»   » ''कबीर खान के साथ सलमान ट्यूबलाइट करना ही नहीं चाहते थे....''

''कबीर खान के साथ सलमान ट्यूबलाइट करना ही नहीं चाहते थे....''

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

अब जबकि ट्यूबलाइट फ्लॉप हो चुकी है। कहानियों का सिलसिला शुरु हो चुका है.. हाल ही में सलमान खान के एक करीबी ने एक डेली वेबसाइट से शेयर किया है कि सलमान खान को पहले से अंदाजा था कि ट्यूबलाइट फ्लॉप होगी।

'सलमान, शाहरूख शानदार हैं.... लेकिन आमिर खान की बात ही अलग है..'

उन्होंने कहा, सलमान खान फिलहाल कबीर खान के साथ फिल्म करना ही नहीं चाहते थे.. कबीर के पास एक और स्क्रिप्ट थी, जो वो सलमान के साथ करना चाहते थे। लेकिन सलमान को लगा कि उस फिल्म में काफी मेहनत लगती.. और सुल्तान, टाईगर जिंदा है के बाद सलमान कुछ आसान करना चाहते थे। 

tubelight

सलमान ने ट्यूबलाइट को सिर्फ इसीलिए हां कहा क्योंकि उन्हें लगा कि इसमें शारीरिक तैयारी ज्यादा नहीं करनी होगी। वहीं, बजरंगी भाईजान और प्रेम रतन धन पायो के बाद सलमान एक और ऐसी फिल्म करना चाहते थे.. जहां उनकी छवि भोले भाले सलमान की हो.. 

लेकिन जब ट्यूबलाइट पूरी बनकर सामने आई.. तो सलमान को भी लगा कि यह थोड़ा ज्यादा हो गया। बहरहाल, यहां जानें ट्यूबलाइट क्यों हुई बॉक्स ऑफिस फेल- 

फिल्म की कहानी

फिल्म की कहानी

फिल्म की कहानी 1962 के भारत- चीन युद्ध के इर्द- गिर्द घूमती है.. साथ ही गांधीजी के आदर्शों की बात करती है.. साथ ही दोस्ती, भाईचारे की बात करती है..

कुल मिलाकर एक ही कहानी में कबीर खान ने दर्शकों को इतना उलझा दिया कि कुछ भी समझ ना आया पाया।

बजरंगी भाईजान इफैक्ट

बजरंगी भाईजान इफैक्ट

फिर से सीधा सादा सलमान खान.. फिर से बच्चे के साथ सलमान की दोस्ती.. फिर से दो देशों के बीच की कहानी.. तो दर्शक दोबारा बजरंगी भाईजान ही क्यों ना देख लें.. जो ट्यूबलाइट में पैसे खर्च करें।

बजरंगी भाईजान इफैक्ट

बजरंगी भाईजान इफैक्ट

फिर से सीधा सादा सलमान खान.. फिर से बच्चे के साथ सलमान की दोस्ती.. फिर से दो देशों के बीच की कहानी..

तो दर्शक दोबारा बजरंगी भाईजान ही क्यों ना देख लें.. जो ट्यूबलाइट में पैसे खर्च करें।

बेदम स्क्रीनप्ले

बेदम स्क्रीनप्ले

फिल्म की स्क्रीनप्ले काफी कमजोर दिखी है.. शायद इसीलिए क्योंकि निर्देशक खुद कंफ्यूज थे कि उन्हें दिखाना क्या है।

सलमान को लिया For Granted

सलमान को लिया For Granted

इसे लोग सच मानें या झूठ.. लेकिन कबीर खान ने सलमान खान के स्टारडम की बदौलत ही ट्यूबलाइट को गढ़ डाली। लेकिन दर्शकों ने जता दिया कि उन्हें स्टार नहीं.. कंटेंट चाहिए। कबीर खान ने खुद कहा था कि सलमान की सलाह पर उन्होंने फिल्म को ज्यादा कमर्शियल बनाने की कोशिश की है।

लीक से हटकर

लीक से हटकर

लीक से हटकर किसी निर्देशक को तभी फिल्म बनाना चाहिए..जब आपके पास एक तगड़ी कहानी हो। यहां तो ना फैंस की पसंद वाले सलमान था.. ना ही कहानी।

बिना हीरोइन, बिना गानों वाले.. सिर्फ रोते सलमान को दर्शकों ने बिल्कुल पसंद नहीं किया।

गलत रीमेक

गलत रीमेक

कबीर खान के पास सलमान थे.. दमदार कास्ट था.. प्रोड्यूसर, बजट सारी सुविधा थी.. बावजूद इसे कबीर फेल रहे। क्योंकि उन्होंने कहानी ही बेदम रखी। हॉलीवुड रीमेक का भारतीयकरण करने के चक्कर में पूरी फिल्म बिखर कर रह गई।

English summary
Did Salman Khan have a premonition about Tubelight’s box office failure. Know here.
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi