For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'भारत का असल इतिहास सामने लाना बहुत ज़रूरी है, तान्हाजी और भुज जैसी फिल्में हैं जरूरी'- अजय देवगन

    |

    बीते दिनों अजय देवगन की फिल्म 'भुज द प्राइड ऑफ इंडिया' डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज हुई। 1971 के भारत- पाक युद्ध की सच्ची घटना पर आधारित इस फिल्म पर बात करते हुए अजय देवगन ने कहा, भारत का असल इतिहास सामने लाना बहुत ज़रूरी है क्योंकि इसे दबा दिया गया था। मौजूदा पीढ़ी को जानना ज़रूरी है कि देश किनके बलिदानों पर खड़ा है।

    Ajay Devgan ने यूं किया Bhuj The Pride of India का शानदार प्रमोशन; Watch video | FilmiBeat

    भुज से पहले अजय देवगन फिल्म 'तान्हाजी' में नजर आए थे, जो कि मराठा योद्धा तान्हाजी मालसुरे की कहानी थी।इतिहास पर बनी फिल्मों में काम करने को लेकर अजय देवगन ने कहा कि तानाजी के बारे में हमारे समय में सिर्फ आधा पन्ना पढ़ाया गया था। आज की पीढ़ी को तानाजी के बारे में पता भी नहीं, क्योंकि उन्हें ऐसा कुछ पढ़ाया ही नहीं गया।

    बैक टू बैक एक्शन फिल्मों के बाद, अब सलमान खान करेंगे कॉमेडी, यहां जानें डिटेल्सबैक टू बैक एक्शन फिल्मों के बाद, अब सलमान खान करेंगे कॉमेडी, यहां जानें डिटेल्स

    अभिनेता ने कहा, "हमारे देश की यही परेशानी है। ऐसे महान बलिदान, जिनके बारे में लोग नहीं जानते हैं। यह हमारे इतिहास की किताबों में भी नहीं है। और अगर हम अपने बलिदानों और नायकों के बारे में बात नहीं करेंगे, तो हम अपने देश से प्यार कैसे करेंगे?"

    उन्होंने कहा कि अंग्रेज इतने साल रहे और उन्होंने इतिहास को दबाया क्योंकि लोगों को इतने बलिदानों के बारे में पता चलता तो वो बगावत पर उतर आते।

    अमेरिका की जानकारी है, देश की नहीं

    अमेरिका की जानकारी है, देश की नहीं

    उन्होंने कहा, "अमेरिका में क्या हो रहा है, लोगों को इस बात की जानकारी है। लेकिन अपने देश के इतिहास से हम अंजान हैं। तो क्यों नहीं बनानी चाहिए हमें फिल्म?"

    देश तब बदलेगा जब सब बदलेंगे

    देश तब बदलेगा जब सब बदलेंगे

    अजय देवगन कहते हैं, "मुझे लगता है कि हमें इस पर बात करनी चाहिए क्योंकि देश तब बदलेगा जब सब बदलेंगे और इस पीढ़ी को पता ही नहीं कि कितने लोगों की मेहनत और निस्वार्थ बलिदान पर ये देश खड़ा हुआ है। जब आप को पता चलेगा कि कितनी मुश्किल से आज़ादी हासिल हुई है तब उसकी क़दर होगी।"

    बजट की वजह से पहले नहीं बनती थी ऐसी फिल्में

    बजट की वजह से पहले नहीं बनती थी ऐसी फिल्में

    एक्टर ने कहा,"अच्छी बात है कि अब लोग ऐसी कहानियां लेकर आ रहे हैं। ये प्रेरणादायक हैं। पहले जब हम इन कहानियों को सुनते थे, तब तकनीक और बजट ने हमें भुज या उस पैमाने पर कुछ बनाने की अनुमति नहीं दी थी। वह बदल गया है।"

    इन कहानियों को दिखाना जरूरी है

    इन कहानियों को दिखाना जरूरी है

    अजय देवगन ने कहा,"अगर इस तरह की फ़िल्में बनाने से 2 प्रतिशत भी बदलाव आता है तो ऐसा किया जाना चाहिए। ऐसी फिल्मों पर ‘अंधराष्ट्रीयता' के आरोप लगते हैं, लेकिन देश के लिए लड़ने वालों ने बलिदान दिया है, उसे वास्तविक रूप में दिखाना ज़रूरी है।"

    अपने रोल पर बोले अजय देवगन

    अपने रोल पर बोले अजय देवगन

    अजय देवगन ने फ़िल्म 'भुज' में भारतीय वायु सेना के स्क्वाड्रन लीडर विजय कार्णिक का किरदार निभाया है। फ़िल्म में अपने रोल के बारे में अजय देवगन कहते हैं कि इस बात का एक दबाव रहता है कि जो किरदार वो निभा रहे हैं, उसमें कोई नकारात्मकता न जुड़े क्योंकि इन्होंने असल ज़िंदगी में बहुत बड़ा काम किया है। ये देखना बहुत ज़रूरी होता है कि आप जिसका किरदार निभा रहे हैं, उस व्यक्ति की प्रतिष्ठा कहानी में और आपके परफ़ॉर्मेंस में बरक़रार रहे।

    आने वाली फिल्में

    आने वाली फिल्में

    अजय देवगन की आने वाली फिल्मों में RRR, मैदान, मे डे, गंगूबाई काठियावाड़ी, कैथी रीमेक, थैंक गॉड, चाणक्य और गलवान घाटी पर बन रही फिल्म शामिल है..

    English summary
    Ajay Devgn reactd on doing films like Bhuj The Pride Of India and Tanhaji, says, people in this country are unaware of great heroes and their sacrifices.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X