For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Opps.. कोई न्यूकमर नहीं, सलमान खान होते इस फ्लॉप फिल्म के हीरो!

    |

    [गपशप] हालांकि ताजा आलम ऐसा है कि किसी फ्लॉप फिल्म में भी सलमान खान हों तो वह हिट हो जाए। बहरहाल, हम यहां बात कर रहे हैं हालिया रिलीज फिल्म 'हीरो' की। जो सलमान खान के बैनर तले ही बनाई गई थी। इस फिल्म से सूरज पंचोली और अथिया शेट्टी ने डेब्यू किया था।

    बता दें, इस फिल्म में पहले सलमान खान ही लीड रोल निभाने वाले थे। सलमान भी इस फिल्म का हिस्सा बनने को लेकर उत्साहित थे। लेकिन कुछ समय के बाद उन्हें लगा कि इस फिल्म में किसी युवा चेहरे का होना ज्यादा बेहतर होगा और सबको सूरज पंचोली का नाम सुझाया।

    खैर, फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ कमाल नहीं कर पाई। सलमान खान ने आखिर सूरज के कंधों पर इतनी बड़ी जिम्मेदारी जो डाल दी थी। यहां जानिए क्यों फेल हुई हीरो-

    कमजोर स्क्रिप्ट

    कमजोर स्क्रिप्ट

    फिल्म की स्क्रिप्ट ने एक्टर्स को ज्यादा कुछ करने का मौका ही नहीं दिया। नॉर्मल बॉलीवुड मसाला फिल्म बनाते बनाते निर्देशक फिल्म को कई जगहों पर कमजोर कर गए। फिल्म में रोमांस, एक्शन, ड्रामा होते हुए भी, आपको कुछ इंप्रेस नहीं कर पाएगा।

    बेहद कमजोर एडिटिंग

    बेहद कमजोर एडिटिंग

    यदि आप यह कहें कि फिल्म की एडिटिंग बुरी है.. तो यह गलत नहीं होगा। आश्चर्य है कि निर्देशक ने इसे होने दिया। फिल्म की कहानी कब एक सीन से दूसरे सीन पर उछल जाती है, आप समझते रह जाएंगे। फिल्म देखते हुए यह बेहद अजीब लगता है।

    सूरज पंचोली

    सूरज पंचोली

    बहुत दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि फिल्म के 'हीरो' ही फिल्म की कमजोरी बन गए। सूरज पंचोली हर मायने में परफेक्ट हैं.. सिर्फ एक्टिंग को छोड़कर। दो घंटे की फिल्म में महज दो बार उनके चेहरे के एक्सप्रेशन बदलते हैं। खैर.. उम्मीद है आने वाली फिल्मों में हमें उनकी एक्टिंग देखने का मौका मिले।

    कमजोर निर्देशन

    कमजोर निर्देशन

    फिल्म के गाने बेहतरीन हैं। लेकिन 'जब वी मेट' जैसे उम्दा गानों को फिल्म में जिस तरह दिखाया गया है आपको वो गाने बेकार लगने लगेंगे। या यूं कह लें कि आपका ध्यान गाने की लिरिक्स और म्यूजिक की ओर जाएगा ही नहीं। बहरहाल, फिल्म में दो- चार सीन आपको हंसी दिलाने में कामयाब होंगे तो कुछ सीन काफी खूबसूरत भी हैं.. खासकर सूरज- अथिया के ड्रीम सीक्वेंस..

    कैरेक्टर्स का इस्तेमाल नहीं

    कैरेक्टर्स का इस्तेमाल नहीं

    कोई दो राय नहीं कि फिल्म में सबसे बेहतरीन अथिया शेट्टी लगीं हैं। तिग्मांशु धूलिया, शरद केलकर, आदित्य पंचोली ने भी काफी अच्छा अभिनय किया है। लेकिन फिल्म में उनका उतना इस्तेमाल ही नहीं किया गया।

    सलमान खान इफैक्ट

    सलमान खान इफैक्ट

    फिल्म में कई सीन में सूरज पंचोली को सलमान खान बनाने की कोशिश की गई है। जो कि बेवजह है। सलमान खान, सलमान खान हैं.. और सूरज पंचोली को उनके जैसे दिखाने की कोशिश क्यों की गई है यह समझ से परे है। और निर्देशक की यह बात शायद सलमान खान फैंस को भी पसंद न आए।

    बॉक्स ऑफिस

    बॉक्स ऑफिस

    यहां पढ़ें-

    BOX OFFICE: शाहरूख ने किया था HIT.. सलमान, अक्षय ने दिया सिर्फ फ्लॉप!

    English summary
    Salman Khan was offered the film Hero and the actor was very keen to be part of it. But later he denied.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X