»   » #ThankGod सलमान हीरो नहीं है....अटक कर रह जाती ये 600 करोड़ी ब्लॉकबस्टर!

#ThankGod सलमान हीरो नहीं है....अटक कर रह जाती ये 600 करोड़ी ब्लॉकबस्टर!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

2017 की पहली ऑल टाइम ब्लॉकबस्टर और भारत की पहली 600 करोड़ी फिल्म रिलीज़ के लिए तैयार है। बाहुबली 2 के लिए फैन्स एक्साइटेड हैं और शुक्र मनाइए कि फिल्म के हीरो सलमान खान नहीं हैं वरना ये 600 करोड़ी ब्लॉकबस्टर प्रेम रतन धन पायो बन कर रह जाती।

दरअसल, बाहुबली ज़रूरत से ज़्यादा लंबी फिल्म है 2 घंटा 52 मिनट की। यानि कि लगभग तीन घंटा। इतनी ही लंबी फिल्म थी सूरज बड़जात्या की प्रेम रतन धन पायो और जानने वाले बताते हैं कि सूरज ने बहुत शानदार फैमिली ड्रामा बनाया था।

bahubali-2-runtime-locked-will-it-bring-back-the-long-era-bollywood
 

लेकिन तीन घंटा सुनते ही सलमान का ड्रामा शुरू हो गया और उन्होंने फिल्म कटवाना शुरू किया। सलमान ने फिल्म को छोटा करवा कर शो बढ़वाने की हिदायत दे डाली और सूरज को उनकी बात माननी पड़ी। अब सलमान की ज़िद की लिस्ट तो यहां पढ़िए! 

बस फिर क्या था अच्छी खासी फिल्म से सब कुछ निकल गया। वहीं सूरज अपनी इस शानदार फिल्म को और शानदार बनाना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने फिल्म का बेस्ट गाना रखा - हालो रे।

लेकिन सलमान ने उसे शूट करने से मना कर दिया और गाना आधा - तिहाई फिल्म में दिखाई दिया। नतीजा तो सबको पता है। प्रेम रतन धन पायो लोगों ने रिजेक्ट कर दी। फिल्म उतनी कमाई नहीं कर पाई जितना ताबड़तोड़ फिल्म कमा सकती थी।

अब एसएस राजामौली ने ऐसी कोई गलती नहीं की है और फिल्म इतनी ही लंबी रहेगी। वैसे भी बॉलीवुड के दर्शकों को एक से एक लंबी फिल्में देखने की आदत है -
 

बॉलीवुड की सबसे लंबी फिल्में

बॉलीवुड की सबसे लंबी फिल्में

आपको फटाफट दिखाते हैं बॉलीवुड की सबसे लंबी फिल्में। ये सारी फिल्में 3 30 घंटे से लंबी हैं और हम आपके हैं कौन इस लिस्ट में आने से केवल 4 मिनट से चूंकि थी! वहीं कुछ फिल्में तो 4 घंटा, 4 30 घंटा और 5 घंटा की भी हैं!

कभी खुशी कभी गम

कभी खुशी कभी गम

अब इतनी बड़ी स्टारकास्ट थी फिल्म को छोटा करते भी तो कैसे। वैसे करण जौहर ने फिल्म से लगभग 1 घंटे के सीन काटे थे जो उन्होंने बाद में अलग से रिलीज़ किए थे। और इन सीन में अभिषेक बच्चन भी थे!

