»   » प्रेम रतन धन पायो HAFTA: सलमान का ये धोखा फैन्स नहीं भूलेंगे!

प्रेम रतन धन पायो HAFTA: सलमान का ये धोखा फैन्स नहीं भूलेंगे!

Posted By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[गपशप] सूरज बड़जात्या की प्रेम रतन धन पायो रिलीज़ हो चुकी है और फिल्म दर्शकों की उम्मीद पर खरी नहीं उतरी। सलमान खान की फिल्म हालांकि बॉक्स ऑफिस पर कोई दिक्कत नहीं करती और ऐसा ही हुआ भी। फिल्म धुंआधार कमा रही है। लेकिन फिर भी इस बात से किसी को गुरेज़ नहीं कि फिल्म में कुछ भी नहीं था।

सूरज बड़जात्या उस दर्शक वर्ग के फेवरिट हैं जो केवल परिवार के साथ इंजॉय करने के लिए फिल्म देखते हैं लेकिन इस बार सूरज बड़जात्या ने उन्हें बुरी तरह निराश किया। तो एक तरह से देखा जाए तो सलमान खान फैन्स को छोड़कर फिल्म किसी को भी पसंद नहीं आई। 


हालांकि  हमने WARNING दी हुई है कि क्यों नहीं देखें प्रेम रतन धन पायो, लेकिन फिर भी फैन्स फिल्म देखने जा रहे हैं और निराश होकर लौट रहे हैं। इसकी वजह है प्रेम रतन धन पायो की वो गलतियां जिन्हें कभी भी कोई भी फैन्स भूल नहीं पाएंगे। देखा जाए तो पूरी की पूरी फिल्म सलमान खान फैन्स के लिए धोखा थी।

जानिए सलमान के नाम पर सूरज बड़जात्या के कौन से धोखे फैन्स पचा ही नहीं पाए - 

नो परिवार

नो परिवार

फिल्म एक परिवार की कहानी बताई जा रही थी लेकिन इस फिल्म में कहीं भी परिवार था ही नहीं। खासकर सूरज बड़जात्या का परिवार...A family that eats together...stays together वाला परिवार?


इतने निगेटिव लोग

इतने निगेटिव लोग

सूरज बड़जात्या की फिल्मों का फायदा यही होता है कि उन्हें देखकर इंसान रिलैक्स हो सकता है। कहीं कोई निगेटिव नहीं। लेकिन इस फिल्म में हर इंसान निगेटिव था एक प्रेम दिलवाला को छोड़कर!


डबल सलमान या 'डबल' सलमान

डबल सलमान या 'डबल' सलमान

ठीक है सलमान खान ने सुलतान में डबल साइज़ के सलमान का वादा किया है। लेकिन इस फिल्म में भी वही डबल सलमान हैं। वो सुंदर लग रहे हैं पर कहीं से भी रोमांटिक हीरो तो नहीं लग रहे।


नो स्वरा भास्कर

नो स्वरा भास्कर

फिल्म का मेन हिस्सा था फिल्म की बहनें। लेकिन पूरी फिल्म में स्वरा भास्कर केवल तीन या चार सीन में नज़र आईं।


प्रेम नहीं सलमान

प्रेम नहीं सलमान

सूरज बड़जात्या ने दर्शकों को वादा किया था कि इस फिल्म से वो फैन्स को उनका प्रेम वापस देंगे। लेकिन फैन्स को फिल्म में सलमान ही दिखे। प्रेम अब रहा ही नहीं शायद!


ओवर रोमांस

ओवर रोमांस

सूरज बड़जात्या की फिल्मों का सबसे प्यारा पहलू होता है रोमांस। लेकिन इस फिल्म में वही पहलू सबसे कमज़ोर था। सलमान और सोनम साथ में रोमांटिक लगे ही नहीं।


गाना वेस्ट किया....क्यों

गाना वेस्ट किया....क्यों

फिल्म के गाने सबको पसंद आ रहे थे लेकिन फिल्म देखते समय फिल्म में गाने मिले ही नहीं। और सबसे अच्छे गानों को इस तरह वेस्ट किया गया कि पूछिए ही मत।


कहां हो मां....

कहां हो मां....

मां के बिना कैसा परिवार। सूरज बड़जात्या फिल्मों का सबसे प्यारा पहलू मां होती है। लेकिन इस फिल्म में ना मां थी, ना मां जैसा कोई किरदार!


बाउजी के बिना कैसी फिल्म

बाउजी के बिना कैसी फिल्म

अब मां ना सही बाउजी को ही ले लेते। लेकिन सूरज बड़जात्या को वो भी मंज़ूर नहीं था। अब आप ही सोचिए फैमिली फिल्म में ना मां, ना बाउजी, ना बहनें...तो फैमिली है कहां!!!



 
English summary
There were somethings which went terribly wrong with Prem Ratan Dhan Payo. And we have a whole list of such things!
Please Wait while comments are loading...