For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Exclusive: लड़कियों की वर्जनिटी पर समाज की सोच, फॉर मोर शॉट्स प्लीज फेम मानवी गागरू ने दिया जवाब

    |

    'पीके', 'उजड़ा चमन', 'शुभ मंगल ज्यादा सावधान' और 'फॉर मोर शॉट्स प्लीज' जैसी फिल्मों व वेब सीरीज में काम कर चुकी एक्ट्रेस मानवी गागरू से फिल्मीबीट हिंदी ने बातचीत की। टेलिफोनिक बातचीत में एक्ट्रेस ने कई सवालों पर जवाब दिए तो वहीं समाज से जुड़े कई मुद्दों पर अपनी राय भी रखी। मानवी ने महिलाओं से जुड़े वर्जनिटी, समाज व उनकी स्थिति पर जैसे विषयों पर अपनी राय व्यक्त की।

    पंचायत रिव्यू: न मारधाड़ न ही फोकट का एक्शन- हल्की फुल्की कहानी, मजेदार विषय- लॉकडाउन में देख डालेंपंचायत रिव्यू: न मारधाड़ न ही फोकट का एक्शन- हल्की फुल्की कहानी, मजेदार विषय- लॉकडाउन में देख डालें

    बता दें जल्द ही मानवी गागरू की ओटीटी प्लेटफॉर्म अमेज़न प्राइम पर फॉर मोर शॉट्स प्लीज सीजन 2 वेब सीरीज में नजर आने वाली हैं। ये महिलाओं पर केंद्रित है। जो कि महिलाओं की इच्छा, पसंद, नपासंद, बेबाक अंदाज को दर्शाती है। इसके पहले सीज़न को खूब पसंद किया गया था। जिसमें सयानी गुप्ता, कीर्ति कुल्हारी, बानी जे, मानवी गगरू, लिसा रे, प्रीतिक बब्बर, मिलिंद सोमण जैसी सितारे लीड रोल में हैं।

    लड़कियों की वर्जनिटी पर समाज की सोच

    लड़कियों की वर्जनिटी पर समाज की सोच

    लड़कियों की वर्जनिटी और समाज की सोच पर जब फॉर मोर शॉट्स प्लीज फेम मानवी गागरू से सवाल किया तो वह कहती हैं, ''सेक्सुअली बात करें तो हम यही मैसेज देने की कोशिश कर रहे हैं कि महिलाओं को लेकर अभी तक समाज में सिर्फ दो ही धारणाएं बनी हुई हैं। पहला महिलाओं ने सेक्स नहीं किया तो वे वर्जन नहीं तो इसके विपरीत।'' जबकि ऐसा नहीं है कि सिर्फ यही दो चीजें ही हैं, इसके अलावा महिलाएं भी सामान्य हैं।

    मानवी गागरू का प्वाइंट

    मानवी गागरू का प्वाइंट

    वह आगे कहती हैं ''ऐसा नहीं कि दुनिया में सिर्फ दो ही टाइप की महिलाएं हैं। हमने देखा कि हमारे समाज में लड़कियों की इच्छा को कैसे इस बिंदु पर आकर नकार दिया जाता है। एडल्ट सेक्स और दोनों की मंजूरी से बनाए गए रिश्ते में किसी को आपत्ति दर्ज करने की कोई जरूरत नहीं है। ऐसे में अगर सवाल उठते हैं तो महिलाओं को ही नहीं पुरुषों को भी कटघरे में खड़ा करना चाहिए।''

    महिलाओं की स्थिति पर मानवी

    महिलाओं की स्थिति पर मानवी

    वहीं मानवी गागरू ने महिलाओं के अन्य मुद्दों को लेकर कहा कि, गांव हो या शहर, व्यवाहारिक तौर पर महिलाओं की स्थिति एकदम सामान है। महिलाओं पर जो चीज़ें थोपी जाती हैं वह यूनिवर्सल है। इन्हें कई चीजें सिर्फ इसीलिए ही फेस करनी पड़ती है क्योंकि वह एक लड़की हैं।

    'मत बनाओं महिलाओं को भगवान'

    'मत बनाओं महिलाओं को भगवान'

    वह कहती हैं, बच्चे करो तो जजमेंट, शादी करो तो जजमेंट, नौकरी करो तो जजमेंट, ऐसी पचास चीजों को इग्नोर किया जा सकता था लेकिन नहीं किया जाता। हमारा समाज ऐसे ही विकसित हुआ था, जहां कुछ चीज एवॉइड की जा सकती थी लेकिन महिलाओं के लिए नहीं की गईं। हमारी वेब सीरीज उसी बारीक लाइन को दिखाती है। लड़कियां नॉर्मल हैं, इसीलिए हम नहीं कहते कि महिलाओं को भगवान बना दो, हम भी इंसान है तो हो सकता है कि हम भी गलती हो।

    English summary
    Exclusive: Four More Shots Please 2 fame maanvi gagroo speaks over Society thinking on girls virginity
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X