For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    ताल डायरेक्टर सुभाष घई पर लगे गंभीर आरोप - मुझे ड्रग्स दिया और फिर मेरा रेप किया

    |

    बॉलीवुड में फिलहाल बहुत ही अच्छा समय चल रहा है। क्योंकि महिलाएं, एक एक कर, अपने खिलाफ हुए अत्याचारों पर खुलकर बोल रही है। महिलाएं उन सब बड़े लोगों के नाम उजागर कर रही हैं जिन्होंने इन महिलाओं का यौन शोषण किया है। अब एक महिला ने सुभाष घई पर इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि सुभाष घई ने पहले मुझे ड्रग्स दिया और फिर मेरा रेप किया।

    हालांकि पीड़िता ने अपना नाम नहीं बताया है और उन्होंने जिस तरह अपनी कहानी बयान की है, कोई भी दहल जाएगा। जैसे ही उनकी कहानी सामने आई, एक और औरत ने कहा कि मेरे साथ भी कुछ अजीब हुआ है तो मैं तुम्हारी बात का भरोसा करती हूं।

    इन सबमें सबसे दुखी करने वाली बात ये है कि जब पीड़िता इन बातों को किसी के साथ शेयर करती है तो लोग इसे दबाने की सलाह देते हैं या सह लेने की। सुभाष घई के केस में भी पीड़िता को सलाह दी गई कि वो आदमी ही ऐसा है। सबको गंदी नज़रों से देखता है जाने दो।

    जानिए पीड़िता ने अपनी कहानी किस तरह बयान की -

    कहा था मेरे गुरू बनेंगे

    कहा था मेरे गुरू बनेंगे

    सुभाष घई ने मुझे वादा किया था कि वो मेरे गुरू बनेंगे। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ। उन्होंने कहा था कि फिल्म इंडस्ट्री में कैसे आगे बढ़ना है, इसकी सीख वो मुझे देंगे। मैंने उनकी बात सुनी क्योंकि मैं इस इंडस्ट्री में किसी को नहीं जानती थी। मैं काम सीखना चाहती थी और अपने माता पिता को साबित करना चाहती थी कि मैं डायरेक्टर बन सकती हूं।

    मुझे घर ड्रॉप करते थे

    मुझे घर ड्रॉप करते थे

    पहले वो मुझे गानों की रिकॉर्डिंग में ले जाते थे और मुझे बाकी पुरूषो के साथ बहुत देर तक वहां बैठना पड़ता था। कोई भी उनके सामने कुछ नहीं करता था। जब रिकॉर्डिंग खत्म हो जाती, मैं ऑटो लेकर घर आ जाती या फिर वो मुझे ड्रॉप कर देते थे।

    मेरी जांघों पर हाथ फेरने लगे

    मेरी जांघों पर हाथ फेरने लगे

    धीरे धीरे वो मेरी जांघों पर हाथ रखने लगे, मुझे ज़ोर से गले लगाने लगे और कहते थे कि आज तुमने बहुत अच्छा काम किया। फिर वो मुझे स्क्रिप्ट सेशन पर लोखंडवाला में अपने छोटे से अपार्टमेंट में बुलाने लगे। यहीं पर वो बाकी हीरोइनों के साथ भी स्क्रिप्ट सेशन करते थे।

    मुझे अकेले फ्लैट पर बुलाया

    मुझे अकेले फ्लैट पर बुलाया

    मैं जब अपार्टमेंट पहुंची तो वहां कोई नहीं था। वो अकेले अपने दो बेडरूम के फ्लैट में थे। इस घर में वो अपनी पत्नी के साथ नहीं रहते थे। वो कहते थे कि ये उनके सोचने की जगह है। स्क्रिप्ट की जगह वो मुझे बताने लगे कि कैसे पूरी इंडस्ट्री है जो उन्हें गलत समझती है।

