For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    OUCH: सलमान के साथ सीक्वल पर कबीर खान ने क्या पलटी मारी है!

    |

    पलटी मारना किसे कहते हैं, ये आप कबीर खान से सीखिएगा। उन्होंने काम ही ऐसा किया है। दरअसल, एक इंटरव्यू में कबीर खान ने कहा कि अगर सलमान की किसी फिल्म का कोई सीक्वल बन सकता था तो वो थी एक था टाइगर।

    अली अब्बास ज़फर ने इसका सीक्वल बनाया है और शानदार बनाया है। जो कोई भी सलमान खान और कबीर खान का फैन है वो ये बात कभी नहीं भूल सकता कि कबीर खान ने एक था टाईगर सीक्वल - टाईगर ज़िंदा है करने से मना कर दिया था।

    कारण कई थे - सबसे पहला तो ये कि कबीर खान इस फिल्म को साथ में प्रोड्यूस करना भी चाहते थे, जिसके लिए आदित्य चोपड़ा तैयार नहीं थे।

    लेकिन जब बात खुली तो कबीर खान ने साफ कहा था कि मैं एक था टाईगर सीक्वल करने के लिए तैयार नहीं था क्योंकि मुझे नहीं लगता है कि फिल्म का कोई सीक्वल बन सकता था।

    कबीर खान ने एक इंटरव्यू में बताया था कि टाईगर की कहानी अपने आप में पूरी थी। ऐसे में उसे दोबारा आगे लिखने का मतलब है कोई बेतुकी कहानी लिखना और मैं इसके पक्ष में नहीं हूं।

    वैसे भी मुझे सीक्वल समझ नहीं आते। मुझे लगता है कि एक फिल्म एक कहानी कहने के लिए काफी होती है। वो कहानी उसी से शुरू होकर उसी फिल्म पर खत्म होनी चाहिए।

    सलमान का प्रेशर

    सलमान का प्रेशर

    कबीर खान से पूछा गया कि वो सलमान के साथ बॉलीवुड की सबसे बड़ी फिल्मों में से एक बजरंगी भाईजान दे चुके हैं। क्या ऐसे में सलमान के साथ काम करने में प्रेशर होता है कि उनकी स्टारडम के लिए फिल्म में कुछ अलग करना पड़ेगा?

    सलमान के लायक फिल्म

    सलमान के लायक फिल्म

    कबीर खान ने बताया कि पहली फिल्म टाईगर ज़िंदा है के साथ उन्हें ऐसा करना पड़ा। वो इंडस्ट्री में बाहरी थे इसलिए सलमान के साथ फिल्म करना और यशराज फिल्म्स जैसा प्रोड्यूसर मिलना बड़ी बात थी।

     कुछ चीज़ें नहीं थी पसंद

    कुछ चीज़ें नहीं थी पसंद

    कबीर ने बताया कि एक था टाईगर में कई ऐसी चीज़ें थीं जो उन्हें फिल्म में नहीं करना था पर उन्होंने की। उनका इशारा माशाल्लाह गाने की तरफ था जो फिल्म में अलग से रखा गया था। वहीं सलमान और कैटरीना का लव एंगल भी इसमें शामिल था।

    हाथ से छूट गई फिल्म

    हाथ से छूट गई फिल्म

    कबीर ने बताया कि भले ही उन्होंने वो सब एडजस्टमेंट कर दिए जो सलमान खान की फिल्म के हिसाब से उस फिल्म में होने चाहिए थी लेकिन ये सब करते करते उन्हें पता ही नहीं चला कि फिल्म कब उनके हाथ से छूट गई।

    पसंद ही नहीं आई

    पसंद ही नहीं आई

    कबीर खान ने स्पष्ट और दो टूक बात बताई कि भले ही एक था टाईगर ब्लॉकबस्टर थी और 100 करोड़ क्लब में फटाफट शामिल हो गई लेकिन फिर भी उन्हें अपनी ये फिल्म बिल्कुल पसंद नहीं है।

     अगली फिल्म में नहीं की गलती

    अगली फिल्म में नहीं की गलती

    यही कारण है कि बजरंगी भाईजान में कबीर ने बिल्कुल गलती नहीं की। उन्होंने बताया कि फिल्म वैसे ही बनाई जैसे उन्हें बनानी थी। किसी की नहीं सुनी और ऐसा कोई काम नहीं किया जो उन्हें सही नहीं लग रहा था।

    समझ नहीं आता था बिज़नेस

    समझ नहीं आता था बिज़नेस

    कबीर ने बताया कि शुरू में उन्हें ये बिज़नेस समझ ही नहीं आता था। एक होती थी फ्राइडे के पहले वाली फिल्म जो प्रमोशन वगैरह करके शुक्रवार को रिलीज़ से पहले ही बेच दी जाती थी और एक होती थी फ्राइडे के बाद वाली फिल्म जो Word Of Mouth पर चलती थी।

     प्रोड्यूसर नहीं मिलता था

    प्रोड्यूसर नहीं मिलता था

    कबीर ने बताया कि सबसे मुश्किल था अपनी फिल्मों के लिए प्रोड्यूसर ढूंढना। लोग मुझे डॉक्यूमेंट्री बनाने वाला ही समझते थे और उन्हें लगता था कि मैं फिल्म नहीं बना सकता।

    अर्जुन को लाओ

    अर्जुन को लाओ

    एक प्रोड्यूसर ने तो यहां तक कह दिया था कि अर्जुन रामपाल को ले लो तो फिल्म चल जाएगी। कबीर खान ने बताया कि मेरे पास उनके पीए का नंबर भी नहीं था तो मैं अर्जुन रामपाल से कैसे मिल पाता। आज भी मेरे पास उनका नंबर नहीं है।

     नही की कोई गलती

    नही की कोई गलती

    फैंटम बनाने की बात पर उन्होंने कहा कि कोई फिल्म बनाने का मलाल नहीं है क्योंकि वही बनाई है जो बनाना चाहता था।

    English summary
    Kabir Khan takes a U Turn for Ek Tha Tiger Sequel.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X