For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    महानायक ने भी माना... बहुत कठिन है डगर बॉलीवुड की

    |

    अमिताभ बच्चन बॉलीवुड का वह नाम है जो किसी भी परिचय का मोहताज नहीं हैं बल्कि अपने आप में एक संपूर्ण किताब है जिसके हर एक पन्ने पर आपको एक प्रेरणासूचक कहानी मिलेगी। अर्श से फर्श पर और फर्श से फिर अर्श तक पहुंचने का कामयाब उदाहरण अमिताभ से अच्छा कोई नहीं हो सकता है।

    पिछले चालीस साल से फिल्मी दुनिया की सेवा कर रहे अमिताभ की शख्सियत रील लाइफ और रीयल लाइफ दोनों जगह ऐसी है, जिसे शब्दों में बयां कर पाना बहुत मुश्किल हैं। एक तरफ अगर वो सदी के महानायक हैं तो वहीं दूसरी ओर वह बेहद ही लविंग और केयरिंग दादू भी हैं। अभिनय और रिश्तों को समझने वाले महारथि अगर बॉलीवुड के बारे में कोई बात कहें तो जरूर उस बात में सच्चाई होगी।

    मेगास्टार अमिताभ बच्चन ने माना कि आज का बॉलीवुड पहले के मुकाबले काफी बदल चुका है, आज चारों ओर प्रतिस्पर्धा ज्यादा है। आज हर कलाकार को अपनी पहली ही फिल्म से साबित करना होता है कि उसमें स्पार्क हैं। अमिताभ ने आगे यह भी कहा कि अच्छा हुआ कि उन्होंने बॉलीवुड में आज नहीं पहले कदम रखा। वरना आज उन्हें भी अपने को साबित कर पाना बहुत मुश्किल हो जाता।

    आईये आपको बताते हैं अमिताभ बच्चन से जुड़ी कुछ खास बातें...

    आज का टाइम काफी टफ है

    आज का टाइम काफी टफ है

    अमिताभ बच्चन ने माना कि आज का बॉलीवुड पहले के मुकाबले काफी बदल चुका है, आज चारों ओर प्रतिस्पर्धा ज्यादा है। आज हर कलाकार को अपनी पहली ही फिल्म से साबित करना होता है कि उसमें स्पार्क हैं।

    आज केवल एक चांस

    आज केवल एक चांस

    बिग बी ने कहा कि आज एक्टर को केवल एक ही बार चांस मिलता है अपने आप को साबित करने का लेकिन उनके समय में पहले ऐसा नहीं होता था।

    एक्टिंग स्कूल में नहीं पढ़ा

    एक्टिंग स्कूल में नहीं पढ़ा

    अमिताभ ने कहा कि उनके जमाने में उन्हें एक्टिंग स्कूलों के बारे में ज्यादा नहीं पता था, नहीं तो वह जया-शत्रुघन सिन्हा की तरह एक्टिंग स्कूल से पढ़ कर आते।

    1969 में पहली फिल्म

    1969 में पहली फिल्म

    अमिताभ की पहली फिल्म 1969 में आयी हम सात हिंदुस्तानी थी जिसमें अमिताभ की हिरोईन अरूणा ईरानी थीं।

    पहली सफलता 1973 में..

    पहली सफलता 1973 में..

    साल 1969 में बॉलीवुड में कदम रखने के बाद भी अमिताभ के संघर्ष का दौर लगातार जारी रहा। उनकी सारी फिल्में लगातार पिटती चली गयीं। उनकी पहली हिट फिल्म जंजीर थी जो कि साल 1973 में आयी थी।

    वैज्ञानिक बनना चाहते थे

    वैज्ञानिक बनना चाहते थे

    अमिताभ ने कहा कि वह साइंस के स्टूडेंट थे, उनके गणित और विज्ञान में नंबर काफी अच्छे थे तो उन्हें लगता था कि वह वैज्ञानिक बन सकते हैं लेकिन पहले ही दिन के लेक्चर से उन्हें लगा कि यह सब उनके बस का नहीं है और वह एक्टर बनने मुंबई चले आये।

    English summary
    Times have changed a lot in Bollywood says Amitabh Bachchan. Big B talks about competition in the current Bollywood era.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X