े अख्तर

    By Neha Nautiyal
    |

    गीतकार जावेद अख्तर गायकों, संगीतकारों और गीतकारों के लिए रॉयल्टी बढ़ाए जाने की अपनी मांग पर अब भी अड़े हुए हैं जबकि 'फिल्म फेडरेशन ऑफ इंडिया' (एफएफआई) ने अपने सदस्यों को सलाह दी है कि वे अख्तर से काम न लें।

    वोट करें बॉलीवुड में इस साल कौन रहा सबसे हिट और सबसे फ्लॉप

    अख्तर ने ट्विटर पर लिखा है, "वे व्यक्ति पर प्रतिबंध लगा सकते हैं लेकिन विचार पर नहीं।" उन्होंने भारतीय फिल्मोद्योग की सर्वोच्च निकाय मानी जाने वाली एफएफआई की उस सलाह पर यह प्रतिक्रिया दी है जिसमें भारत की सभी फिल्म निकायों से अख्तर की कॉपीराइट कानून में संशोधन की मांग के चलते उन पर प्रतिबंध लगाने की बात कही गई थी।

    इस बीच एफएफआई के महासचिव सुप्रन सेन ने आईएएनएस से कहा है कि इस तरह का कोई निर्णय नहीं लिया गया है। सेन ने कहा, "इस मुद्दे पर शुक्रवार को निश्चित रूप से चर्चा हुई थी लेकिन अख्तर के खिलाफ अब तक कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

    इस मुद्दे पर 29 दिसम्बर को बैठक करेंगे। तभी इस बारे में कोई निर्णय लिया जाएगा।"अख्तर कॉपीराइट कानून में संशोधन चाहते हैं ताकि संगीत निर्देशकों और गीतकारों को उनके काम से होने वाले लाभ का फायदा मिल सके।

    English summary
    Javed Akhtar is standing tall by his decision to lobby for more royalties for singers, composers and lyricists even after the buzz that the Film Federation of India (FFI) has advised its members not to employ the award-winning writer.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X