For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    सांवले रंग की वजह से इन एक्ट्रेस को सुनने पड़े 'काली' के ताने, धोना पड़ा फिल्मों से हाथ

    |

    हाल में ही शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान की रंगभेद पर एक पोस्ट काफी चर्चा में रही थी। जिसके बाद बॉलीवुड स्टार्स व फैंस ने उन्हें काफी सपोर्ट किया और उनकी बातों से सहमति जताई। दरअसल सुहाना खान ने लिखा था कि उनका स्किन कलर ब्राउन है और उन्हें इस पर नाज है। सुहाना ने उन युवा और युवतियों का हौसला अफजाई किया था जो इस हीन भावना से गुजरे हैं। उन्होंने कहा कि जब मैं 12 साल की तब मुझे विकसित महिलाओं और पुरुषों ने मेरे स्किन टोन की वजह से मुझे बदसूरत कहा। हम सभी भारतीय हैं और हमारा स्किन कलर ब्राउन हैं।

    महीने भर बाद जेल से रिहा हुईं रिया चक्रवर्ती, सुरक्षा सख्त-VIDEO

    सुहाना खान के इस जबरदस्त पोस्ट पर चित्रांगदा से लेकर दूसरे स्टार्स ने सहमति जताई। लेकिन बॉलीवुड में दूसरी बड़ी एक्ट्रेस भी हैं जिन्हें रंगभेद सहन करना पड़ा। प्रियंका चोपड़ा, राधिका आप्टे से लेकर बिपाशा बसु ऐसे एक्ट्रेस हैं जिन्होंने रंगभेद को न केवल सहा बल्कि इसका मुंह तोड़ जवाब भी दिया। आज के समय में हम देखते हैं कि ये हीरोइनों अपना पक्ष मजबूती से रखती हैं और इस विषय के बारे में लोगों को भी समझाती नजर आई हैं। आइए बताते हैं कौन सी एक्ट्रेस हैं जिन्होंने इस भद्दी सोच को फेस किया।

    प्रियंका चोपड़ा

    प्रियंका चोपड़ा

    एक समय था जब प्रियंका चोपड़ा को सांवले रंग की वजह से रंगभेद का शिकार होना पड़ा था। एक बार खुद प्रियंका ने बताया था कि मुझे एक रोल देने से सिर्फ मेरे ब्राउन रंग की वजह से मना कर दिया गया था। उन्होंने इस मसले पर अपनी बात रखते हुए दूसरे लोगों को ये कहकर जागरुक किया कि आप अपने काम से इतना साबित कर दें कि सामने वाला आपके साथ टेबल पर बैठने के लिए राजी हो जाए।

    इसके अलावा प्रियंका ने ये भी बताया था कि सिर्फ भारत में नहीं अमेरिका में भी उन्हें ये फेस करने को मिला था। उन्होंने बताया था कि जब वह 12 साल की थी और अमेरिका पढ़ने गई थी तो लोगों ने उन्हें ब्राउनी कहकर बुलाते थे। नस्लभेद पर बात करते हुए प्रियंका ने कहा था कि भारतीय का मजाक उड़ाया जाता था इसीलिए उन्होंने अमेरिका में पढ़ाई छोड़कर भारत लौट आई थीं।

    बिपासा बसु

    बिपासा बसु

    एक्ट्रेस बिपाशा ने भी बचपन से लेकर बड़े होने तक अपने सांवले रंग को लेकर कई बार ताने सुने हैं। सोशल मीडिया से लेकर इंटरव्यू तक बिपाशा इस भद्दे अनुभव के बारे में साझा कर चुकी हैं। बिपाशा बताती हैं कि जब वह छोटी थीं तो भी उनके काले व सांवले रंग को लेकर बातें बनाई जाती थीं। उन्होंने कहा कि लोग क्यों इस बारे में चर्चा करते थे। उन्होंने कहा कि जब वह 15 साल की उम्र में सुपरमॉडल कॉन्टेस्ट जीतीं तो अखबारों के पन्नों पर ये लिखा गया कि सावंली लड़की विनर बनी। बिपाशा कहती हैं कि वह समझ नहीं पाई हैं कि आखिर क्यों उनके नाम के साथ इस तरह की उपमाएं लगाई जाती रहीं। बिपाशा ने बताया कि जब वह इंडस्ट्री में अजनबी फिल्म से डेब्यू कर रही थीं तो भी लोगों ने सांवली रंग से उनका विश्षेलण किया। वह कहती थीं कि मेरे ऊपर छपने वाली स्टोरी में मेरे काम से ज्यादा रंग पर बात की जाती थी।

    राधिका आप्टे

    राधिका आप्टे

    आज बेशक राधिका आप्टे ने इंटरनेशनल पहचान बना ली हो लेकिन एक समय था जब वह ब्राउन रंग की वजह से निराश हुईं। इंडस्ट्री के लोगों ने सावंले रंग को लेकर उन्हें ताने तक मारे और कुछ लोगों ने कहा कि वह इस रंग के साथ एक्ट्रेस नहीं बन पाएंगी। लेकिन राधिका को अपने हुनर पर विश्वास था और उन्होंने काम के जरिए अपनी पहचान बनाई।

    नंदिता दास

    नंदिता दास

    फायर फिल्म के लिए नंदिता को भूलाए नहीं भूला सकता है लेकिन नंदिता खुद बताती हैं कि उन्हें रंग की वजह से कई फिल्मों व प्रोजेक्ट से हाथ धोना पड़ा था। नंदिता ने एक बार इंटरव्यू में कहा था कि हम खुद ही इसे बढ़ावा देते हैं। फिल्मों से लेकर गानों तक में हम खूबसूरती और गोरे रंग को बढ़िया बताते हैं। उन्होंने कहा था कि गाने भी गोरे रंग पर बनते हैं।

    English summary
    Suhana Khan to Priyanka Chopra Bollywood celebrities who faced colourism read their statement
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X