»   » बॉलीवुड का नया फंडा..प्यार..इश्क..मोहब्बत है लेकिन कन्फ्यूजन और सिर्फ कन्फ्यूजन!

बॉलीवुड का नया फंडा..प्यार..इश्क..मोहब्बत है लेकिन कन्फ्यूजन और सिर्फ कन्फ्यूजन!

Written By: Shweta
Subscribe to Filmibeat Hindi

आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर की आने वाली फिल्म ओके जानू का ट्रेलर रिलीज हो गया है ट्रेलर से ही साफ पता चल रहा है कि फिल्म में दोनों के बीच प्यार तो होता है लेकिन कमिटमेंट से डर होता है।इसमें कोई शक नहीं है कि आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर दोनों ही ट्रेलर में काफी क्यूट लग रहे हैं।

[प्नेग्नेंट करीना कपूर बीमार..सैफ अली खान की बढ़ी चिंता]

ऐसा लगता है कि ये बॉलीवुड का नया फंडा बन गया है कि प्यार है लेकिन कमिटमेंट से डर दिखाओ और बॉक्स ऑफिस पर छा जाओ। आजकल की यूथ बेस्ड अधिकतर फिल्मों में यही दिखाया जा रहा है और शायद इसलिए लोग देखना पसंद करते हैं क्योंकि ये आजकल के यूथ की सच्चाई  भी है। 

ओके जानू

ओके जानू

ओके जानू का ट्रेलर आने के बाद काफी हद तक पता चल रहा है कि फिल्म में आदित्य रॉय कपूर और श्रद्धा कपूर एक दूसरे से प्यार तो करते हैं लेकिन किसी तरह की कमिटमेंट से बचना चाहते हैं।

बेफिक्रे

बेफिक्रे

इसी शुक्रवार को रिलीज हुई फिल्म बेफिक्रे में भी रणवीर और वाणी पहले से ये सोचते हैं कि उन्हें एक दूसरे के साथ प्यार में नहीं पड़ना और जब समझ आता है कि दोनों एक दूसरे के साथ काफी कंपैटिबल तो एक दूसरे से दूर जाने की कोशिश करते हैं और जी हां दोस्त बनकर रहने की भी।

बार बार देखो

बार बार देखो

बार बार देखो में कमिटमेंट से ज्यादा कन्फ्यूजन सिद्धार्थ मल्होत्रा को शादी को लेकर होता है। वो शादी करने से डरते हैं और इसे दर्शक स्वीकार नहीं कर पाए।

लव आज कल

लव आज कल

लव आजकल में भी सैफ और दीपिका एक दूसरे से प्यार करते हैं लेकिन इसको मानने से डरते हैं।

एक मैं और एक तू

एक मैं और एक तू

एक मैं और एक तू में इमरान खान और करीना कपूर की यही कहानी है और फिल्म खत्म भी कन्फ्यूजन के साथ ही होती है।

तमाशा

तमाशा

हालांकि तमाशा में सिर्फ कमिटमेंट से बचने का डर नहीं था बल्कि और फिल्म की कहानी और भी कई चीजों को समेटे हुए थी। लेकिन रणबीर कपूर अपने प्यार और खुद को लेकर जैसे कन्फ्यूज रहते हैं वो आज के यूथ की सच्चाई भी थी।

सलाम नमस्ते

सलाम नमस्ते

सैफ अली खान और प्रीति जिंटा की फिल्म सलाम नमस्ते की कहानी भी कुछ ऐसी ही है। भले गर्लफ्रेंड प्रेग्नेंट हो जाए लेकिन कमिटमेंट को लेकर आखिरी तक कन्फ्यूज। हालांकि हर फिल्म के आखिर में सभी कन्फ्यूजन खत्म हो ही जाता है।आपने ओम शांति ओम तो देखी होगी कि अंत में सबकुछ ठीक ना हो तो पिक्चर अभी बाकी है Smile

English summary
Movies which shows relationship but without commitment issues.
Please Wait while comments are loading...