For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    शाहरूख खान - गौरी खान की एनिवर्सरी- 5 साल धर्म बदल कर रहे शाहरूख, कुर्ता फाड़ कर गाते ये गाना

    |

    शाहरूख खान और गौरी खान आज अपनी शादी की 29वीं सालगिरह मना रहे हैं। इस मौके पर फैन्स इस पावर कपल को लगातार बधाईयां दे रहे हैं। लेकिन शाहरूख और गौरी की प्रेम कहानी भी आसान नहीं थी और दोनों ने भी अपने प्यार को अंजाम देने के लिए काफी उतार चढ़ाव का सामना किया।

    शाहरूख खान और गौरी खान के मुस्लिम और हिंदू धर्म भी उनके एक होने में काफी बड़ी समस्या थे। ये समस्या ऐसी थी कि शाहरूख खान, गौरी के परिवार के सामने पांच साल तक हिंदू होने का झूठ बोलते रहे और हिंदू होने का नाटक भी करते रहे।

    आखिरकार शाहरूख खान भांडा फूट गया और गौरी के परिवार को उनकी शादी के लिए राज़ी होना पड़ा। बात करें अगर दोनों की प्रेम कहानी की तो दोनों की मुलाकात हुई थी 1984 में एक पार्टी के दौरान। उस समय शाहरुख थे 18 साल के और गौरी थीं 14 साल की।

    नाम बदलकर रखा आएशा

    नाम बदलकर रखा आएशा

    एक पुराने इंटरव्यू में शाहरूख खान ने बताया कि उनके रिसेप्शन पर गौरी के सभी घरवालों को यही लग रहा था कि ये लड़का तो मुस्लिम है, गौरी इसके साथ कैसे रहेगी। क्या उसे अपना धर्म बदलना पड़ेगा? सब शाहरूख को जज कर रहे थे। चूंकि सब पंजाबी में ही बात कर रहे थे, शाहरूख को भी लगा कि अब उन्हें बीच में बोलना ही पड़ेगा।

    अपना बुरखा पहनो

    अपना बुरखा पहनो

    शाहरूख खान ने सभी रिश्तेदारों के सामने कहा, गौरी चलो अपना बुरखा पहनो। नमाज़ करने का वक्त हो गया है। इसके बाद शाहरूख ने गौरी के रिश्तेदारों को कहा कि अब से ये ऐसे ही रहेगी, बुरखा पहन कर। और इसका नाम आएशा होगा।

    सब थे परेशान

    सब थे परेशान

    गौरी के घरवाले भी परेशान हो गए कि कहीं शाहरूख खान ने सच में तो गौरी का नाम बदलकर आएशा नहीं कर दिया। और कहीं वाकई गौरी को अपना धर्म तो नहीं बदलना पड़ा। लेकिन फिर बाद में समझ आया कि शाहरूख मज़ाक कर रहे हैं।

    ऊब चुकी हैं गौरी

    ऊब चुकी हैं गौरी

    एक इंटरव्यू में ही शाहरूख से पूछा गया कि अगर गौरी किसी दिन सुबह उठें और कह दें कि मैं तुम्हें छोड़ रही हूं और मैं तुमसे ऊब चुकी हूं तो आप क्या करेंगे। इस पर शाहरूख खान ने बड़े मज़ाकिया अंदाज़ में जवाब दिया कि एक दिन नहीं, गौरी तो ऐसा रोज़ कहती हैं।

    अगर सच में छोड़ा तो

    अगर सच में छोड़ा तो

    हालांकि शाहरूख ने आगे कहा, अगर गौरी किसी दिन सच में उन्हें छोड़ कर चली गईं तो मैं शर्ट फाड़ कर सड़क पर खड़े होकर ओ गोरी गोरी ओ बांकी छोरी, कभी मेरी गली आया करो गाऊंगा। मुझे यकीन है कि ये गाना सुनकर वो ज़रूर मेरे पास वापस आ जाएगी।

    घर में धर्म पर बोलीं गौरी

    घर में धर्म पर बोलीं गौरी

    गौरी खान ने भी एक इंटरव्यू में बताया कि चूंकि शाहरूख खान के माता पिता दोनों ही नहीं थे, इसलिए उन्हें घर में धर्म को लेकर ज़्यादा दिक्कतें नहीं हुईं। क्योंकि अकसर घर के बड़े ही इस तरह के रीति रिवाज़ों का पालन कर पाते हैं और बच्चों से करवा पाते हैं।

    मेरे बच्चों पर हिंदू प्रभाव

    मेरे बच्चों पर हिंदू प्रभाव

    गौरी ने बताया कि वो शाहरूख खान के धर्म की पूरी इज़्जत करती हैं लेकिन अपना धर्म कभी नहीं छोड़ सकती हैं। इसलिए उनके घर पर ईद भी मनती है और दीवाली भी। हालांकि उनके बच्चों पर हिंदू धर्म का ज़्यादा प्रभाव है।

    आर्यन कहता है मुस्लिम है

    आर्यन कहता है मुस्लिम है

    एक इंटरव्यू में गौरी ने ये भी बताया कि चूंकि उनका बेटा आर्यन, शाहरूख के ज़्यादा करीब है इसलिए वो मुस्लिम धर्म की तरफ ज़्यादा झुका हुआ है। वो अपनी नानी को भी यही बताता है कि मैं एक मुस्लिम हूं।

    25 अक्टूबर, 1991 को शादी

    25 अक्टूबर, 1991 को शादी

    फाइनली इन दोनों ने 25 अक्टूबर को 1991 में शादी कर ली। जिसके बाद 1997 में आर्यन का जन्म हुआ, सुहाना का जन्म 2000 में हुआ और बाद में सेरोगेसी की मदद से अबराम इनकी ज़िंदगी में आया।

    शादी मुबारक!

    शादी मुबारक!

    हमारी तरफ से भी इस प्यारे से कपल को शादी की सालगिरह की ढेर सारी शुभकामनाएं। शाहरूख खान - गौरी खान एक पावर कपल है और उनका साथ हमेशा यूं ही बना रहे।

    English summary
    Shahrukh Khan disguised as a Hindu for five years in front of Gauri Khan's family. The couple is celebrating 29th wedding annniversary.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X