For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    मैं लड़ाई के बाद मुंबई छोड़ रहा था, संजू ने कहा, तुझे कोई छू भी नहीं सकता - शाहरूख खान

    |

    खबरों की मानें तो शाहरूख खान और संजय दत्त, अपने करियर में पहली बार मेन लीड के तौर पर एक फिल्म में काम करने जा रहे हैं जिसका नाम है राखी और ये खबर सुनने के बाद दर्शक शाहरूख खान और संजय दत्त की केमिस्ट्री परदे पर देखने के लिए काफी उत्साहित हैं। क्योंकि इनकी ऑफ स्क्रीन केमिस्ट्री शानदार है जो फैन्स कौन बनेगा करोड़पति की एक पुरानी क्लिप में देख चुके हैं।

    जब शाहरूख खान कौन बनेगा करोड़पति, होस्ट करते थे तो वहां अपनी फिल्म प्रमोट करने संजय दत्त पहुंचे थे। शाहरूख खान ने बताया कि संजय वो इंसान हैं जो तब उनके साथ थे जब इस इंडस्ट्री में उनका कोई सगा नहीं था।

    शाहरूख खान ने फैन्स को अपनी ज़िंदगी के संघर्ष के दिनों का एक छोटा सा किस्सा बताया। उस दौरान, शाहरूख खान का किसी से बहुत बड़ा झगड़ा हो गया था और शाहरूख खान परेशान होकर मुंबई छोड़ कर जा रहे थे। वो परेशान थे क्योंकि दिल्ली में भी उनका साथ देने वाला कोई नहीं था। उनके माता पिता इस दुनिया में नहीं थे। ऐसे में एक इंसान था जो मज़बूत स्तंभ की तरह शाहरूख खान के साथ खड़ा हुआ। वो नाम था संजय दत्त।

    डंट कर खड़े रहे संजय दत्त

    डंट कर खड़े रहे संजय दत्त

    जब संजय दत्त को शाहरूख खान की परेशानी का पता चला तो उन्होंने बेझिझक अपनी जीप उठाई और शाहरूख खान के पास पहुंच गए। संजय दत्त ने शाहरूख खान को वादा किया कि उन्हें कोई नुकसान नहीं पहुंचा सकता और वो शाहरूख के बड़े भाई जैसे हैं। शाहरूख खान ने बताया, संजय दत्त आए और उन्होंने कहा, "कोई तुझे छू भी नहीं सकता शाहरूख"

    हमेशा के लिए पक्की हुई दोस्ती

    हमेशा के लिए पक्की हुई दोस्ती

    संजय दत्त की इस दरियादिली को देख कर शाहरूख खान उनके आभारी हो गए और उनकी दोस्ती ज़िंदगी भर के लिए पक्की हो गई। हालांकि, शाहरूख खान को ये किस्सा याद था पर संजय दत्त को ये किस्सा याद दिलाना पड़ा था। शाहरूख खान ने ये भी बताया कि अगर उस दिन संजय दत्त उनका साथ ना देते तो वो मुंबई छोड़ कर जा चुके होते।

    संजय दत्त ने भी सुनाई कहानी

    संजय दत्त ने भी सुनाई कहानी

    हालांकि, इस कहानी को याद रखना, संजय दत्त ने शाहरूख खान का बड़प्पन बताया। उन्होंने कहा, वो किस्सा मुझे इतना याद नहीं है लेकिन हां, शाहरूख नया था तब और मैं गया था वहां, उसके पास। मैंने शाहरूख को ये बोला था कि तुझे ज़िंदगी में कुछ भी चाहिए हो तो मैं रहूंगा तेरे पास।

    शाहरूख खान तारीफ करते नहीं थके

    शाहरूख खान तारीफ करते नहीं थके

    कौन बनेगा करोड़पति के इसी एपिसोड में संजय दत्त, शाहरूख खान की तारीफ करते नहीं थके। उन्होंने कहा कि। एक चीज़ जो शाहरूख में बहुत खूबसूरत है कि वो आज तक इस बात को भूला नहीं। हालांकि मैंने ऐसा कुछ किया भी नहीं था। ज़रूरत ही नहीं पड़ी।

