»   » प्यार का बदलता मौसम और सुंदर जोड़ी

प्यार का बदलता मौसम और सुंदर जोड़ी

Subscribe to Filmibeat Hindi
प्यार का बदलता मौसम और सुंदर जोड़ी

भावना सोमाया, वरिष्ठ फ़िल्म समीक्षक

बीबीसी हिंदी डॉट कॉम के लिए

राज खोसला की एक पुरानी फिल्म में गीतकार आनंद बक्शी ने एक गाना लिखा था- ‘प्रेम कहानी में एक लड़का होता है......एक लड़की होती है..... कभी दोनों हँसते हैं … कभी दोनों रोते हैं ..…’

आई हेट लव स्टोरी में भी कुछ ऐसा ही होता है. दो अजनबी -सिमरन- जो फिल्म में कला निर्देशक है और जय. दोनों एक सिनेमा हॉल में मिलते हैं – कुछ खट्टी मीठी बातों के बाद उन्हें पता चलता है कि वो एक ही प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं. इसलिए वो सहकर्मी बनते हैं. जल्द ही वो सहकर्मी से दोस्त बनते हैं और दोस्त के बाद प्रेमी.

मगर क्योंकि ये प्रेम कहानी है तो उलझनें ज़रूरी हैं इसलिए कुछ इज़हार और थोड़े गिले शिकवे के बाद दोनों प्यार को भूलकर वापस दोस्त बनते हैं …धीरे धीरे दोस्त में से सिर्फ सहकर्मी और आखिर में पहले की तरह एक बार फिर अजनबी.

करण जौहर ने अपने बैनर तले बहुत सारे नए निर्देशकों को मौका दिया है. मिसाल के तौर पर 'कल हो ना हो' में निखिल अडवाणी को और हाल ही में 'वेक अप सिड' में अयन मुखर्जी को.

आई हेट लव स्टोरी में वो एक और उभरते निर्देशक को मौका दे रहे हैं

पुनीत मल्होत्रा जो कि स्टाइलिस्ट हैं और करण के अच्छे दोस्त मनीष मल्होत्रा के भतीजे हैं.

फ़िल्म की सबसे अच्छी बात ये है कि वो कुछ भी नया करने का दावा नहीं करती – बल्कि अब तक की सारी फ़िल्मी प्रेम कहानियों को अपने में शामिल करते हुए आगे चलती है.

जय की भूमिका में इमरान ख़ान अपने मामू – यानी छोटे आमिर ख़ान की याद दिलाते है और सिमरन की भूमिका में सुंदर और मासूम सोनम कपूर आपका पूरी तरह से दिल जीत लेती है.

फिल्म की लोकेशन, निर्माण और साज सज्जा, विशाल शेखर का म्यूज़िक करण जौहर की अन्य फिल्मों की तरह ही बेहतरीन है.

ये सच है कि बहुत सारे दृश्य और बातें हमें दिलवाले दुल्हनियाँ ले जाएंगे, दिल तो पागल है, कुछ-कुछ होता है, देवदास फिल्म की याद दिलाते हैं खास तौर पर दिल चाहता है फिल्म की. मगर ये जानबूझकर किया गया है और फिल्म के लिए ज़रूरी है.

पुनीत समर्थ और प्रगतिशील निर्देशक हैं. वो अपनी फिल्म के ज़रिए न सिर्फ प्रेम कहानी का मगर अपने आपका मजाक भी उडाते हैं. फिल्म में नायक नायिका का जूनियर है. नायिका जो कि नायक की बॉस है... नायक को प्रोपोज़ करती है. इतना ही नहीं पहली बार नायक किसी फिल्म में अपनी माँ से बहुत सारी डाँट खाता है.

फिल्म देखिए प्यार के बदलते मौसम के लिए, एक सुंदर जोड़ी के लिए और पॉपकोर्न खाने के लिए.

Please Wait while comments are loading...