    ज़बरदस्ती किया किस

    ज़बरदस्ती किया किस

    सुभाष घई मुझसे कहने लगे कि एक मैं ही हूं जो उनसे प्यार करती हूं, उन्हें समझती हूं। वो रोने की एक्टिंग करने लगे और अपना सर मेरी गोद में रख लिया।फर जब वो उठने लगे तो उन्होंने ज़बरदस्ती मुझे किस किया। मैं सकते में आ गई और वहां से चली गई।

    सबने कहा झेल लो, उनकी आदत है

    सबने कहा झेल लो, उनकी आदत है

    अगले दिन ऑफिस में उन्होंने मुझसे कहा कि प्यार करने वालों में झगड़ा होता रहता है और मुझे अपने काम का नुकसान नहीं करना चाहिए। मेरे पास कोई दूसरी नौकरी नहीं थी, पैसों का कोई दूसरा सहारा भी नहीं था। परिवार भी नहीं था। मैंने उनकी हरकत को जाने दिया। मैंने ये बात, फिल्म की असिस्टेंट डायरेक्टर और अपनी दो महिला मित्रों को बताई। उन्होंने कहा झेल लो, वो सबके साथ ये सब करने की कोशिश करते हैं।

    मुझे ड्रग्स दे दिया

    मुझे ड्रग्स दे दिया

    एक शाम को म्यूज़िक सेशन के बाद फिर से लेट हो गया और वो ड्रिंक करने लगे। उन्हें व्हिस्की काफी पसंद है। उनके ड्राईवर के पास हमेशा गाड़ी में ड्रग्स पड़ा रहता था। उन्होंने मुझे भी एक ड्रिंक दिया और उसमें ड्रग्स था। इसके बाद जो मुझे याद है, मैं गाड़ी में बैठी और मुझे लगा वो मुझे घर छोड़ रहे हैं।

    मुझे होटल ले गए

    मुझे होटल ले गए

    लेकिन गाड़ी लोनावला की तरफ घूम गई। मैं होश में आ रही थी, जा रही थी। मैं अपने बच्चे की कसम खाकर कहती हूं कि मैंने उनसे पूछा कि हम कहां जा रहे हैं और कृपया मुझे घर छोड़ दें। वो मुझे फारिया होटल ले गए। वो वहां लगातार लिखने के लिए जाते थे।

    मुझे होटल के कमरे में ले गए

    मुझे होटल के कमरे में ले गए

    फारिया होटल में उनके लिए हमेशा एक कमरा बुक रहता था। मैं लड़खड़ा रही थी लेकिन वो मुझे पकड़कर अपने कमरे में ले गए। उन्होंने मेरी जींस खोली और मुझ पर चढ़ गए। मैं चिल्लाना चाह रही थी लेकिन उन्होंने मेरा मुंह दबा दिया। मैं ज़्यादा संघर्ष नहीं कर पाई क्योंकि मैं पूरे होश में नहीं थी।

    मैं उठी तो वो नाश्ता कर रहे थे

    मैं उठी तो वो नाश्ता कर रहे थे

    मैं रोई और सो गई। अगली सुबह उन्होंने अपने लिए टोस्ट ऑर्डर किया था। जब मैं सोकर उठी तो वो आराम से नाश्ता कर रहे थे। सोफा पूरा लाल था। कमरे में सूरज की रोशनी आ रही थी। मैं उठी और उल्टी करने चली गई।

    मैंने इस्तीफा दे दिया

    मैंने इस्तीफा दे दिया

    उन्होंने मुझे घर छोड़ दिया। मैंने काम से कुछ दिन की छुट्टी ली और उनकी टीम से एक आदमी ने मुझे फोन करके कहा कि अगर मैंने काम छोड़ा तो मुझे उस महीने की सैलेरी नहीं मिलेगी। मैं एक हफ्ते बाद गई और अपना इस्तीफा दे दिया।

    XX
    English summary
    Bollywood Me Too Movement: Subhash Ghai accused of drugging and raping a woman.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X