    जो चाहिए रख ले

    जो चाहिए रख ले

    संजय दत्त ने इसके साथ ही शाहरूख खान को एहसास दिलाया कि वो अकेले नहीं है। संजय दत्त ने उनसे कहा, "तुझे जो चाहिए रख ले। मेरी गाड़ी चाहिए, रख ले। तू अकेला नहीं है, मैं हूं। तेरी फैमिली हूं मैं, तेरा भाई हूं।" और संजय दत्त का ये अपनापन शाहरूख खान को उनका मुरीद बना गया।

    तीनों खान में सबसे करीबी

    तीनों खान में सबसे करीबी

    संजय दत्त ने आगे कहा, आज तक शाहरूख को वो किस्सा याद है। मुझे वो बेहद इज़्जत देता है और ये एहसास ना भूलता है और ना भूलने देता है कि मैंने उसके लिए क्या किया। गौरतलब है कि एक इंटरव्यू में संजय दत्त ने ये भी बताया था कि तीनों खान में उनके सबसे करीबी, शाहरूख खान ही हैं।

    त्रिमूर्ति की असली कास्ट

    त्रिमूर्ति की असली कास्ट

    दिलचस्प है कि शाहरूख खान, संजय दत्त और जैकी श्रॉफ, सुभाष घई की फिल्म त्रिमूर्ति की असली स्टारकास्ट थे। संजय दत्त ने फिल्म की शूटिंग शुरू कर दी थी लेकिन इस बीच उन्हें जेल की सज़ा सुना दी गई। जिसके बाद संजय दत्त को फिल्म से रिप्लेस करना पड़ गया। वरना त्रिमूर्ति, संजय दत्त और शाहरूख खान की पहली फिल्म होती।

    बंबई बम ब्लास्ट के आरोपों के बाद दिया साथ

    बंबई बम ब्लास्ट के आरोपों के बाद दिया साथ

    जब संजय दत्त पर 1993 बंबई बम ब्लास्ट के बाद आतंकवादी होने तक का ठप्पा लग गया तब पूरी इंडस्ट्री उनके साथ खड़ी दिखाई दी। फिल्म स्टार्स ने उस समय संजय दत्त के पोस्टर के साथ उनकी गिरफ्तारी के खिलाफ प्रदर्शन किया और सड़क पर उतरे। इन स्टार्स में शाहरूख खान भी शामिल थे। ये तस्वीर उसी दौर की है जब संजय दत्त को प्यार से संजू बुलाने वाले स्टार्स इसी नाम के साथ छपे पोस्टर के साथ सड़क पर विरोध में उतरे थे।

    मुन्नाभाई एमबीबीएस

    मुन्नाभाई एमबीबीएस

    सालों बाद जब राजकुमार हिरानी ने शाहरूख खान को मुन्नाभाई एमबीबीएस ऑफर की तो शाहरूख को ये रोल उनके लिए नहीं लगा। लेकिन उनके दिमाग में एक ही नाम आया जो इस रोल के लिए परफेक्ट था - संजय दत्त। शाहरूख ने तुरंत ही राजकुमार हिरानी को संजय दत्त का नाम सुझा दिया।

    साथ में किया था कमाल

    साथ में किया था कमाल

    शाहरूख खान की फिल्म ओम शांति ओम में संजय दत्त, सलमान खान, सैफ अली खान और शाहरूख खान के साथ फिल्म के एक बेहद शानदार गाने में डांस करते दिखाई दिए। दीवानगी नाम के इस गाने में सितारों का जमावड़ा लगा था। अब पहली बार शाहरूख खान और संजय दत्त एक साथ राखी में नज़र आएंगे। इस फिल्म की आधिकारिक घोषणा का दर्शकों को बेसब्री से इंतज़ार है।

    English summary
    Shahrukh Khan in an old clip from Kaun Banega Crorepati told that Sanjay Dutt stood by him when he was about to leave Mumbai after a big fight.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X