For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    ना कुत्ता, ना कमीना...इस फिल्म से सेंसर बोर्ड ने सब हटाया!

    |

    सेंसर बोर्ड और उसकी अच्छी बातें ना किसी की समझ में आ रही है ना ही उन्हें कोई मानना चाह रहा है लेकिन सेंसर ने ठान लिया है कि फिल्मों की सारी गंदी बात हटाकर ही दम लेगा। भई सभ्य समाज है और ऐसी ही सभ्य, सुंदर सुशील फिल्में भी तो होनी चाहिए। तो किसी फिल्म में अब सेंसर बोर्ड गंदी बात तो नहीं होने देगा। कोई लाख हल्ला करता रहे।

    पिछले दिनों अनुराग कश्यप के केंद्रीय मंत्री से मिलने की बात करने के बाद और सेंसर की तानाशाहूी पर आपत्ति जताने के बाद सूचना एवं प्रसारण मंत्री अरुण जेटली ने भी सेंसर बोर्ड को फटकार लगाई थी। लेकिन सेंसर है कि मानता नहीं।

    वापस से अपने सफाई अभियान में लग गया है। दम लगा के हईशा में कई शब्द काटने के बाद सेंसर बोर्ड ने आने वाली फिल्म 'बदमाशियां' से पांच शब्दों को काट दिया है। ये सब उस सूची का हिस्सा है। हालांकि जेटली ने सेंसरबोर्ड के द्वारा बनाई गई 28 शब्दों की विवादित सूची को लेकर बोर्ड को फटकार लगाई थी। लेकिन हम दोहराते हैं...सेंसर का दिल है कि मानता नहीं।

    फिल्म निर्माता कंपनी वीआरजी मोशन पिक्चर्स के करीबी सूत्र ने बताया कि फिल्म से कुत्ते, कमीने, हरामी, चू.., पिछ.. और मां की....जैसे शब्दों को काट दिया गया है। फिल्म निर्माताओं ने इन शब्दों को हटा दिया है। इन शब्दों की अच्छे से सफाई होने के बाद ही अब फिल्म इस सप्ताह रिलीज होगी।

    फिल्म के सहनिर्माता बाहुल चौधरी ने बताया कि सेंसर बोर्ड के द्वारा दिए गए निर्देशों के बाद शब्द हटा दिए गए हैं। फिल्म से अमित खन्ना निर्देशन में और रोडीज़ फेम सुज़ाना एक्टिंग डेब्यू करने जा रहे हैं। फिल्म में करन मेहरा और शारिब हाशमी मुख्य भूमिका में होंगे। फिल्म का प्लॉट मज़ेदार है और अब तक आपने फिल्म का ट्रेलर नहीं देखा है तो देखिए यहां-

    English summary
    Censor Board and it's cuss words theory is not doing applaudable rounds with the Directors but they have no option else agreeing and surrendering to mutes!
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X