For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    आर्यन खान ड्रग्स केस झूठा है, क्रूज़ पर छापे में NCB को कोई ड्रग्स नहीं मिली - महाराष्ट्र मंत्री नवाब मलिक

    |

    आर्यन खान ड्रग्स केस धीरे धीरे अब राजनीतिक रूप लेता जा रहा है। बुधवार को NCP नेता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने यह कह कर हर किसी को सकते में डाल दिया कि ये पूरा केस ही नकली है। NCB को जहाज़ पर छापा मारने के बाद कोई ड्रग्स बरामद ही नहीं हुई। नवाब मलिक का ये भी कहना है कि पूरी रेड केवल शाहरूख खान को टार्गेट करने के लिए ही की गई।

    महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि एक महीने से कई क्राईम रिपोर्टर्स को ये खबर दी गई थी कि मुंबई में अगला निशाना शाहरूख खान बनने वाले हैं। भाजपा और NCB ने मिलकर ये टार्गेट प्लान किया। ये केवल मुंबई और बॉलीवुड की छवि खराब करने की कोशिश है।

    नवाब मलिक ने अपने बयान में ये भी साफ कहा कि NCB को जहाज़ से कोई ड्रग्स बरामद ही नहीं हुई। जो भी तस्वीरें वायरल हैं वो NCB के दफ्तर की हैं, जहाज़ की नहीं। वहीं सबसे पहले हिरासत में लिए गए तीन लोग थे - आर्यन खान, अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमीचा। इन्हीं तीन लोगों को सबसे पहले गिरफ्तार भी किया गया। जबकि गिरफ्तारी में भी साफ कहा गया है कि आर्यन खान के पास से कोई ड्रग्स बरामद नहीं हुआ। उन्हें केवल कुछ वॉट्सएप चैट और संदेह के दम पर गिरफ्तार किया गया।

    तस्वीर में कौन है ये शख्स?

    तस्वीर में कौन है ये शख्स?

    जब आर्यन खान को हिरासत में लिया गया तो उनकी ये तस्वीर भी वायरल हुई थी। NCB ने अपनी ओर से बयान जारी करते हुए कहा था कि इस तस्वीर में जो आदमी सेल्फी ले रहा है वो NCB का कर्मचारी नहीं है। अब नवाब मलिक का कहना है कि तस्वीर में दिख रहा व्यक्ति दरअसल भाजपा का एक कार्यकर्ता है। वहीं उन्होंने कहा कि NCB के ऑफिस से जितने भी वीडियो वायरल हुए हैं उनमें मनीष भानुशाली नाम का एक व्यक्ति है जो भाजपा का कार्यकर्ता है।

    NCB ने किया खंडन

    NCB ने किया खंडन

    इन सारी अफवाहों का NCB ने खंडन किया है और एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा - हम पर लगाए जा रहे आरोप बेबुनियाद हैं। और इन आरोपों का कारण NCB द्वारा की गई कुछ पुरानी कार्यवाही है जिसका गुस्सा आज निकाला जा रहा है। NCB बात कर रही है एक पुराने ड्रग्स छापे की जिसमें नवाब मलिक के दामाद समीर खान को 13 जनवरी 2021 को ड्रग्स केस में गिरफ्तार किया गया था और उन्हें सितंबर में ज़मानत मिली है।

    बॉलीवुड पर ही साधा जा रहा है निशाना

    बॉलीवुड पर ही साधा जा रहा है निशाना

    वहीं नवाब मलिक का कहना है कि इस केस में सीधा बॉलीवुड पर ही निशाना साधा जा रहा है और ये दिखाया जा रहा है कि मुंबई की फिल्म इंडस्ट्री में कितना कीचड़ है। उनका कहना है कि ये पूरा मामला सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से शुरू हुआ है और तब से लगातार केवल बॉलीवुड को टार्गेट किया जा रहा है। समीर वानखेड़े ने भी एक बयान में इन सारे आरोपों का खंडन किया है।

    शाहरूख खान से लेेना देना ही नहीं है

    शाहरूख खान से लेेना देना ही नहीं है

    NCB ऑफिसर समीर वानखेड़े ने साफ किया था कि शाहरूख खान से उनकी कोई निजी दुश्मनी नहीं है और वो किसी को टार्गेट नहीं कर रहे हैं। उनकी टीम सारा काम कानून के दायरे में रह कर ही कर रही है। आर्यन खान और उनके दोस्त अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमीचा को मुंबई की एक रेव पार्टी से ड्रग्स लेने के आरोप में शनिवार को हिरासत में लिया गया था।12 - 14 घंटों की पूछताछ के बाद इन तीनों को ही 10 और लोगों के साथ रविवार को NDPS के सेक्शन 27 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया था।

    समीर वानखेड़े की हो रही है तारीफ

    समीर वानखेड़े की हो रही है तारीफ

    NCB ने इस केस में अब क्रूज़ के मालिकों को भी समन भेज दिया है। हालांकि, क्रूज़ के मालिक ने पहले ही एक बयान में कहा था कि जिस समय ये पार्टी चल रही थी उस समय क्रूज़ एक चार्टर शिप की तरह काम कर रहा था। फिर भी वो जांच में पूरा सहयोग करने को तैयार हैं। आर्यन खान की गिरफ्तारी पर भी NCB का कहना था कि कौैन किसका बेटा है, या कितना बड़ा आदमी है इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। हर काम कानून के दायरे में रहकर किया जा रहा है। वहीं उनकी गिरफ्तारी के बाद समीर वानखेड़े और उनकी टीम की तारीफ हो रही है।

    ड्रग सिंडिकेट की तलाश

    ड्रग सिंडिकेट की तलाश

    इस केस में आर्यन खान और उनके दो दोस्त अरबाज़ मर्चेंट और मुनमुन धमीचा को मिलाकर कुल 17 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। NCB ने एक विदेशी नागरिक को भी गिरफ्तार किया है। NCB का कहना है कि देश का युवा ड्रग्स की तरफ कैसे और किसलिए आकर्षित होता जा रहा है, इसकी जड़ खोजना बहुत ही ज़रूरी है। इन चैट्स में ड्रग पेडलर्स ने कोड में अपने नाम शेयर किए हैं जो इस पूरे केस को किसी बड़े ड्रग सिंडिकेट की तरफ ले जा सकते हैं।

    English summary
    Aryan Khan drugs case has now turned political with Maharashtra Minister Nawab Malik calling Aryan Khan drugs case fake. No drugs was seized from the ship claims Malik. An attempt to malign Bollywood.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X