For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    'मुझे 14 फिल्मों से बाहर निकाला गया और मेरी फिल्मों के बॉक्स ऑफिस आंकड़े गलत दिखाए गए'

    |

    सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद बॉलीवुड में एक बार फिर पक्षपात पर चर्चा शुरु हो चुकी है। सुशांत के फैंस ही नहीं, बल्कि बॉलीवुड के भी कलाकारों ने इस पर आवाज उठाई है। कई एक्टर्स, संगीतकार, लेखक, निर्देशकों ने यह बात स्वीकारी है कि यहां भरपूर पक्षपात चलता है और दूसरों को दबाने की, करियर खत्म करने की पूरी कोशिश की जाती है।

    सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को आत्महत्या कर अपनी जान ले ली। रिपोर्ट्स के अनुसार, वह डिप्रेशन से जूझ रहे थे। लोगों का मानना है कि सुशांत के साथ फिल्म इंडस्ट्री में पक्षपात किया गया, जिस वजह से वो अवसाद में थे.. और उन्होंने अपनी जान ले ली।

    इस केस में जहां अभिनेता शेखर सुमन लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। वहीं, अब उनके बेटे अध्ययन सुमन ने भी एक इंटरव्यू के दौरान बॉलीवुड में खेमेबाजी को लेकर बात की है। अभिनेता ने कहा कि, मुझे 14 फिल्मों से बाहर निकाला गया था।

    मुझे 14 फिल्मों से निकाला गया

    मुझे 14 फिल्मों से निकाला गया

    अध्ययन सुमन ने कहा, 'पॉवर का गलत इस्तेमाल करना और खेमेबाजी फिल्म इंडस्ट्री में कई सालों से है। यह मेरे साथ भी हो चुका है। मुझे 14 फिल्मों से हटाया गया और मेरी फिल्मों के बॉक्स ऑफिस आंकड़ों को गलत दिखाया गया। लोगों ने इस बात पर पहले गौर नहीं किया, यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।

    नेपोटिज्म नहीं, खेमेबाजी के खिलाफ लड़िए

    नेपोटिज्म नहीं, खेमेबाजी के खिलाफ लड़िए

    साथ ही एक्टर ने कहा, जो लोग नेपोटिज्म पर बात कर रहे हैं और लड़ रहे हैं.. मैं उन्हें कहना चाहता हूं कि नेपोटिज्म पर मत लड़िए, खेमेबाजी के खिलाफ लड़िए, कैम्पस जो बॉलीवुड में जगह बनाए हुए हैं और प्रोडक्शन हाउस जो टैलेंटेड एक्टर्स को इंडस्ट्री में जगह नहीं बनाने देते, आप उनके खिलाफ लड़िए।

    एक गंभीर समस्या है

    एक गंभीर समस्या है

    अभिनेता जीशान अय्यूब ने कहा कि सिर्फ नेपोटिज्म ही नहीं बल्कि इंडस्ट्री में दूसरे कई विषय हैं जिनपर ध्यान दिया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि मौजूदा स्थिति को थोड़ा अलग बनाया जा रहा है। ये सारा विषय सिर्फ भाई-भतीजावाद तक ही नहीं है। ये एक गंभीर समस्या है।

    फिल्ममेकर आपको किरदार इस तरह बेचते हैं कि जैसे एक पोस्टर के लिए है या फिर फिल्म का अहम किरदार है। लेकिन जब आप शूटिंग करने लगते हैं तब तक ये एक सपोर्टिंग व साइड रोल तक ही सीमित रह जाता है।

    रवीना टंडन

    रवीना टंडन

    अभिनेत्री रवीना टंडन ने ट्विटर पर अपनी भड़ास निकालते हुए लिखा कि, यहां कैंप हैं। जो आपका मजाक बनाते हैं, आपको पागल घोषित कर देते हैं। आपके करियर को खत्म कर देते हैं। यहां बहुत राजनीति है जो हर कदम पर आपका रास्ता रोकने की कोशिश कर है।

    बाहरी कलाकारों के साथ पक्षपात

    बाहरी कलाकारों के साथ पक्षपात

    कंगना रनौत ने खुलकर कहा कि यहां बाहरी कलाकारों को आगे बढ़ने का मौका नहीं दिया जाता है। वहीं, निर्देशक शेखर कपूर, निखिल द्विवेदी आदि ने भी इंडस्ट्री पर निशाना साधा है।

    सोनू निगम

    सोनू निगम

    सिंगर सोनू निगम ने टी-सीरिज के मालिक भूषण कुमार को माफिया बताया है। सोनू निगम ने म्यूजिक इंडस्ट्री पर माफियागिरी का आरोप लगाया था। उन्होंने सीधे तौर पर कहा था कि यहां इस कदम नेपोटिज्म है कि कल को एक सिंगर, या एक कंपोजर भी आत्महत्या जैसा कदम उठा सकता है।

    पूजा भट्ट ने सोशल मीडिया पर शेयर किया कंगना रनौत का वीडियो- कंगना ने दिया करारा जवाबपूजा भट्ट ने सोशल मीडिया पर शेयर किया कंगना रनौत का वीडियो- कंगना ने दिया करारा जवाब

    English summary
    Actor Adhyayan Suman in a recent interview has slammed Bollywood. He mentioned how Bollywood’s groupism has devastated his career.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X