For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    बॉम्‍बे हाईकोर्ट का आदेश: कोरोना दवा खरीद में सोनू सूद के मसीहा बनने की जांच हो, दवाएं नकली तो नहीं हैं?

    |

    बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बीच सोनू सूद पर सवाल खड़ा कर दिया है। कोरोना वायरस की पहली लहर के दौरान जहां सोनू सूद ने लोगों की आर्थिक सहायता की। वहीं दूसरी लहर के समय वह कोरोना मरीजों के इलाज से जुड़ी सभी सुविधाओं को पूरी करने की कोशिश करते हुए दिखाई दिए।

    इस संबंध में अब बॉम्‍बे हाईकोर्ट ने जांच के लिए आदेश दिया है। महाराष्ट्र सरकार को सोनू सूद की कोरोना संबंधी दवाइयां कैसे पहुंची इसकी जांच के लिए बोला गया है।कोर्ट ने अपने आदेश में ये भी कहा है कि सेलिब्रेटी अपने आप को मसीहा की तरह पेश कर रहे थे। कोर्ट ने साफ तौर पर स्थानीय कांग्रेस विधायक जीशान सिद्दीकी और अभिनेता सोनू सूद की भूमिका की जांच करने को बोला है।

    बुधवार को महाराष्ट्र सरकार को दिए गए निर्देश में ये कहा गया है कि जनता के लिए कोरोना दवाओं की खरीद और आपूर्ति में स्थानीय कांग्रेस विधायक जीशान सिद्दीकी और सोनू सूद की भूमिका की जांच की जाए।

    खुद को मसीहा कैसे दिखाया?

    खुद को मसीहा कैसे दिखाया?

    कोर्ट ने साफ तौर पर कहा है कि दोनों ने मिलकर खुद को मसीहा की तरह दिखाया है बिना इस बात की पड़ताल किए कि दवाएं नकली तो नहीं हैं? क्या जिस तरह से दवाएं आपूर्ति की जा रही हैं वो वैध है नहीं? कोर्ट ने कहा है कि दोनों के जरिए जो भी दवाएं उपलब्ध कराई गई हैं उसकी जांच की जानी चाहिए।

    महाराष्ट्र सरकार को दिया आदेश

    महाराष्ट्र सरकार को दिया आदेश

    बता दें कि बॅाम्बे हाईकोर्ट के जस्टिस एसपी देशमुख और जस्टिस जीएस कुलकर्णी की बेंच ने ये आदेश महाराष्ट्र सरकार को दिया है। ये मामला तब सामने आया जब, सरकारी वकील आशुतोष कुंभकोनि ने कोर्ट के सामने जानकारी रखी कि मजगांव मेट्रोपॅालिटन कोर्ट ने बीडीआर फाउंडेशन नाम के ट्रस्ट के खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किया है।

    सोनू सूद को ये दवाइयां भिन्न फार्मेसीस से मिली

    सोनू सूद को ये दवाइयां भिन्न फार्मेसीस से मिली

    इसी ट्रस्ट ने जीशान सिद्दीकी को रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध करवाया है। ट्रस्ट के पास कोई लाइसेंस भी नहीं था। वकील ने ये भी बात कोर्ट के सामने रखी कि सोनू सूद को ये दवाइयां भिन्न फार्मेसीस से मिली हैं। इसकी जांच जारी है।

    कलाकारों को कैसे मिल रही हैं दवाइयां

    कलाकारों को कैसे मिल रही हैं दवाइयां

    कोर्ट ने सबसे बड़ा प्रश्न ये उठाया है कि देशभर में जब कोरोना से जुड़ी दवाइयां कमी झेल रही हैं। तो ऐसे में किस तरह कलाकारों और राजनेताओं को कोरोना की दवाइयां उपलब्ध हो गई हैं। राज्य को केंद्र सरकार के जरिए ही कोरोना की दवाइयां मिलनी थीं।

    सोनू सूद का क्या होगा जवाब?

    सोनू सूद का क्या होगा जवाब?

    ज्ञात हो कि सोनू सूद ने कोरोना की दूसरी लहर के दौरान तेजी से लोगों तक कोरोना की दवाइयां पहुंचाई हैं। फिलहाल इस पर सोनू सूद की तरफ से कोई जवाब सामने नहीं आया है।

    English summary
    Bombay high court ask government to investigate sonu sood role in Corona virus medicine purchase
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X