For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    SHOLAY: पाकिस्तान में गूंजेगी अब गब्बर की आवाज

    |

    कितने आदमी थे....यह डॉयलोग सुनकर आज भी दर्शकों की घिग्गी बंध जाती है। गब्बर सिंह हो या जय-वीरू, इन किरदारों ने हमारी जिंदगी में जो जगह बनाई है, वह शायद ही कोई और बना सकता है। 40 सालों के बाद भी यह नाम उतने ही नए और ताजे लगते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं 1975 में आई रमेश सिप्पी की फिल्म 'शोले' की। जिसे पहली बार 23 मार्च को पाकिस्तान में रिलीज किया जा रहा है।

    अमिताभ बच्चन और धर्मेन्द्र की फिल्म शोले को आखिरकार 40 सालों के बाद पाकिस्तान में रिलीज किया जाएगा। यह 1975 की बेहद सफल और भारतीय सिनेमा को एक नया मोड़ देने वाली फिल्म है, जिसने दशकों बाद भी सबके दिलों में अपना छाप छोड़ा हुआ है। फिल्म में अदाकारी समेत इसके गाने भी काफी पॉपुलर थे।

    पढ़ें- अब टीवी पर देखिए शोले की कार्टून सीरीज़

    आपको बता दें, पाकिस्तान मनोरंजन जगत से जुड़े एक प्रमुख फिल्म प्रदर्शक और वितरक ने पहली बार पाकिस्तान में भारतीय फिल्म 'शोले' को प्रदर्शित करने का फैसला किया है। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन, धमेंद्र, हेमा मालिनी, संजीव कुमार और अमज़द खान ने मुख्य किरदार निभाए थे। वहीं, इस फिल्म के डॉयलोग्स को खास पहचान मिली थी।

    मांडवीवल्ला इंटरटेनमेंट के मालिक नदीम मांडवीवल्ला ने बताया कि,'पाकिस्तानी सिनेमाघरों में यह फिल्म कभी प्रदर्शित नहीं हुयी और यहां के लोगों ने केवल इसे पायरेटेड तरीके से देखा है। लिहाजा, मुझे लगता है कि पाक के हर नागरिक ने यह फिल्म देखी या इसके बारे में सुनी है।' मांडवीवल्ला बताते हैं, मुझे पूरी उम्मीद है कि फिल्म को पाकिस्तान के हर पीढ़ी के दर्शक काफी पसंद करेंगे और यह एक कमाल का अनुभव होगा।

    English summary
    Pakistanis will finally have a chance to see it on the big screen when it hits theatres on March 20, nearly four decades after its release.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X