For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    इरफान के बेटे बाबिल ने लिए उनके दोनों फिल्मफेयर अवार्ड, बांटी पिता के अलावा फेवरिट एक्टर्स की लिस्ट

    |

    66वें फिल्मफेयर अवार्ड्स में इरफान खान ने अंग्रेज़ी मीडियम के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड जीता। इसके अलावा फिल्मफेयर ने इरफान खान को लाईफटाईम अचीवमेंट से सम्मानित किया। ये अवार्ड आयुष्मान खुराना ने पेश किया और इरफान के बड़े बेटे बाबिल ने अपने पिता की तरफ से ये अवार्ड ग्रहण किया।

    इसके बाद, बाबिल ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर पाताल लोक एक्टर जयदीप अहलावत के साथ फिल्मफेयर अवार्ड्स के दौरान की अपनी एक तस्वीर शेयर की।

    बाबिल ने ये तस्वीर शेयर करते हुए दुनिया में सबसे प्यारे लोगों की लिस्ट शेयर की। इनमें जयदीप अहलावत, विजय वर्मा, पंकज त्रिपाठी, आयुष्मान खुराना, भूपेंद्र जदावत, कर्णेश शर्मा, तृप्ति डिमरी और राजकुमार राव शामिल हैं।

    आयुष्मान खुराना ने भी बाबिल से पहली मुलाकात का ज़िक्र करते हुए कहा कि इरफान सर का अवार्ड देते समय बाबिल से पहली बार मिला। उम्मीद करता हूं कि उसका भविष्य इतना ही उज्जवल हो। गौरतलब है कि इरफान के निधन के बाद उनकी पत्नी सुतापा सिकदर और बेटे बाबिल अक्सर उनकी यादों से फैन्स को जोड़ते दिख जाते हैं। जानिए इरफान के कुछ दिलचस्प किस्से

    पिता को नहीं पसंद थी फिल्में

    पिता को नहीं पसंद थी फिल्में

    गौरतलब है कि इरफान खान के पिता को फिल्मों की लाईन नहीं पसंद थीं। उनके घर में टीवी और फिल्में बिल्कुल मना थीं। उनके पिता को नाच गाने से दिक्कत थी। इसलिए इरफान ने तय किया कि वो नाच गाने वाली फिल्मों की जगह कुछ अलग करने की कोशिश करेंगे।

    ये था पूरा नाम

    ये था पूरा नाम

    इरफान खान का पूरा नाम था साहिबज़ादे इरफान अली खान। उन्होंने फिल्मों में आने से पहले अपना नाम छोटा कर लिया था। बाद में उन्होंने अपने नाम से खान भी हटा लिया और केवल इरफान कर लिया। उन्होंने अर्णब गोस्वामी के शो पर इमाम की कड़ी आलोचना भी की। बाद में इरफान ने अपने नाम में एक R और जोड़ लिया।

    NSD और पत्नी

    NSD और पत्नी

    नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में पढ़ाई के दौरान, इरफान की मुलाकात पत्नी सुतापा सिकदर से हुई और दोनों ने 1995 में शादी कर ली। उनके दो बेटे हैं बाबिल और अयान। बाबिल लंदन में अपनी उच्च शिक्षा ले रहे हैं।

    बहुत स्ट्रगल

    बहुत स्ट्रगल

    इरफान खान का जीवन स्ट्रगल से भरा रहा। उनकी पहली फिल्म सलाम बॉम्बे ऑस्कर में नॉमिनेट हुई थी लेकिन उनका रोल फिल्म से काट दिया गया। इसके बाद वो टीवी और फिल्मों में संघर्ष करते रहे। उन्हें पहला बड़ा ब्रेक मिला था विशाल भारद्वाज की फिल्म मकबूल के साथ। साथ ही उन्होंने हासिल में खलनायक के रोल के साथ अपनी छाप छोड़ी।

    अवार्ड्स और फैन्स

    अवार्ड्स और फैन्स

    इसके बाद इरफान अपनी हर परफॉर्मेंस के साथ फैन्स का दिल जीतते गए। पान सिंह तोमर के लिए उन्हें राष्ट्रीय पुरस्कार भी मिला। वहीं भारत सरकार ने उन्हें कला के क्षेत्र में अपने योगदान के लिए पद्मश्री से भी नवाज़ा।

    इंटरनेशनल फिल्मों में जगह

    इंटरनेशनल फिल्मों में जगह

    इरफान खान ने भारत ही नहीं इंटरनेशनल सिनेमा में भी अपनी छाप छोड़ी। उनकी ब्रिटिश फिल्म वॉरियर जहां ब्रिटेन की ओर से ऑस्कर में नामांकित हुई थी तो वहीं जुरासिक वर्ल्ड ने इंटरनेशनल बॉक्स ऑफिस पर तबाही मचा दी थी। इरफान खान ने कई अंग्रेज़ी सीरीज़ में भी काम किया।

    बेहतरीन क्रिकेटर

    बेहतरीन क्रिकेटर

    इरफान खान बहुत ही बेहतरीन क्रिकेटर थे। उनका सेलेक्शन सीके नायडू टूर्नामेंट में भी हो गया था लेकिन पैसों की तंगी के कारण वो इसमें भाग नहीं ले पाए। फिर उन्होंने सोचा कि कुछ ऐसा किया जाए जिसमें नाम भी हो और पैसा भी। इसलिए उन्होंने फिल्मों की लाईन चुनी।

    पैसों के लिए फिल्में

    पैसों के लिए फिल्में

    इरफान खान ने एक इंटरव्यू में माना था कि उन्होंने पैसों के लिए ऐसी फिल्में भी की जो उन्हें नहीं करनी चाहिए थी। लेकिन उन्हें पैसे कमाने थे इसलिए उन्होंने वो फिल्में की। इन फिल्मों में मल्लिका शेरावत की हिस्स्स भी शामिल थी। इरफान खान का कहना था कि उन्हें इस फिल्म में लक्ष्मी दिखी थी।

    कॉमर्शियल स्टार

    कॉमर्शियल स्टार

    2010 के बाद इरफान खान बॉलीवुड के कॉमर्शियल स्टार बन चुके थे। उन्होंने कंगना रनौत से लेकर लारा दत्ता और फिर दीपिका पादुकोण से लेकर ऐश्वर्या राय तक से रोमांस किया। ब्लैकमेल में वो कीर्ति कुल्हाड़ी के अपोज़िट नज़र आए।

    टीवी का सफर

    टीवी का सफर

    इरफान खान का टीवी का सफर भी साथ साथ चलता रहा। वो चाणक्य, बनेगी अपनी बात और स्टार बेस्टसेलर्स जैसे सीरियल में नज़र आए। फिर उन्होंने मानो या ना मानो होस्ट किया।

    फैन्स को आखिरी संदेश

    फैन्स को आखिरी संदेश

    आखिरकार 29 अप्रैल 2019 को इरफान खान कैंसर से अपनी जंग हार गए। उन्होंने कहा कि अब वो थक चुके हैं और अपनी हार मानते हैं। इरफान दो साल से कैंसर से लड़ रहे थे। आखिरी फिल्म अंग्रेज़ी मीडियम की रिलीज़ से पहले उन्होंने फैन्स को एक ऑडियो संदेश भेजा और कहा कि मेरा इंतज़ार करिएगा।

    English summary
    Irrfan Khan's son Baabil Khan recieved his dad's best actor and lifetime achievement award. He shared a list of his all time favorite actors.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X