For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    INTERVIEW: "सलमान और अक्षय कुमार नहीं, सनी देओल में असली चैलेंज है"

    By Prachi Dixit
    |

    बॅालीवुड में द खान फेक्टर ने हमेशा से ही अपना सिक्का जमाया है। एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री का हर खान अपने कंधे पर सुपरहिट फिल्मों की लंबी फेहरिस्त लिए बैठा है।

    ऐसे ही एक खान 4 साल बाद टीवी पर दस्तक देने जा रहे हैं। फिल्मों में वह लगातार सक्रिय रहे हैं। हम बात कर रहे हैं कोरियॉग्रफर से फिल्म निर्माता और डायरेक्टर बने अहमद खान की।

    एक तरफ जहां 30 मार्च को बतौर निर्देशक अहमद बागी 2 बड़े पर्दे पर लेकर आ रहे हैं। वहीं एंड टीवी के डांस रियलिटी शो हाइ फीवर में वह जज की भूमिका निभाते नजर आयेंगे।

    अहमद के 30 साल के फिल्मी करियर में उनके हर सांग ने खुद का एक बेंचमार्क सेट किया है। फिल्मीबीट से हुई बातचीत में अहमद से जानते हैं सलमान,शाहरूख और सनी देओल के पर्दे के पीछे के राज और 4 साल बाद टीवी पर उनकी वापसी की चौंकाने वाली वजह...

    बात सिर्फ डांस की नहीं है...

    बात सिर्फ डांस की नहीं है...

    मैंने इससे पहले कई डांस रियलिटी शो किए हैं। लेकिन पिछले चार साल से मैंने डांस शो जज करना बंद कर दिया है। इसके पीछे एक साफ वजह है कि मैं उन सभी डांस शो से ऊब चुका था।मेरे लिए काम में नयापन होना बहुत जरूरी है।मैंने इससे पहले केवल लिटिल मास्टर डांस शो जज किया। मेरे लिए बच्चों के साथ काम करना रिलेक्स रहा। फिर मैंने थोड़ा ब्रेक ले लिया। कुछ महीने पहले मेरे पास एंड टीवी के शो हाई फीवर डांस का नया तेवर का आॅफर आया।लेकिन जैसे ही मैंने इस शो का कांसेप्ट सुना हैरान रह गया। यहां केवल डांस नहीं है। यहां रिश्तों की बात हो रही है। डांस से रिश्ते जुड़ रहे हैं। इस शो में डांस को नया दर्जा मिल रहा है।

    27 साल के करियर में ऐसा शो पहली बार..

    27 साल के करियर में ऐसा शो पहली बार..

    इस शो की सबसे बड़ी खूबी डांस और रिश्ता का आपसी मेल है।यहां पर अपोजिट सोच के लोग जोड़ी में डांस कर रहे हैं। ननद और भाभी,जेठ और बहू ऐसे रिश्ते इस शो में एक साथ कदम थिरकाते हुए नजर आयेंगे। मेरे 27 साल के करियर के बाद अगर किसी शो से जुड़ने से समाज में कोई बदलाव होता है तो इससे बड़ी बात मेरे लिए क्या हो सकती है। पैसा मेरे लिए मायने नहीं रखता है। पैसे तो कमा ही लेते हैं। लेकिन इस शो में मेरा काम रिश्तों से जुड़ेगा। हमारी समाज की जो सोच है रिश्तों में एक झिझक का पर्दा होता है। कई परिवार में सोच है कि बहू अपने जेठ से पर्दा करती है। लेकिन यहां पर डांस हर पर्दे को हटा देगा। यह टीवी का सबसे दिलचस्प शो होगा।

    सुपरस्टार देखते रह जाते थे..

    सुपरस्टार देखते रह जाते थे..

    जैसे इस शो में लोग जोड़ी में आ रहे हैं। वैसे मेरी जोड़ी डांस में पत्नी के साथ फिट बैठती है। मैं जब भी किसी जगह जाता हूं। तो वहां पर जबरदस्ती जुम्मे की रात सांग बजाया जाता है। आपको सुनने में फिल्मी लग सकता है लेकिन अपनी लाइफ पार्टनर के साथ ऐसे पार्टी में डांस करना मुझे अच्छा लगता है। वही मेरे लिए बेस्ट डांस होता है। डांस मेरे लिए हमेशा सबसे खास रहा है। मेरी गुरु सरोज खान रही हैं। 16 साल की उम्र से मैंने उन्हें असिस्ट करना शुरू किया था। बड़े-बड़े सुपरस्टार सरोज जी को डांस करते हुए लगातार देखते ही रहते थे। उन्हें बार-बार स्टेप बताने के लिए कहते थे। स्टार कहने लगते थे कि अरे सरोज जी आप जैसा नहीं कर पा रहे हैं। एक बार फिर से स्टेप करके दिखा दीजिए ना। मैं तभी सोचता था कि कोरियोग्राफर बनना है तो ऐसा ही बनना है। जहां पर हर सामने वाली की नजर आपकी कला पर हमेशा टीकी रहे।

