India
    For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    अक्षय कुमार ने किया 1 करोड़ का महादान, अमित शाह को दिखाएंगे पृथ्वीराज: ट्विटर ने दिया रिएक्शन

    |

    अक्षय कुमार जब से सरकार के चहेते बने हैं तब से उनका हर कदम आलोचनाओं का शिकार हो ही जाता है। भले ही वो जितना अच्छा कर रहे हों लेकिन फिर भी लोग उन पर उंगलियां उठाना नहीं छोड़ते हैं। अब ऐसा ही कुछ हुआ है अक्षय कुमार से जुड़े दो फैसलों के साथ। अक्षय कुमार से जुड़ी दो खबरों पर इंटरनेट पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

    पहली खबर है अक्षय कुमार का महादान। अक्षय कुमार ने मध्यप्रदेश के आंगनबाड़ी स्कूलों के लिए 1 करोड़ का दान दिया और साथ 50 स्कूलों को गोद लेने का एलान किया। इस कदम के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने उन्हें धन्यवाद दिया है। लेकिन लोगों की मानें तो अक्षय कुमार का ये कदम केवल पृथ्वीराज की रिलीज़ से पहले प्रमोशन का तरीका है।

    लोगों का ये भी मानना है कि अक्षय कुमार ने केवल वादा किया है, इसकी भरपाई यशराज फिल्म्स पृथ्वीराज के प्रमोशन बजट से करेगा। दूसरी तरफ खबर है कि 3 जून को रिलीज़ से पहले अक्षय कुमार ने गृहमंत्री अमित शाह के लिए 1 जून को यशराज स्टूडियो में पृथ्वीराज की एक खास स्क्रीनिंग रखी है। इस पर भी ट्विटर पर उनकी जमकर आलोचना की जा रही हैं। लोगों का मानना है कि पृथ्वीराज की टीम पूरा बंदोबस्त कर रही है कि सरकार इस फिल्म को प्रमोट करे और बड़े और कद्दावर नेता फिल्म के बारे में ट्वीट करें।

    Akshay Kumar की फिल्म Prithviraj नही होगी राजस्थान में release, गुर्जर समाज ने दी धमकी | FilmiBeat
    नाम को लेकर हो रही है आलोचनाएं

    नाम को लेकर हो रही है आलोचनाएं

    गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है जब अक्षय धार्मिक या राजनीतिक मुद्दों के बीच फंस गए हों और उनकी जमकर आलोचना की गई हो। एक तरफ जहां कर्णी सेना, फिल्म का विरोध कर रही है और चाहती है कि फिल्म का नाम सम्राट पृथ्वीराज चौहान हो वहीं दूसरी तरफ, कुछ दिन पहले अक्षय कुमार ये कह कर विवादों में फंस गए थे कि उनकी फिल्म को स्कूलों में ज़रूर दिखाया जाना चाहिए। लोगों का मानना था कि अक्षय का ये विचार केवल फिल्म की कमाई बढ़ाने का ज़रिया है।

    राम मंदिर के लिए मांगा था दान

    राम मंदिर के लिए मांगा था दान

    अक्षय कुमार ने कुछ महीनों पहले एक वीडियो बनाकर अयोध्या में बनने वाले भव्य राम मंदिर के लिए दान मांगा। जिसके बाद वो लगातार ट्रोल हुए थे। इसका कारण था अक्षय कुमार का एक पुराना वीडियो वायरल होना जिसमें वो मंदिरों में होने वाले खर्च का विरोध कर रहे थे। इस वीडियो में अक्षय कुमार मंदिरों में होने वाले फिज़ूल खर्च, दूध - दही - फूल - फल के दान का विरोध करते हुए कह रहे हैं कि वो पैसा गरीबों को जाना चाहिए। उस समय, अक्षय कुमार अपनी फिल्म ओह माय गॉड का प्रमोशन कर रहे थे। ये वीडियो तब वायरल हुआ जब अक्षय कुमार राम मंदिर के लिए दान मांगते दिखे।

    कोरोना के दान पर भी मिले ताने

    कोरोना के दान पर भी मिले ताने

    कोरोना महामारी के दौरान अक्षय कुमार का 25 करोड़ का दान हर किसी के गले की हड्डी बन गया। लोगों का कहना था कि अक्षय ने दान किया, अच्छी बात थी लेकिन उन्हें इस तरह राशि का एलान नहीं करना चाहिए था। अक्षय कुमार के कोरोना महादान की राशि के एलान पर अमिताभ बच्चन तक ने ताना मारते हुए कहा कि उन्हें दान करने के बाद ये बताना पसंद नहीं है कि कहां दिया, कितना दिया। वहीं शत्रुघ्न सिन्हा ने भी इसे शो ऑफ बता दिया। कुल मिलाकर सबने इसे अक्षय की PR एक्टिविटी बता डाला। हालांकि, अक्षय कुमार की पत्नी ट्विंकल खन्ना ने अपने पति की तारीफ एक ट्वीट में करते हुए लिखा था कि इस समय जहां हर कोई अपनी कमाई बचा कर रखने की कोशिश कर रहा है वहीं अक्षय मदद के लिए देश के साथ खड़े हैं।