इंदर सभा

इंदर सभा

1932 में प्रस्तुत की गई फ़िल्म 'इन्द्रसभा' भारतीय सिनेमा के इतिहास की सबसे पहली बोलने वाली (टाकीज़) फ़िल्म थी। सबसे पहली भारतीय ध्वनिपूर्ण फ़िल्म 'आलम आरा' थी और 'इन्द्रसभा' ठीक उस से अगले ही वर्ष रिलीज़ हुई। इसमें 70 से भी अधिक गाने थे, जो विश्व-इतिहास में किसी भी बनी हुई फ़िल्म में सर्वाधिक हैं।

संगम

संगम

1964 में आई यह राजकपूर की फिल्म लगभग 4 घंटे लंबी थी। फिल्म एक लव ट्राएंगल थी और इसका गाना बोल राधा बोल संगम होगा कि नहीं काफी फेमस हुआ था।

गैंग्स ऑफ वसेपुर

गैंग्स ऑफ वसेपुर

अनुराग कश्यप ने फिल्म इतनी लंबी बना दी थी कि इसे दो पार्ट में काटना पड़ गया। हालांकि बैक 2 बैक अगर दोनों फिल्में देख लीजिए तो आज भी मज़ा ही आ जाता है।

एलओसी कारगिल

एलओसी कारगिल

अब चूंकि जेपी दत्ता की ये फिल्म कारगिल युद्ध की जीती जागती तस्वीर थी इसलिए इसे लंबा होना ही था।

स्वदेस

स्वदेस

यह फिल्म अनिवासी भारतीयो के बीच ज्यादा लोकप्रिय रही। और इसका लंबा होना बॉक्स ऑफिस के लिए काफी नुकसानदेह साबित हुआ था।

सौदागर

सौदागर

सुभाष घई की ये फिल्म गानों की वजह से काफी फेमस हुई। चाहे इमली का बूटा हो या फिर इलू इलू।

जोधा अकबर

जोधा अकबर

ऐश्वर्या राय की शादी के बाद की पहली फिल्म और फिर से ऋतिक रोशन के साथ। फिल्म चलने के लिए इतना ही काफी था।

मोहब्बतें

मोहब्बतें

शाहरूख खान ने इस फिल्म से अपनी छवि बदली तो अमिताभ बच्चन के लिए ये कमबैक फिल्म साबित हुई।

सलाम ए इश्क

सलाम ए इश्क

फिल्म में 6 प्रेम कहानियां थीं और सारी एक से बढ़कर एक बोरिंग। ऐेसे में कोई कैसे साढ़े तीन घंटा देख सकता था।

रक्त चरित्र

रक्त चरित्र

ये फिल्म भी काफी लंबी थी और इसे दो भागों में रिलीज़ किया गया था।

हम साथ साथ हैं

हम साथ साथ हैं

ज़ीसिनेमा की अपनी घर वाली फिल्म। कभी भी देख लीजिए आती रहेगी।

मेरा नाम जोकर

मेरा नाम जोकर

राजकपूर की ये फिल्म फ्लॉप थी। बाद में किसी ने सलाह दी कि तीन घंटे की फिल्म रिलीज़ करे। इसे काट कर रिलीज़ किया गया औऱ फिल्म धुंआधार चली।

तमस

तमस

भीष्म साहनी के उपन्यास पर बनी यह फिल्म बहुत ही कम लोगों ने देखी है। एक बार देखिएगा ज़रूर साहस बटोर के।

नरसिम्हा

नरसिम्हा

सनी देओल को उनके फैन्स कितने भी घंटे देख सकते हैं!

लगान

लगान

अब फिल्म में पूरी क्रिकेट टीम बनाकर मैच भी दिखाना है तो इतना समय तो लगेगा बॉस!

बोस द फॉरगॉटेन हीरो

बोस द फॉरगॉटेन हीरो

सुभाष चंद्र बोस का जीवन वाकई काफी दिलचस्प था!

कभी अलविदा ना कहना

कभी अलविदा ना कहना

करण जौहर ने फिल्म बनाई ही क्यों थी पता नहीं।

खतरनाक

खतरनाक

हमने फिल्म के बारे में कुछ नहीं सुना है पऱ फिल्म है ज़रूर!

English summary
Bahubali 2 runtime locked will it bring back the long era of bollywood?
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi