For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    फैन्स का फैसला - अक्षय कुमार की लक्ष्मी फ्लॉप, IMDb पर गिरती ही जा रही रेटिंग

    |

    अक्षय कुमार स्टारर लक्ष्मी रिलीज़ हो चुकी है और इस अजीब सी फिल्म की इज्ज़त बचाते हैं लक्ष्मी की भूमिका में दिखने वाले शरद केलकर। ट्विटर पर लोगों ने फिल्म देखने के बाद अक्षय कुमार की असफल कोशिश पर काफी खरी खोटी सुनाई है।

    वहीं फिल्मों की सबसे बड़ी वेबसाइट IMDb पर फिल्म की रेटिंग इसके रिलीज़ होने के कुछ ही घंटों में लगातार गिरती जा रही है और फिलहाल 2 के आसपास पहुंच चुकी है।

    और इसका कारण साफ है - फिल्म में ऐसा कुछ था ही नहीं जिसकी तारीफ की जा सके। सिवाय एक इंसान के। और वो इंसान थे शरद केलकर, जिन्होंने फिल्म में किन्नर लक्ष्मी की भूमिका निभाई। फिल्म की पूरी समीक्षा आप यहां पढ़ सकते हैं - लक्ष्मी फिल्म रिव्यू।

    बात करें अगर अक्षय कुमार और कियारा आडवाणी की जोड़ी की तो लोगों ने उसे भी जमकर बातें सुनाई है। देखिए फिल्म के बारे में लोगों की क्या राय है और जनता का आखिरी फैसला क्या है -

    बस करिए अक्षय

    बस करिए अक्षय

    ये यूज़र अक्षय कुमार से परेशान हो चुके हैं। इन्होंने लिखा - अक्षय जी अब आप फिल्में छोड़कर राजनीति में आ जाइए। वही आपकी सही जगह है। बहुत ही बेकार फिल्म है।

    ऊब गए दर्शक

    ऊब गए दर्शक

    सामाजिक और कॉमेडी फिल्म बनने की आड़ में लक्ष्मी 2 घंटे की बेहद ऊबा देने वाली फिल्म है जहां पर कॉमेडी में हंसी नहीं आती है और हॉरर में डर नहीं लगता है। फिल्म कई लोगों को खुश करने की कोशिश में किसी पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है।

    बेरहमी से किए ट्वीट

    बेरहमी से किए ट्वीट

    फिल्म को देखकर कुछ लोगों ने साफ यही रिएक्शन दिया - कि भईया अब नस ही काट लो ये देखने से बेहतर है।

    कुछ देखने लायक नहीं

    कुछ देखने लायक नहीं

    एक यूज़र नेहा राय लिखती है - मुझे फिल्म से बहुत उम्मीदें थीं। ये एक फिल्म है जो एक अच्छे मुद्दे को उठाती है और बर्बाद करके छोड़ देती है। बेकार डायलॉग्स और खराब प्लॉट फिल्म को कहीं का नहीं छोड़ते। फिल्म के इकलौते स्टार हैं शरद केलकर जो अक्षय कुमार को टक्कर देते हैं और उनसे बेहतर काम करते हैं। बाकी कोई प्रभाव नहीं छोड़ता। देखने लायक ही नहीं है।

    अब क्या ही करें

    अब क्या ही करें

    वहीं कुछ फैन्स ने वसेपुर के डायलॉग्स के साथ फिल्म को खरी खोटी सुनाई।

    10 मिनट में बंद

    10 मिनट में बंद

    संजय मेहता ने लिखा - लक्ष्मी के पहले 10 मिनट अझेल हैं। मुझे पता नहीं कि आगे की फिल्म कैसी है क्योंकि 10 मिनट के बाद मैंने फिल्म देखना ही बंद कर दिया।

    उठा ले रे बाबा

    उठा ले रे बाबा

    फिल्म को पांच मिनट देखने वालों का रिएक्शन कुछ यूं था।

    बहुत मुश्किल समय

    बहुत मुश्किल समय

    मैंने 2 घंटे की फिल्म 20 मिनट में देख डाली और इसके आगे का कुछ मत पूछिए। हॉटस्टार को धन्यवाद इस फिल्म को ऑनलाइन रिलीज़ करने के लिए। अगर ये फिल्म थियेटर में रिलीज़ हो जाती तो 2 घंटे झेलना मुश्किल हो जाता।

    English summary
    Akshay Kumar's Laxmii got negative verdict from the audience and IMDb rating for the film has hit a new low.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X