For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    आदित्य चोपड़ा ने जयेशभाई जोरदार को कैसे दी हरी झंडी, डायरेक्टर दिव्यांग ठक्कर ने बताया

    |

    सुपरस्टार रणवीर सिंह स्टारर जयेशभाई जोरदार साल 2021 की सबसे ज्यादा इंतजार की जाने वाली फिल्मों में शामिल है। इस बहु-प्रतीक्षित प्रोजेक्ट को डेब्युटांट राइटर-डाइरेक्टर दिव्यांग ठक्कर निर्देशित कर रहे हैं, जिनकी स्क्रिप्ट को खुद रणवीर ने एक 'चमत्कारी स्क्रिप्ट' करार दिया है। जिन्होंने मीडिया के सामने पहली बार यह खुलासा किया कि जयेशभाई जोरदार बड़े परदे का आलातरीन अनुभव कैसे है!

    "मुझे लगता है कि इस महामारी के दूसरे पहलू में, जहां तक फिल्म देखने जाने का सवाल है, हम सभी उस सामुदायिक अनुभव को तरस रहे हैं जहां हमारा एक साथ मनोरंजन होता है, जहां हम बिल्कुल अजनबी लोगों के साथ बैठ कर हंसते और रोते हैं। यही वह अनुभव है, जिसके लिए हम तरस रहे हैं। मैं आशा करता हूं कि जयेशभाई जोरदार इस मोर्चे पर कामयाबी हासिल करेगी, क्योंकि बुनियादी तौर पर इस फिल्म को किसी इंटरटेनर की भांति डिजाइन किया गया है।"- कहना है दिव्यांग का, जो बॉलीवुड के लिए पूरी तरह से एक ऑउटसाइडर हैं। विशुद्ध रूप से मात्र उनकी शानदार स्क्रिप्ट की बदौलत रिकॉर्ड समय में उनकी फिल्म को आदित्य चोपड़ा की तरफ से हरी झंडी मिल गई थी।

    वह आगे बताते हैं, "मनोरंजन से परे जाकर मुझे वाकई जिस चीज की उम्मीद है, वह यह है कि शायद कहीं न कहीं हम यह सवाल उठा सकेंगे कि जोरदार मर्द बनने के लिए आखिर किस चीज की दरकार होती है? और आपको पता है, अगर जयेशभाई जोरदार के जरिए हम किसी भी प्रकार से वह टिपिकल एक्शन हीरो वाला स्टीरियोटाइप तोड़ने में कामयाब हो जाते हैं और मर्द होने की अपनी अवधारणा के बारे में चर्चा छेड़ देते हैं, तो मुझे लगेगा कि हमने वाकई अपनी वो मंजिल पा ली है, जहां के लिए हम निकले थे।"

    दिव्यांग की वायआरएफ में इंट्री शुद्ध रूप से उनकी योग्यता के आधार पर हुई थी। इंडस्ट्री में उन्हें कोई जानने वाला नहीं था, न ही वह किसी को जानते थे। किसी तरह से वह वायआरएफ के आंगन में पले-बढ़े प्रोड्यूसर मनीष शर्मा का ईमेल एड्रेस हासिल करने में कामयाब रहे और अपनी स्क्रिप्ट लेकर उनके पास जा धमके! मनीष ने दिव्यांग के इस काम की तारीफ के पुल बांधे और आदित्य चोपड़ा के साथ तत्काल उनकी एक मीटिंग तय कर दी! आदि पर भी इस स्क्रिप्ट का जादू चल गया और उन्होंने इसके बारे में रणवीर से चर्चा की।

    यह सुपरस्टार दिव्यांग की प्रतिभा से चकित था और फिल्म शुरू करने के लिए बेताब हो उठा। नौसिखिया फिल्म-निर्देशक दिव्यांग ने अपने हक में घटनाक्रम के इतने तेजी से बदलने की उम्मीद और अपेक्षा नहीं की थी, क्योंकि यह सब एक महीने के भीतर घटित हो गया था! अब वह केवल मनीष और आदित्य चोपड़ा के द्वारा पाले-पोसे जा रहे वायआरएफ के एक डाइरेक्टर मात्र नहीं थे, बल्कि उनको खुद के द्वारा निर्देशित की जा रही अपनी पहली ही फिल्म में वायआरएफ के गजब टैलेंट रणवीर सिंह को निर्देशित करने की जिम्मेदारी भी सौंपी गई थी!

    दिव्यांग की बर्थडे विश यही है कि वह अपने खयालों को कागज पर उतारने का अनुशासन बनाए रखें और ओरिजिनल स्क्रिप्ट डेवलप करने के लिए भरपूर समय दे सकें, क्योंकि यही चीजें उनके काम आई हैं। उन्हीं के शब्दों में- "आपको पता है, जब मैं जयेशभाई जोरदार का लेखन कर रहा था, तब मेरे दिमाग में दूर-दूर तक यह खयाल नहीं था कि आखिरकार इसे कौन बनाएगा, यह कितने बड़े पैमाने की फिल्म होगी, इसमें कौन-कौन से स्टार काम करेंगे? इसे मैंने लेखन का विशुद्ध आनंद लेने और यह कहानी रचने के इरादे से लिखा था। इस ईमानदारी और इस रोमांच को मैं अपने भविष्य के काम में भी बनाए रखना चाहूंगा। मैं चाहूंगा कि नतीजे की चिंता न करूं बल्कि बस लिखने और रचने की प्रक्रिया का आनंद उठाऊं।"

    दिव्यांग आगे बताते हैं, "तो, यही मेरी इच्छा होगी! मेरी दूसरी इच्छा यह है कि मैं हमेशा शुक्रगुजार बना रहूं। मेरे साथ जो घटित हुआ, वह किसी काल्पनिक कथा की तरह है- मुझे किस तरह कहानी कहने का अवसर मिला, और वह भी कोई छल-कपट या समझौता किए बगैर उस विशुद्ध रूप में अवसर मिला, जिसमें इसे मैं सुनाना चाहता था। ऐसा होना और जयेशभाई जोरदार मैं जिस तरह से यह घटित हुआ, मेरे लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है। आज मेरे पास जो कुछ भी है और यह कहानी कहने में जिस-जिसने मेरा साथ दिया है, मैं हर व्यक्ति का शुक्रिया अदा करता हूं।"

    English summary
    director Divyang Thakkar share experience of Jayeshbhai Jordaar movie
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X