For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    कश्मीर में 'सात खून माफ' की शूटिंग

    By Neha Nautiyal
    |

    श्रीनगर। कश्मीर अपनी बेमिसाल खूबसूरती की वजह से हिन्दी फिल्मों का अहम हिस्सा रहा है। 70-80 के दशक में कई हिट फिल्मों की शूटिंग यहां हुई है लेकिन 90 के दशक में अलगाववादी हिंसा भड़कने के बाद से फिल्मकारों ने कश्मीर को छोड़ स्विट्जर लैंड का रुख कर लिया।

    शूटिंग के लिए कश्मीर बॉलीवुड का चहेता रहा है

    पिछले एक दशक में सिर्फ गिनती की फिल्मों में कश्मीर बड़े पर्दे पर दिखा। लेकिन अब विशाल भारद्वाज की फिल्म 'सात खून माफ' कश्मीर से बॉलीवुड के भूले-बिसरे रिश्ते की यादों को ताजा करेगी। इस फिल्म के प्रति न केवल स्थानीय लोगों में उत्साह है बल्कि इससे उनकी हिंदी फिल्मकारों के घाटी से रिश्ते की यादें भी ताजा हो रही हैं।

    पिछले महीने में मुगल गार्डन्स, पुराने शहर के विरासत घर और कश्मीर विश्वविद्यालय परिसर में इस फिल्म की शूटिंग हुई थी। स्थानीय पर्यटन विभाग के एक अधिकारी ने यहां बताया कि फिल्म के कुछ हिस्से की शूटिंग शहर के ट्यूलिप गार्डन में भी हो रही है। फिल्म की शूटिंग देखने को उत्सुक स्थानीय लोग शूटिंग स्थल पर जमा हो रहे हैं, जिसे देखते हुए राज्य प्रशासन ने फिल्म यूनिट को विशेष सुरक्षा उपलब्ध कराई है।

    इन पुरानी फिल्मों की शूटिंग यहां हुई है

    यहां 'अंदाज', 'मेरे सनम', 'जंगली', 'फिर वही दिल लाया हूं', 'दो बदन', 'आरजू', 'कश्मीर की कली', 'कल आज और कल', 'सिलसिला' और 'रोटी' जैसी यादगार फिल्मों की शूटिंग हुई है। इसके अलावा ई. एम. फोस्टर्स के उपन्यास पर बनी हॉलीवुड की
    लोकप्रिय फिल्म 'ए पैसेज टू इंडिया' की भी शूटिंग यहीं हुई थी।

    भारद्वाज की फिल्म रस्किन बांड की कहानी 'सुसान्नाज सेवन हस्बेंड्स' पर आधारित है। फिल्म में अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने मुख्य भूमिका निभाई है जबकि उनके सात पतियों के रूप में नसीरुद्दीन शाह, जॉन अब्राहम, नील नितिन मुकेश, इरफान खान, अनु कपूर और विवान शाह नजर आएंगे।

    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X