    सलमान के साथ 6 दिन मुश्किल

    सलमान के साथ 6 दिन मुश्किल

    मैंने जुम्मे की रात से पहले सलमान खान के साथ कभी काम नहीं किया था। किक के दौराननिर्देशक साजिद नाडियाडवाला ने साफ तौर पर कह दिया कि इस फिल्म के सांग सिर्फ अहमद ही कोरियोग्राफ करेगा। नहीं तो मैं फिल्म में कोई सांग ही नहीं रखूंगा। जुम्मे की रात को कोरियोग्राफ करना मेरे लिए सबसे ज्यादा परेशानी से भरा रहा। सेट पर मेरे और सलमान के बीच एक अजीब सी चुप्पी थी। हम सिर्फ काम को लेकर बात किया करते थे। हम दोनों खान हैं तो हमारा टैंपर ऊपर ही रहता है। हम दोनों को सांग के लिए 6 दिन मिले थे। हम दोनों मिलकर सांग पर काम कर रहे थे। तीन दिन के बाद चौथे दिन पर पटरी पर गाड़ी आयी। फिर हम दोनों के बीच भीट्यूनिंग बैठ गई। हमें नहीं लगा था कि यह सांग सुपरहिट हो जाएगा। लेकिन बाद में यह सांग सुपरहिट हो गया।

    सलमान खान पहले ही कह देते हैं कि...

    सलमान खान पहले ही कह देते हैं कि...

    मैंने आमिर खान,शाहरूख खान,सलमान खान और अक्षय कुमार सभी को कोरियोग्राफ किया है। हर स्टार का अपना स्टाइल है। शाहरूख एक जगह पर खड़े होकर डांस नहीं कर सकते हैं। उन्हें हर जगह राउंड लगाकर डांस करना है। इन सबसे अलग सलमान खान हैं। उनका अपना एक खास तरीका है। सलमान का यही कहना होता है कि मैं यहीं पर बैठा रहूंगा। अगर रैन डांस है तो वह पहले ही कह देते हैं कि मुझ पर पानी नहीं आना चाहिए। वह डांस में ज्यादा भाग दौड़ करना पसंद नहीं करते हैं।

    अक्षय खराब एक्टर..सलमान गंदे पानी से ...

    अक्षय खराब एक्टर..सलमान गंदे पानी से ...

    सलमान अपने करियर के शुरुआत में पानी के टैंकर से बहुत भीगे हैं। गंदे गंदे टैंकर के पानी में भीगकर उन लोगों ने काम किया है। उनकी सोच अपनी जगह सही है। इन सबसे अलग संजय दत्त हैं।संजय दत्त गाने के तीन दिन पहले लगातार बोलते रहते थे कि यार अहमद धमाकेदार सांग करना है। लेकिन सांग के दिन उनका सारा उत्साह ठंडा पड़ जाता था। अक्षय कुमार की बात अलग है। अक्षय ने अगर किसी कैरेक्टर एक्टर को करते हुए कुछ देख लिया तो उसे वो भी डांस के दौरान करना है। शुरू में उसे पता था कि उसका कोई सपोर्ट नहीं है। अक्षय को जो करना था अकेले ही करना था। अक्षय कुमार को लोग शुरू में खराब एक्टर बोलते थे। अपने बलबूते पर वह यहां तक पहुंचे थे।

    सलमान नहीं सनी देओल मेरे लिए चैलेंज

    सलमान नहीं सनी देओल मेरे लिए चैलेंज

    मेरे करियर के 30 साल में डांस का भी एक सफर रहा है। मेरे करियर की उपलब्धि में यह नहीं है कि मैंने सलमान,आमिर,शाहरूख और अक्षय कुमार को कोरियोग्राफ किया है। मेरे लिए सफलता यह है कि मैंने सनी देओल को नचाया है। सलमान और अक्षय कुमार नहीं सनी देओल मेरे लिए चैलेंज हैं।मैंने सनी देओल को मैं अपना नाम भूला सांग पर कोरियोगाफ किया है। संजय दत्त को गौरी तू चली कहां सांग पर नचाया है। पूजा भट्ट को मेरे दिल का वो शहजादा पर डांस करवाया है। मैंने उर्मिला को रंगीला में नचाया है। मैंने नॅान डांसर को नचाया है।

    English summary
    In an In an Interview with Filmibeat Baaghi 2 director Ahmed Khan talk about Salman Khan,Sunny deol special dance style and his new Dance reality show High Fever Dance Ka Naya Tevar.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X