For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    अगर अच्छी पत्नी हो तो यहां बैठी रहोगी - अमिताभ बच्चन की बात सुनकर दनदनाती हुई बाहर निकल गईं जया बच्चन

    |

    अमिताभ बच्चन और जया बच्चन, 3 जून को अपनी शादी की 48वीं सालगिरह मना रहे हैं और ज़ाहिर सी बात है कि इतना लंबा साथ हो तो किस्से कहानियों का पूरा पिटारा होगा। ऐसा ही एक किस्सा है जया बच्चन के गुस्से का। जया बच्चन दो टूक बातें करती हैं जो अच्छा लगता है वो भी बताती हैं और जो बुरा है वो भी।

    ऐसे में अमिताभ बच्चन से एक इंटरव्यू में पूछा गया कि क्या जया बच्चन कभी उनकी कोई फिल्म आधी छोड़कर गई हैं। तो अमिताभ बच्चन का जवाब था हां।

    अमिताभ बच्चन ने बताया कि उनकी फिल्म मृत्युदाता के प्रीमियर के लिए जया बच्चन उनके साथ गई थीं। लेकिन शायद जया को वो फिल्म पसंद नहीं आई। अमिताभ बच्चन बताते हैं, "मैंने ये तक कहा कि अगर तुम फिल्म के अंत तक बैठी रहोगी तो मैं मान लूंगा कि तुम अच्छी वफादार पत्नी हो।

    जया बच्चन फिर भी नहीं रूकी और फिल्म को बीच में ही छोड़कर बाहर आ गईं। अब इसे कहते हैं सच्चा साथी। वैसे जया बच्चन अमिताभ बच्चन ही नहीं, बेटे अभिषेक बच्चन की फिल्म हैप्पी न्यू ईयर को भी Nonsense कह चुकी हैं।

    खोला Love Letters का राज़

    खोला Love Letters का राज़

    अमिताभ बच्चन ने कौन बनेगा करोड़पति के एक एपिसोड में बेहिचक बताया कि उन्होंने जया बच्चन को ढेरों प्रेम पत्र लिखे हैं और अभी भी लिखते रहते हैं। ऐसा हर किसी को करना चाहिए। इतना ही नहीं अमिताभ बच्चन ने बताया कि कैसे उन्होंने अचानक जया बच्चन को शादी के लिए प्रपोज़ कर दिया था।

    पहली हिट फिल्म की साथी

    पहली हिट फिल्म की साथी

    दरअसल, अमिताभ बच्चन अपनी फिल्म ज़ंजीर के हिट होने का जश्न मनाने के लिए दोस्तों के साथ विदेश जाना चाहते थे लेकिन हरिवंश राय बच्चन ने साफ कर दिया कि जब तक अमिताभ बच्चन, जया बच्चन से शादी नहीं कर लेते, वो विदेश नहीं जा सकते।

    रातों रात सज गया मंडप

    रातों रात सज गया मंडप

    फिर क्या..एक बेहद सादे समारोह में 3 जून, 1973 को अमिताभ और जया भादुड़ी की शादी हो गई थी और आज भी दोनों के बीच का प्यार बरकरार है। रातों रात मंडप सजाया गया और अमिताभ बच्चन ने जया बच्चन के साथ सात फेरे ले लिए।

    प्रेम कहानी की शुरूआत

    प्रेम कहानी की शुरूआत

    जया और बिग बी की मुलाकात तब हुई जब जया पुणे में पढ़ाई कर रही थी। उसी दौरान अमिताभ बच्चन यहां अपनी पहली फिल्‍म 'सात हिंदुस्तानी' (1969) के लिए आए थे। जया बच्‍चन उन्हें पहचानती थीं।

    अमित जी में क्या पसंद आया?

    अमित जी में क्या पसंद आया?

    उस समय जया की सहेलियां अमिताभ को लंबू लंबू कहकर चिढ़ाने लगी थीं। लेकिन जया ने उन्हें संजीदगी से लिया। उनके मन में उस समय अमिताभ बच्चन की छवि, हरिवंशराय बच्चन के संस्कारी और सादगी पसंद बेटे की थी।

    फिल्म गई पर साथी मिली

    फिल्म गई पर साथी मिली

    ऋषिकेश मुखर्जी ने अपनी फिल्म 'गुड्डी' के लिए पहले जया के साथ अमिताभ बच्चन को कास्ट किया था। बाद में अमिताभ बच्चन को इस फिल्‍म में नहीं लिया गया। ऐसा कहा जाता है कि इसी कारण से जया के मन में अमिताभ के लिए फीलिंग आई थी।

    साथ में पहली फिल्म

    साथ में पहली फिल्म

    ऋषिकेश मुखर्जी ने अपनी फिल्म 'गुड्डी' के सेट पर जया और अमिताभ की मुलाकात कराई थी। इसके बाद 1973 में अमिताभ बच्चन और जया साथ-साथ 'जंजीर' फिल्म में नजर आए। इसके बाद दोनों कई फिल्मों में साथ नज़र आए।

    हर उतार चढ़ाव किया पार

    हर उतार चढ़ाव किया पार

    इतने सालों के सफर में अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की ज़िंदगी में ढेरों उतार चढ़ाव आए हैं। लेकिन उनकी शादी और उनका रिश्ता समय के हर इम्तिहान को पार करता गया।

    ज़ंजीर से की एंड का तक

    ज़ंजीर से की एंड का तक

    वहीं अमिताभ बच्चन और जया बच्चन की जोड़ी, बॉलीवुड की बेस्ट ऑन स्क्रीन जोड़ियों में से एक रही है। दोनों ने साथ में ढेरों फिल्में की और दर्शकों को उनकी केमिस्ट्री बेहद पसंद थी।

    English summary
    Amitabh Bachchan once told Jaya to keep sitting annd he will believe she is a loyal wife. Jaya Bachchan still barged out of the place. Know where did this incident happen.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X