For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'मैं लोगों को ये बताने की कोशिश कर रहा हूं कि वे खुद को स्टीरियोटाइप न करें': आयुष्मान खुराना

    |

    युवा बॉलीवुड स्टार आयुष्मान खुराना ने कहा कि एक कलाकार के तौर पर उनका मकसद लोगों को लगातार ये बताना है कि वे खुद को या दूसरों को स्टीरियोटाइप न करें। वह अपनी फिल्मों के माध्यम से ऐसा करते हैं जिसका हिस्सा बनना उन्हें पसंद है।

    वह लगातार ऐसी कंटेंट वाली फिल्में करना चाहते हैं जो अलग हटकर हों और समाज में सकारात्मकता का संदेश फैलाएं। आयुष्मान का कहना है कि उनकी ब्लॉकबस्टर फिल्म ड्रीम गर्ल, आज अपनी रिलीज की दूसरी सालगिरह पूरी कर रही है, इसका मकसद भी बस यही करना था।

    आयुष्मान कहते हैं, "जानते-बूझते हुए या अनजाने में हम लगातार अपने आस-पास की हर चीज को स्टीरियोटाइप होने के लिए बाध्य करते हैं। कभी-कभी, हमें यह भी पता नहीं होता कि हम या तो स्टीरियोटाइप हो रहे हैं या दूसरों को स्टीरियोटाइप बना रहे हैं या हम खुद को स्टीरियोटाइप बना रहे हैं।"

    आयुष्मान फिल्म के माध्यम से इस जरूरी संदेश को फैलाने की कोशिश करने का श्रेय अपने निर्देशक राज शांडिल्य और निर्माता एकता कपूर को देते हैं। वे कहते हैं, "मुझे ड्रीम गर्ल की स्क्रिप्ट बहुत पसंद आई क्योंकि यह हमें खुद को स्टीरियोटाइप न होने देने की बात करती है क्योंकि यह हमें अपनी क्षमताओं को पहचानने और कुछ अलग हटकर करने से रोकता है। इसने हमें बताया कि जब हम इस चक्र को तोड़ते हैं, तो हम समाज में सकारात्मक बदलाव ला सकते हैं।"
    आयुष्मान आगे कहते हैं, "मेरा किरदार करमवीर जब पूजा बनने का फैसला करता है तो वह खुद को स्टीरियोटाइप होने से रोक लेता है। मेरे लिए, यह एक ताजा और चौंकाने वाला विचार था और इसने मुझे मेरे लिए घर पर हिट किया क्योंकि मैं लगातार ऐसे विषयों की तलाश में रहता हूं जिसमें दर्शकों के लिए कोई संदेश होता है।"

    YRF ने किया वैक्सीनेशन ड्राइव के दूसरे फेज़ का आयोजन, फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के लिए शानदार पहलYRF ने किया वैक्सीनेशन ड्राइव के दूसरे फेज़ का आयोजन, फिल्म इंडस्ट्री के लोगों के लिए शानदार पहल

    आयुष्मान कहते हैं कि कि अगर वह स्टीरियोटाइप्स को तोड़ने करने के इस मिशन पर कायम रहते हैं तो एक एक्टर के तौर पर उन्हें संतुष्टि मिलेगी। वे कहते हैं, "अगर आप बाला, शुभ मंगल ज्यादा सावधान जैसी फिल्मों को देखेंगे, तो आप पाएंगे कि मैं लोगों को यह बताने की कोशिश कर रहा हूं कि वे खुद को स्टीरियोटाइप न करें। मैं उम्मीद करता हूं कि मुझे कुछ अच्छी स्क्रिप्ट्स मिल सकती हैं जो मुझे इस संदेश को और आगे बढ़ाने में मदद करेंगी। एक कलाकार के रूप में वास्तव में इससे मुझे खुशी मिलेगी।"

    English summary
    'I am trying to tell people not to stereotype themselves': Chandigarh Kare Aashiqui actror Ayushmann Khurrana
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X