For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    अमिताभ बच्चन के दो साथी, दो फिल्मों की एनिवर्सरी, श्रीदेवी की खुदा गवाह, इरफान की पीकू, यूं किया याद

    |

    अमिताभ बच्चन के लिए 8 मई कुछ पुरानी यादें लेकर आया जो उनके दिल को थोड़ा सा दुखा गया। दरअसल, 8 मई को अमिताभ बच्चन की दो फिल्में रिलीज़ हुई थीं - पहली पीकू और दूसरी खुदा गवाह।

    अमिताभ बच्चन ने इन दोनों ही फिल्मों को याद किया और अपना दुख साझा किया। दोनों ही फिल्मों के साथी कलाकार अब नहीं रहे।

    जहां पीकू में अमिताभ बच्चन और इरफान खान की केमिस्ट्री की खूब तारीफ हुई थी वहीं दूसरी तरफ खुदा गवाह के साथ अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी की केमिस्ट्री ने लोगों का दिल जीता था।

    दुखद ये है कि ये दोनों ही कलाकार असमय मृत्यु का शिकार हुए और दोनों का ही अचानक दुनिया से चले जाना हर किसी को सदमा दे गया था।

    मौत का एहसास

    मौत का एहसास

    श्रीदेवी की मौत से ठीक 5 घंटे पहले अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट किया था जिसका कोई मतलब नहीं था। लेकिन इस ट्वीट के ठीक 2 घंटे बाद श्रीदेवी की मौत की खबर आई। अमिताभ बच्चन ने लिखा था - एक अजीब सी घबराहट हो रही है।

    चार फिल्मों में किया है काम

    चार फिल्मों में किया है काम

    अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी ने चार फिल्मों में साथ काम किया है। दोनों ही अपने दौर के सुपरस्टार थे लेकिन उन्हें साथ में कभी जोड़ी के रूप में वो स्टारडम नहीं मिला।

    आखिरी फिल्म सुपरहिट

    आखिरी फिल्म सुपरहिट

    अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी ने लीड पेयर के रूप में आखिरी फिल्म की थी खुदा गवाह। फिल्म को मुकुल आनंद ने डायरेक्ट किया था।

    बॉक्स ऑफिस पर धमाका

    बॉक्स ऑफिस पर धमाका

    खुदा गवाह बॉक्स ऑफिस पर सुपरहिट थी। इस फिल्म के सभी गाने, काफी फेमस हुए थे। और अमिताभ बच्चन श्रीदेवी की जोड़ी को भी काफी पसंद किया गया था।

    इरफान खान का साथ

    इरफान खान का साथ

    इरफान खान की मौत के बाद अमिताभ बच्चन बहुत ज़्यादा दुखी हुए थे। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा था कि इरफान केवल एक बेहतरीन अभिनेता ही नहीं, बल्कि विश्व सिनेमा का अनमोल सितारा थे। अमिताभ ने दुख जताते हुए लिखा था कि इरफान हमें बहुत जल्दी छोड़ गए।

    क्या ज़्यादा दुखी

    क्या ज़्यादा दुखी

    अमिताभ बच्चन को अगले ही दिन ऋषि कपूर की मौत की खबर मिली जिसने उन्हें तोड़ दिया। उन्होंने कुछ समय बाद लोगों से पूछा था कि क्या ज़्यादा दुखी करता है - एक जवान सितारे को खो देना या फिर एक वृद्ध सितारे को खोना।

    इरफान का जाना ज़्यादा बड़ा दुख

    इरफान का जाना ज़्यादा बड़ा दुख

    अमिताभ बच्चन ने अपने इस पोस्ट में माना था कि दोनों ही कलाकार लोकप्रिय थे लेकिन फिर भी एक जवान सितारे का धूमिल हो जाना ज़्यादा दुख देता है। क्योंकि जो जवान था उसकी गुंजाईश की भी मृत्यु हो गई। जो संभावनाएं उसमें थीं वो भी खत्म हो गईं।

    सालों का साथ

    सालों का साथ

    अमिताभ बच्चन और ऋषि कपूर का साथ सालों का था। दोनों ने लगभग एक ही समय पर अपने करियर की शुरूआत की थी। लेकिन दोनों ही अपनी अलग अलग विधा के मास्टर हुए। पर दोनों साथ में जब भी आते थे स्क्रीन पर आग बरसाते थे।

    English summary
    Amitabh Bachchan remembered two of his late co stars Irrfan Khan and Sridevi on coinciding anniversaries of two films Piku and Khuda Gawah.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X