For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    43 साल पहले.. बस कंडक्टर..कुली से बने ब्लॉकबस्टर स्टार.. लोगों ने माना 'थलाइवा'

    By Utkarsh
    |
    Rajnikanth Birthday Special: Journey from bus conductor to most stylish superstar | FilmiBeat

    भारतीय फिल्म इंडस्ट्री ने एक से बढ़कर एक बेमिसाल एक्टर्स देखे हैं। वहीं आज हम जिसकी बात कर रहे हैं वो ऐसे सुपरस्टार हैं जिन्हें लोग भगवान मानते हैं, यहां तक कि उनके मंदिर तक बने हुए हैं। हम बात कर रहे हैं फिल्म इंडस्ट्री के 'थलाइवा' रजनीकांत की। आज यानी 12 दिसंबर को रजनीकांत 66वां जन्मदिन मना रहे हैं।

    ['बाहुबली' आए और सारे 'KHAN' धरे रह गए.. सिर्फ अजय देवगन टिके.. ROUND UP]

    रजनीकांत के सुपरस्टार बनने तक का सफर भी काफी फिल्मी है। थलापति, अन्नामलाई, बाशा और पदायाप्पा जैसी फिल्मों ने उन्हें सुपरस्टार बना दिया लेकिन इसके पहले इतनी बड़ी कामयाबी के बारे में रजनीकांत को भी नहीं अंदाजा था। रजनीकांत एक समय पर कुली, बस कंडक्टर और कारपेंटर का काम करके किसी तरह अपना और परिवार का खर्चा चलते थे।

    रजनीकांत ने अपना फिल्मी सफर 1975 में आई फिल्म अपूर्वा रागांगल से शुरू किया था। जिसके बाद उन्होंने फिर कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। आगे जानें रजनीकांत की इतने बड़े सुपरस्टार बनने के रियल लाइफ कहानी और देखें उनकी ऐसी तस्वीरें जो पहले शायद ही आपने देखी हों-

    ऐसे बने आइकन

    ऐसे बने आइकन

    थलापति, अन्नामलाई, बाशा और पदायाप्पा जैसी फिल्मों के बाद वह सिर्फ एक्टर नहीं रहे, आइकन बन गए। उनकी फिल्मों को छह साल के बच्चों से लेकर 60 साल तक के बुजुर्गों तक सभी ने इंज्वॉय किया।

    ऐसी शख्सियत

    ऐसी शख्सियत

    उनकी मौजूदगी, उनकी आवाज, उनका अहसास, उनकी एक तस्वीर भी फैंस की भीड़ इकट्ठा करने के लिए काफी है।

    त्योहार मनाते हैं लोग

    त्योहार मनाते हैं लोग

    उनकी फिल्में रिलीज होती हैं, तो लोगों के लिए त्योहार जैसा माहौल हो जाता है। उनकी तस्वीरों को दूध से नहलाया जाता है। उनकी आरती उतारी जाती है। उनकी फिल्में इतनी भीड़ जुटा लेती हैं कि फिल्म रिलीज के दिन को हॉलीडे डिक्लेयर कर दिया जाता है।

    भगवान

    भगवान

    कुछ लोग उन्हें सुपरस्टार कहते हैं और कुछ भगवान ही मानते हैं। हालांकि सीधे और सरल शब्दों में वो सिर्फ रजनीकांत हैं।

    ये है असली नाम

    ये है असली नाम

    असली नाम शिवाजी राव गायकवाड़ है। उनकी इमेज बेशक भगवान और सुपरमैन जैसी है, लेकिन असली कहानी इस परीकथा से एकदम उलट है।

    कुछ ऐसी थी जिंदगी

    कुछ ऐसी थी जिंदगी

    मराठी फैमिली में जन्मे रजनीकांत चार भाई-बहनों में रजनीकांत सबसे छोटे हैं। वह काफी छोटे थे, जब उनकी मां का निधन हो गया। उनके घर की हालत अच्छी नहीं थी, इसलिए उन्हें कई छोटे-मोटे काम करने पड़े।

    ऐसे शुरू किया सफर

    ऐसे शुरू किया सफर

    उन्होंने कन्नड़ रंगमंच में भी काम शुरू किया। 1973 में वह मद्रास फिल्म इंस्टीट्यूट से जुड़े। 1975 में रजनीकांत और के। बालंचद्र से मुलाकात हुई। तब बालचंद्र ने उन्हें एक छोटा रोल ऑफर किया।

    ऐसे मिली पहचान

    ऐसे मिली पहचान

    उन्हें पहली सफलता मिली फिल्म भैरवी से, इसमें वह मुख्य भूमिका में थे। इसके बाद वो समय भी आया जब रजनीकांत के बारे में के. बालचंद्र ने कहा- वो मुझे अपना स्कूल मानता है, लेकिन मैं कहूंगा कि इस रजनीकांत को मैंने नहीं बनाया, उसने खुद समय के साथ अपने हुनर को निखारा है।

    पद्मभूषण

    पद्मभूषण

    2000 में उन्हें पद्मभूषण पुरस्कार से नवाजा गया. इसके बाद साल 2007 में उनकी फिल्म शिवाजी आई और साल 2010 में रोबोट, दोनों ही फिल्में ब्लॉकबस्टर हिट रहीं।

    आने वाली फिल्म

    आने वाली फिल्म

    वहीं साल 2018 में रजनीकांत अक्षय कुमार के साथ फिल्म 2.0 में नजर आएंगे। इस फिल्म में उनका फर्स्ट लुक आउट हो चुका है।

    English summary
    superstar rajinikanth 66th birthday know interesting facts..know everything here
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X