For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    3 घंटे से ऊपर की बन रही है अली अब्बास ज़फर की भारत, ईद 2019 के लिए नर्वस हैं सलमान

    |

    सलमान खान की ईद जैसे ही नज़दीक आने लगी है, उनकी परेशानी साफ साफ उजागर होने लगी है। खबर है कि अपनी आने वाली फिल्म भारत के लिए सलमान ने अली अब्बास ज़फर को सलाह देनी शुरू कर दी है जिसे डायरेक्टर फिलहाल नहीं ले रहे हैं और इस बात का असर साफ नज़र आ रहा है।

    खबर है कि अली अब्बास ज़फर जिस हिसाब से फिल्म बना रहे हैं, वो 3 घंटे से ऊपर की है और ये बात सलमान को परेशान कर रही है। सलमान ने सलाह भी दे डाली है कि फिल्म को छोटा करके 2.5 घंटे का कर दिया जाए लेकिन फिल्म के हिसाब से ये नामुमकिन लग रहा है और इसलिए सलमान की सलाह कोई नहीं लेना चाह रहा है।

    सलमान का कहना है कि फिल्म अगर 2.5 घंटे से ज़्यादा की होगी तो लोग हज़म नहीं कर पाएंगे और इतना ज़्यादा सलमान खान देखकर वो बोर हो जाएंगे और हो सकता है कि फिल्म को वो प्रशंसा ना मिले जो मिलनी चाहिए। अब अली अब्बास ज़फर का कहना है कि वो 70 साल की कहानी परदे पर दिखाने जा रहे हैं।

    इतना लंबा समय दिखाने के लिए फिल्म को सांस लेने की भी ज़रूरत पड़ेगी। वैसे सलमान नर्वस इसलिए भी हैं क्योंकि ओड टू माय फादर की इस रीमेक में उनका किरदार काफी इमोशल है। आखिरी बार उन्होंने ट्यूबलाइट में इमोशन परोसने की गलती की थी और बुरी तरह पिटे थे। सलमान अपनी गलती दोहराना नहीं चाहते।

    अब देखना ये है कि पिछली बार की तरह इस बार भी सलमान की कास्टिंग एक गलती बनकर ना रह जाए। वैसे ये गलतियां, बॉलीवुड के कई बड़े एक्टर कर चुके हैं -

    सलमान खान - ट्यूबलाइट

    सलमान खान - ट्यूबलाइट

    सलमान ने ट्यूबलाइट में क्यूट बनने की कोशिश की और बुरी तरह विफल हुए। ध्यान से देखा जाए तो ट्यूबलाइट किसी छोटे एक्टर की फिल्म थी।

    शाहिद कपूर - पद्मावत

    शाहिद कपूर - पद्मावत

    शाहिद कपूर पद्मवत में कहीं से भी राजपूत राजा नहीं लगे। उनकी बॉडी लैंग्वेज से लेकर हाव भाव तक कुछ भी परफेक्ट नहीं था।
    ऑप्शन - इस रोल को शाहिद से बेहतर विक्की कौशल और सुशांत सिंह राजपूत निभा सकते थे।

    शाहरूख खान - जब हैरी मेट सेजल

    शाहरूख खान - जब हैरी मेट सेजल

    जब हैरी मेट सेजल की सबसे बड़ी कमी तो उसकी कहानी थी लेकिन बूढ़ें शाहरूख खान भी लोगों को हज़म नहीं हुए। उनकी जगह कोई छोटा एक्टर होता तो शायद फिल्म चल जाती।

    सैफ अली खान - कॉकटेल

    सैफ अली खान - कॉकटेल

    सैफ अली खान ने जब सलाम नमस्ते की उसी के बाद अगर कॉकटेल कर लेते तो शायद फिल्म चल जाती और दीपिका पादुकोण की इतनी मेहनत बेकार नहीं जाती।

    कैटरीना कैफ - राजनीति

    कैटरीना कैफ - राजनीति

    इसमें कोई शक नहीं कि कैटरीना कैफ ने राजनीति में अच्छा काम किया है लेकिन अगर कोई और मंझा हुआ कलाकार इस किरदार को निभाता तो फिल्म शानदार तरीके से हिट हो जाती।

    ऐश्वर्या राय - ऐ दिल है मुश्किल

    ऐश्वर्या राय - ऐ दिल है मुश्किल

    जो ऐश्वर्या ने ऐ दिल है मुश्किल में किया वो कोई भी कर सकता था और उनसे बेहतर कर सकता था। ऐश्व्रर्या को बिना मतलब रणबीर के साथ इतना नज़दीकी बढ़ाने की ज़रूरत नहीं थी।

    ऐश्वर्या राय - सरबजीत

    ऐश्वर्या राय - सरबजीत

    ऐश्वर्या राय के कॉन्फिडेंस को मान गए कि उन्होंने सरबजीत जैसी फिल्म साइन की और कर भी डाली। उन्हें ये समझना पड़ेगा कि वो एक्टर हैं लेकिन वास्तविक किरदार नहीं निभा सकतीं।

    प्रियंका चोपड़ा - मैरी कॉम

    प्रियंका चोपड़ा - मैरी कॉम

    प्रियंका ने मैरी कॉम में अभिनय अच्छा किया लेकिन कोई तीर नहीं मारा। वो कहीं से भी मैरी कॉम लगी ही नहीं। प्रियंका की जगह फिल्म में कल्कि कोचिलन हो सकती थीं।

    करण जौहर - बॉम्बे वेलवेट

    करण जौहर - बॉम्बे वेलवेट

    पहली बात तो बॉम्बे वेलवेट फिल्म ही क्यों थी। और थी तो थी। उसमें करण जौहर क्यों थे। और थे तो थे उसमें करण जौहर विलेन क्यों थे!

    श्रद्धा कपूर - हसीना बायोपिक

    श्रद्धा कपूर - हसीना बायोपिक

    हाल ही में श्रद्धा कपूर की हसीना बायोपिक आई थी जो किसी ने नहीं देखी। क्योंकि फिल्म में श्रद्धा ऐसी लग रही थीं!

    English summary
    Salman Khan starrer Bharat has gone over a duration of 3 hours and the actor is adamant to chop it to 2.5 hours else the audience will be bored.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X