For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    आर्यन को लिए बिना जेल से बाहर नहीं जाऊंगा - दोस्त अरबाज़ मर्चेंट ने किया वादा

    |

    आर्यन खान ड्रग्स केस में आर्यन खान को गिरफ्तार करने का कारण था उनके दोस्त अरबाज़ मर्चेंट के पास से 6 ग्राम चरस की बरामदगी। अब आर्यन खान और अरबाज़ मर्चेंट की जम़ानत के लिए अलग अलग वकील केस लड़ रहे हैं। अरबाज़ के पिता असलम मर्चेंट ने जेल में अरबाज़ की हालत के बारे में टाईम्स ऑफ इंडिया से बात की।

    इस बातचीत के दौरान, असलम मर्चेंट ने बताया कि लगभग एक महीने में उनके बेटे का सात किलो वज़न कम हो चुका है। वो बस जल्दी से जल्दी जेल से बाहर आना चाहता है।

    जब असलम, जेल में अरबाज़ से मिलने पहुंचे तो वो अपने बेटे को ढांढ़स बंधाने के लिए उसे गले भी नहीं लगा सके और इस बात का उन्हें काफी मलाल है। उन्होंने बताया कि अरबाज़ को आर्यन की भी काफी चिंता है।

    कौन हैं आर्यन खान के नए वकील भारत के पूर्व अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी, NCB पर उठाए सवालकौन हैं आर्यन खान के नए वकील भारत के पूर्व अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी, NCB पर उठाए सवाल

    अरबाज़ ने अपने पिता से बात करते हुए कहा कि हम सब इस मुश्किल में एक साथ फंसे हैं और साथ बाहर निकलेंगे। मैं आर्यन को लिए बिना जेल से बाहर नहीं जाउंगा।असलम का कहना था कि अपने बेटे को उसके दोस्त की इतनी चिंता करते हुए देख वो भावुक भी हो गए।

    आर्यन के वकील कर चुके हैं बात अलग

    आर्यन के वकील कर चुके हैं बात अलग

    इससे पहले, आर्यन खान के वकील, सतीश मानेशिंदे साफ कर चुके हैं कि आर्यन खान के पास से कोई ड्रग्स बरामद नहीं हुई थी। ड्रग्स असलम मर्चेंट नाम के लड़के ने अपने जूते में छिपा रखी थी और उससे आर्यन का कोई लेना देना नहीं है। आर्यन की ज़मानत, अरबाज़ के जुर्म पर कैसे टिकी हो सकती है।

    मुकुल रोहतगी ने भी बताए अलग अलग केस

    मुकुल रोहतगी ने भी बताए अलग अलग केस

    भारत के पूर्व अटर्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने हाई कोर्ट में आर्यन के केस की सुनवाई के दौरान, कहा - मेरे क्लाईंट को किसी और के जूते से बरामद हुई ड्रग्स की सज़ा क्यों मिल रही है। वो भी केवल 6 ग्राम चरस। मुकुल रोहतगी ने साफ किया कि अरबाज़ भी इस बात को मानने से इंकार कर रहे हैं कि उनके पास से कोई भी ड्रग्स बरामद हुई। तो फिर आर्यन को इन सब की सज़ा क्यों दी जा रही है और वो इतने दिन से जेल में क्यों हैं?

    अरबाज़ मर्चेंट की ज़मानत याचिका

    अरबाज़ मर्चेंट की ज़मानत याचिका


    अरबाज़ ने अपनी ज़मानत याचिका में ये साफ किया है कि उनके पास कम ही चरस बरामद हुई थी लेकिन उनके पंचनामे में एनसीबी ने इसकी मात्रा बढ़ाकर लिख दी है। अरबाज़ मर्चेंट का कहना है कि एनसीबी उन पर झूठा केस कर रही है, यही कारण है कि उन्होंने कोर्ट से गुज़ारिश की थी कि पोर्ट की सीसीटीवी फुटेज मुहैया करवाई जाए।

    एनसीबी पर लगाए आरोप

    एनसीबी पर लगाए आरोप

    एनसीबी पर आरोप लगाते हुए अरबाज़ ने कहा कि अगर सीसीटीवी फुटेज देखी जाएगी तो साफ समझ आ जाएगा कि उनके पास कोई कॉन्ट्राबैंड नहीं था। अरबाज़ का कहना है कि उनके पास तो बोर्डिंग पास तक नहीं था। वो उस शिप पर चढ़े ही नहीं थे जिस पर पार्टी की बात कही जा रही थी। NCB ने उन्हें पोर्ट पर ही गिरफ्तार कर लिया था।

    सबसे पहले हुए थे गिरफ्तार

    सबसे पहले हुए थे गिरफ्तार

    गौरतलब है कि इस केस में सबसे पहले गिरफ्तार होने वाले तीन लोग थे आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेट और मॉडल मुनमुन धमीचा। आर्यन के पास से जहां कोई ड्रग्स नहीं बरामद हुई वहीं एनसीबी की मानें तो अरबाज़ मर्चेंट ने अपने जूतों में चरस छिपा रखी थी जिसक सेवन वो और आर्यन शिप पर जाकर करने वाले थे।

    English summary
    Aryan Khan’s friend Arbaaz Merchant has promised his dad to not walk free out of jail without taking his friend Aryan Khan. Both have been booked under section 27 of NDPS for drugs consumption.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X