»   » किंग खान शाहरूख खान..ना कोई था ना कोई और हो सकता है..सबसे जुदा!

किंग खान शाहरूख खान..ना कोई था ना कोई और हो सकता है..सबसे जुदा!

Posted By: Shweta
Subscribe to Filmibeat Hindi

लंबे अरसे बाद शाहरूख की कोई ऐसी फिल्म पर्दे पर आ रही है जिसमें शाहरूख खान अपने रियल अवतार में लग रहे हैं। मतलब साफ है पिछले काफी समय से वो दिलवाले, चेन्नई एक्सप्रेस, हैप्पी न्यू ईयर जैसी हल्की फुल्की फिल्में कर रहे थे।

इस शुक्रवार को शाहरूख अपने पुराने अंदाज में नजर आएंगे जिसका उनके फैन्स लंबे समय से इंतजार कर रहे थे। एक ऐसी फिल्म जिसमें शाहरूख की एक्टिंग और उनका पुराना अंदाज दिखे।

[तीन खान..एक एक्ट्रेस..बाकियों का हुआ काम तमाम!]

फैन के ट्रेलर ने तो किसी भी रूप में दर्शकों को निराश नहीं किया है बल्कि ट्रेलर के आने के बाद से उनका फिल्म के लिए इंतजार करना मुश्किल हो रहा है। शाहरूख खान मतलब सिर्फ एक नाम नहीं बल्कि बादशाह, रोमांस का। परदे पर शाहरूख ने जो किया वो शायद ही किसी ने किया है और शायद ही शायद कोई दोबारा कर पाए।

टैलेंट के नाम पर अगर रोमांस को किसी ने परदे पर शिद्दत से उतारा है तो वो शाहरूख खान हैं। और इस काम में कोई उनके आस पास भी नहीं टिक सकता । हमने ढूंढने की कोशिश की वो कारण जिससे बॉलीवुड में शाहरूख की जगह कोई क्यों नहीं ले सकता। आप भी जानिए।

नो गॉडफादर!

नो गॉडफादर!

उनके पास कोई गॉडफादर नहीं था। जब शाहरूख ने इंडस्ट्री में कदम रखा तो उनके पास कोई सिफारिश नहीं थी। उन्होंने अपने दम पर अपनी सफलता की कहानी लिखी। पहले छोटे परदे पर कदम जाए फिर निगेटिव किरदार निभाए। शाहरूख ने हर तरह से खुद को साबित

 कॉन्फिडेंस के बादशाह

कॉन्फिडेंस के बादशाह

ऐसा नहीं है कि शाहरूख इस इंडस्ट्री के सबसे उम्दा कलाकार है पर वो जो भी करते हैं उसमें वो बेहतरीन हैं। वो ऋतिक की तरह डांस नहीं कर सकते, सलमान की तरह मासूम नहीं लग सकते पर उनके जैसा रोमांस कोई नहीं कर सकता।

फैमिली पहले..बाकी बाद में

फैमिली पहले..बाकी बाद में

हमेशा से पारिवारिक इंसान हैं। उन्होंने इंडस्ट्री में आते ही शादी कर ली। इसके बाद परदे पर रोमांस को इबादत की तरह उतारा। लेकिन इस कड़ी में उनका परिवार और पत्नी कहीं पीछे नहीं छूटी।

 खुशमिज़ाज़

खुशमिज़ाज़

शाहरूख कभी अपनी सफलता में झूमते नहीं दिखते। जहां जिसको जितना क्रेडिट देना चाहिए उन्होंने दिया। यहूी खुशमिज़ाज़ी उनके काम करने के अंदाज़ में भी दिखती है।

स्टेज परफॉर्मर

स्टेज परफॉर्मर

शाहरूख एक शानदार कलाकार हैं और उनके अंदर दर्शकों को बांधने की कला है। यही खूबी उन्हें सबसे अलग खड़ा कर देती है। वो हर इंसान से जुड़ना जानते

एटीट्यूड

एटीट्यूड

शाहरूख को जब जहां एटीट्यूड दिखाना चाहिए उन्होंने खुलकर दिखाया और इसीलिए उन्हें फैन्स ने सर आंखों पर बिठाया। उन्होंने बस अपना काम किया और जहां प्रतिक्रिया देनी चाहिए वहां दी। चाहे वानखेड़े स्टेडियम या बेटे अबराम का जन्म।

दिल से...

दिल से...

शाहरूख हर रोल को दिल से करते हैं और शायद यही कारण है कि वो परदे पर राज, राहुल, रोहन, सूरी ही लगे कभी शाहरूख दिखे ही नहीं। यह काबिलियत कम ही एक्टर्स में दिखती है।

सेंस ऑफ ह्युमर

सेंस ऑफ ह्युमर

शाहरूख खान का सेंस ऑफ ह्युमर और प्रजेंस ऑफ माइंड गजब का है। इस मामले में फिल्म इंडस्ट्री तो क्या भारत में बहुत कम लोग आते हैं। आप शाहरूख के इंटरव्यू और बयान पर ध्यान दें तो समझ जाएंगे।

दोस्तों के दोस्त..

दोस्तों के दोस्त..

शाहरूख खान ऐसे दोस्त हैं जो दोस्तों के लिए कुछ भी करते हैं। यही उन्होंने फराह खान के साथ किया भी जिसके लिए इंडस्ट्री ने उन्हें माफ भी कर दिया। काजोल से लेकर करन जौहर तक उनकी दोस्ती हमेशा दिल से निभी है।

 रोमांस

रोमांस

इसके बिना तो यह लिस्ट अधूरी है। शाहरूख ने रोमांस को जैसा जिया है वैसा कोई नहीं कर सकता। एक तरह से कहा जाए तो इस देश की कई पीढ़ियों के लिए रोमांस मतलब है कुछ कुछ होता है या दिल तो पागल है। अब इतनी सारी खूबियां किसी एक इंसान में तो नहीं मिल सकती और न ही मिल सकता है शाहरूख जैसा एक्टर

English summary
Shahrukh Khan is an actor who is masterpiece in himself, no one can ever replace Shahrukh Khan beacuse of these reasons.
Please Wait while comments are loading...