»   » #ALERT: 3 मिनट के अक्षय का असर...10 प्रतिशत बढ़ेगा सुलतान कलेक्शन!

#ALERT: 3 मिनट के अक्षय का असर...10 प्रतिशत बढ़ेगा सुलतान कलेक्शन!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

अब सुलतान अगले हफ्ते आपके सामने होगी और फिल्म का काउंटडाउन शुरू हो गया है। लेकिन सलमान खान की इस फिल्म में लगने वाला है एक और तड़का। 30 जून को रिलीज़ होगा अक्षय कुमार की रूस्तम का ट्रेलर जो कि सलमान खान की सुलतान के साथ अटैच किया जाएगा। 
["इस देश में केवल एक ही सुपरस्टार है" - अक्षय कुमार] 

यानि कि सलमान के साथ अक्षय फैन्स को भी ट्रीट मिल गई और यकीन मानिए कि फैन्स ऐसे ही होते हैं जो ट्रेलर में अपने सुपरस्टार की एक झलक पाने के लिए भी पहुंच जाते हैं। तो बस सुलतान के कलेक्शन में थोड़ा हाथ तो अक्षय कुमार का भी होने वाला है। 
 ["तो फिर फिल्म का नाम होता...सुलतान का दंगल" - सलमान]


अगर सूत्रों की मानें तो फिल्म का ट्रेलर जानदार है और केवल अक्षय कुमार को दिखाने की बजाय, ट्रेलर में हर किसी को जगह मिली है। वहीं ट्रेलर के हर सेकंड पर 100 करोड़ की मुहर लगी हुई है और ऋतिक रोशन की मोहनजोदड़ो को वाकई डरने की ज़रूरत है।


जानिए रूस्तम के नानावटी केस की दिलचस्प बातें -

कवास मानेकशॉ नानावटी

कवास मानेकशॉ नानावटी

ये कहानी है कवास मानेकशॉ नानावटी को नेवी में अफसर थे। उनकी उम्र 38 साल थी और उनके परिवार में अंग्रेज़ी मूल की पत्नी सिल्विया और दो बच्चे थे।


एक लव स्कैंडल

एक लव स्कैंडल

नानावटी काम के सिलसिले में अक्सर बाहर रहते थे और इस दौरान उनकी पत्नी मिली आहूजा से जिनके साथ उनके प्रेम संबंध हुए। लेकिन इस बात की भनक नानावटी को नहीं थी।


बीवी ने किया खुलासा

बीवी ने किया खुलासा

एक रात नानावटी के पूछने पर सिल्विया ने कुबूल किया कि वो आहूजा से प्यार करती हैं। इस पर नानावटी ने खुद को मारने का फैसला किया जिससे उनकी बीवी सुकून से रह सके।


आहूजा का कत्ल

आहूजा का कत्ल

इसके बाद नानावटी बीवी और बच्चों को अगले वादे के मुताबिक फिल्म दिखाने ले गए पर खुद वहां से निकल कर आहूजा के घर पहुंचे जो उस वक्त नहाकर निकला था।


दो सवाल - तीन गोलियां

दो सवाल - तीन गोलियां

इसके बाद नानावटी ने आहूजा से पूछा कि क्या तुम मेरी बीवी से शादी करोगे? और क्या तुम मेरे बच्चों का ज़िंदगी भर ख्याल रखोगे? आहूजा का कहना था कि हर औरत उससे प्यार करेगी तो वो सबसे शादी तो नहीं कर सकता और नानावटी ने तीन गोलियां चला दीं।


कर दिया था सरेंडर

कर दिया था सरेंडर

इसके बाद नानावटी ने अपने सीनियर को इसकी इत्तिला दी और पास के पुलिस स्टेशन में सरेंडर कर दिया था। उनके केस पर पूरे देश को तरस आया था। और सबका मानना था कि गोली गुस्से में चली जबकि नानावटी खुद को मारने पहुंचे थे।


दी गई सज़ा

दी गई सज़ा

नानावटी देश को रसूखदार लोगों में थे और पंडित नेहरू से लेकर कई बड़े लोगों की सिक्योरिटी के ज़िम्मेदार थे। उन पर गैर इरादतन हत्या का आरोप लगा और उन्हें जेल भी हुई।


मिली थी माफी

मिली थी माफी

तीन साल बाद उन्हें गवर्नर ने माफ कर दिया और नानावटी, परिवार सहित देश छोड़कर चले गए। उनकी कहानी को राजकपूर ने ये रास्ते हैं प्यार के नाम की फिल्म में उतारा जो फ्लॉप थी। फिल्म में सुनील दत्त मुख्य भूमिका में थे।





दूसरी कोशिश

दूसरी कोशिश

इस कहानी को दोबारा परदे पर गुलज़ार ने उतारा अचानक नाम की फिल्म। हालांकि फिल्म पूरी तरह से इस कहानी पर नहीं बनी थी। हालांकि फिल्म को काफी पसंद किया गया और पूरी फिल्म में सिर्फ एक गाना था।


English summary
Rustom trailer may be attached with Salman Khan's Sultan!
Please Wait while comments are loading...