    प्रधानमंत्री के इंटरव्यू में आम बातें

    प्रधानमंत्री के इंटरव्यू में आम बातें

    पिछले लोकसभा चुनाव के दौरान अक्षय कुमार नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू लेते दिखे। इस इंटरव्यू में उन्होंने नरेंद्र मोदी को एक आम इंसान की तरह पेश करने की कोशिश की जिसकी जमकर आलोचना हुई। लोग रोज़गार से लेकर सरकार तक के गंभीर मुद्दों पर बातचीत का इंतज़ार करते दिखे लेकिन अक्षय नरेंद्र मोदी से उनके आम खाने की आदत पर चर्चा करते दिखे। लोगों का गुस्सा अक्षय कुमार पर इसलिए भी निकला क्योंकि आज तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक भी मीडिया इंटरव्यू नहीं दिया है।

    घोषित कर दिए गए भाजपा भक्त

    घोषित कर दिए गए भाजपा भक्त

    इस इंटरव्यू के बाद अक्षय कुमार को आधिकारिक रूप से भाजपा और नरेंद्र मोदी का भक्त घोषित कर दिया गया था। खबरें यहां तक थीं कि अक्षय कुमार भाजपा के स्टार प्रचारक हो सकते हैं। वहीं अफवाहें थीं कि नरेंद्र मोदी बायोपिक में अक्षय मोदी जी का किरदार निभा सकते हैं। इस बात की पुष्टि लोगों ने तब कर दी जब अक्षय कुमार को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाज़ा गया।

    नागरिकता पर हमेशा उठते हैं सवाल

    नागरिकता पर हमेशा उठते हैं सवाल

    अक्षय कुमार की नागरिकता को लेकर हमेशा ही सवाल उठाए गए। उन्होंने भारत की नागरकिता छोड़ कर कनाडा की नागरिकता स्वीकार की थी। इसके बाद मोदी सरकार का समर्थन करते समय हर वक्त अक्षय कुमार की नागरिकता पर सवाल उठाए गए। अक्षय कुमार ने राज़ खोला कि एक समय था जब वो करियर में लगातार फ्लॉप फिल्में दे रहे थे और उन्होंने बॉलीवुड छोड़कर कनाडा में रहने का फैसला कर लिया था। उसी दौरान उन्होंने कनाडा की नागरिकता ले ली लेकिन उनकी अगली फिल्म हिट हो गई।

    गोमूत्र के लिए भी हो गए ट्रोल

    गोमूत्र के लिए भी हो गए ट्रोल

    अक्षय कुमार का Into the wild with Bear Grylls का एपिसोड ऑन एयर होते ही अक्षय कुमार ट्रोल हुए। इस एपिसोड में अक्षय कुमार ने कहा कि वो वैसे भी रोज़ गौमूत्र पीते हैं क्योंकि इसके बहुत सारे आयुर्वेदिक फायदे हैं।

    फौजी एप पर भी फटा बिल

    फौजी एप पर भी फटा बिल

    भारत में पब-जी के बैन होते ही अक्षय कुमार ने फौ-जी नाम के एक एप की घोषणा कर दी। ये गेमिंग एप, पब जी के जैसा ही है लेकिन इस एप का इस्तेमाल करने वाले लोगों को भारतीय सेना के जवानों के बारे में भी जानकारी मिलती है। लोगों ने अक्षय के इस कदम को भी उनकी ओवरएक्टिंग वाली देशभक्ति से जोड़ दिया। इस एप से होने वाली सारी कमाई भारतीय सेना के शहीद जवानों के लिए बने एक राहत कोष को जा रही है।

    हालांकि, अक्षय कुमार के फैन्स उनका पूरा सहयोग कर रहे हैं। फैन्स का मानना है कि कोई भी फिल्म देख ले, इससे फिल्म की ओपनिंग पर कोई असर नहीं पड़ेगा। फिल्म कैसे भी कमाई करने ही वाली है क्योंकि फिल्म अपने आप में ही अच्छी है।

    English summary
    Akshay Kumar donated 1 crore and adopted 50 aanganwaadi schools, while Amit Shah will watch Prithviraj on June 1. Netizens have mixed reaction to this news.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X